EVM security questions raised: 3 person arrested with laptop in strong room Bastar | ईवीएम की सुरक्षा पर सवालः स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप लेकर घुसे तीन युवक गिरफ्तार, दो सुरक्षाकर्मी निलंबित
ईवीएम की सुरक्षा पर सवालः स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप लेकर घुसे तीन युवक गिरफ्तार, दो सुरक्षाकर्मी निलंबित

रायपुर, सात दिसंबर (भाषा): छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर जिले में स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप लेकर प्रवेश करने के मामले में पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। वहीं दो सुरक्षा कर्मियों को निलंबित किया गया है। बस्तर जिले के पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को दूरभाष पर भाषा को बताया कि जिला मुख्यालय जगदलपुर के धरमपुरा स्थित महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज में बनाये गए स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप लेकर प्रवेश करने के मामले में पुलिस ने उमापति तिवारी, विजय मरकाम और एक अन्य युवक को गिरफ्तार किया है।

अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार रात पुलिस को सूचना मिली थी कि तीन युवक स्ट्रांग रूम परिसर में हैं। उनके पास लैपटॉप भी है। सूचना के बाद पुलिस ने तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। युवकों से पूछताछ के दौरान जानकारी मिली है कि वे परिसर के मैदान में कुछ दूरी पर स्थित रिलायंस टावर में मेंटेनेंस का कार्य कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि युवकों से पूछताछ की जा रही है। उनके लैपटॉप को जांच के लिए भेजा गया है। बस्तर जिले के कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी अय्याज तम्बोली ने बताया कि महिला पॉलीटेक्निक परिसर धरमपुरा में प्रथम तल पर स्थापित स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के तीन लेयर हैं। परिसर के मैदान में कुछ दूरी पर स्थित रिलायंस टावर के मेंटेनेंस के लिए रिलायंस के कर्मचारी मेंटेनेंस का कार्य कर रहे थे।

कलेक्टर ने बताया कि कर्मचारी निजी कंपनी मे कार्यरत हैं जिन्हें परिसर में प्रवेश के लिए अधिकृत नहीं किया गया है। बिना अनुमति इन लोगों को परिसर में प्रवेश देकर नियमों का उल्लंघन करने और अपने दायित्व के निर्वहन में लापरवाही बरतने के कारण प्रथम लेयर पर सुरक्षा का कार्य कर रहे दो सुरक्षा कर्मियों आरक्षक इंद्र कुमार पैंकरा और प्रधान आरक्षक केशव साहू को निलंबित किया गया है।

उन्होंने बताया कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा केंद्रीय सुरक्षा बल द्वारा की जा रही है। स्ट्रांग रूम पूरी तरह सुरक्षित है। ईवीएम और वीवीपैट को लैपटॉप से दूर बैठकर टेम्पर करना संभव नहीं है। स्ट्रांग रूम भवन परिसर में किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति द्वारा प्रवेश नहीं किया गया है।

इस घटना को लेकर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि धमतरी, रायपुर, बेमेतरा के बाद अब बस्तर की यह घटना स्पष्ट रूप से राज्य में कांग्रेस के द्वारा निर्वाचन प्रक्रिया की निष्पक्षता को लेकर व्यक्त की जा रही चिंताओं के सही होने का जीता जागता सबूत है।

तीन बार स्ट्रांग रूम में लैपटॉप लेकर घुसने की कोशिश सीधे-सीधे ईवीएम मशीनों से छेड़छाड़ की साजिश का सबूत है। त्रिवेदी ने कहा कि अब समय आ गया है कि निष्पक्ष निर्वाचन सुनिश्चित करने के लिए छत्तीसगढ़ में और गंभीरता से आवश्यक कदम उठाए जाए।

छत्तीसगढ़ में 90 सीटों के लिए दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को मतदान कराया गया था। इस महीने की 11 तारीख को मतों की गिनती होगी।


Web Title: EVM security questions raised: 3 person arrested with laptop in strong room Bastar
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे