Donald Trump did not mention Gandhi in the visitor's book, people shared the message of Barack Obama on Twitter | विजिटर बुक में गांधी का उल्लेख नहीं किया डोनाल्ड ट्रंप ने, ट्विटर पर लोगों ने बराक ओबामा के संदेश शेयर किया
गांधी ने मुंबई के मणि भवन में काफी समय तक निवास किया था।

Highlights‘‘मेरे अच्छे मित्र प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, इस शानदार यात्रा के लिये आपको धन्यवाद।’’ओबामा ने 2010 में दक्षिण मुंबई में मणि भवन का दौरा किया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा महात्मा गांधी का उल्लेख किये बिना साबरमती आश्रम में आगंतुक पुस्तिका में संदेश लिखे जाने पर ट्विटर पर कई लोगों ने हैरानी जताई है।

ट्रंप ने आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘‘मेरे अच्छे मित्र प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, इस शानदार यात्रा के लिये आपको धन्यवाद।’’ भारत की अपनी पहली यात्रा के लिए सोमवार को अहमदाबाद पहुंचे ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया के साथ आश्रम गये। ट्रंप द्वारा संदेश में महात्मा गांधी का उल्लेख नहीं किये जाने पर लोगों ने ट्विटर पर हैरानी जतायी और उनके संदेश की तुलना पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के संदेश से की।

ओबामा ने 2010 में दक्षिण मुंबई में मणि भवन का दौरा किया था। गांधी ने मुंबई के मणि भवन में काफी समय तक निवास किया था। उन्होंने आगंतुक पुस्तिका में लिखा था, ‘‘क्योंकि मुझे गांधी के जीवन से जुड़े इस स्थल के दर्शन का अवसर प्राप्त हुआ है, लिहाजा मैं आशा और प्रेरणा से भर उठा हूं। वह नायक हैं, सिर्फ भारत के लिए ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के लिए।’’

इसके पांच साल बाद जनवरी 2015 में, दिल्ली के राजघाट का दौरा करने के बाद ओबामा ने लिखा, ‘‘डा. मार्टिन लुथर किंग जूनियर ने जो कहा था, वह आज भी सही है कि गांधी की आत्मा भारत में आज भी जिंदा है। यह दुनिया को बहुत बड़ा उपहार है। सभी देश और लोग इसी तरह उनके प्रेम और शांति की भावना के साथ रहें।’’

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने आश्रम की आगंतुक पुस्तिका में ट्रंप के संदेश की तस्वीर को पोस्ट किया और कहा, ‘‘यह उस संदेश का एक स्नैपशॉट है जिसे किसी ने भेजा है। यह जाहिर तौर पर साबरमती में डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणी है। महान महात्मा का कोई उल्लेख नहीं। क्या वह यह जानते भी हैं कि मोहनदास करमचंद गांधी कौन थे?’’

त्रिपुरा के पूर्व विधायक तापस डे ने ट्वीट किया, ‘‘साबरमती आश्रम की आगंतुक पुस्तिका में महात्मा गांधी जी का उल्लेख करने के बजाय राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नरेन्द्र मोदी के प्रति अपना प्यार व्यक्त किया।’’ ट्विटर का इस्तेमाल करने वाले एक अन्य व्यक्ति मार्टिन जोसेफ ने ट्रंप के हस्तलेखन के बारे में ट्वीट किया।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रपति ट्रंप ने साबरमती की आगंतुक पुस्तिका में संदेश लिखा। अक्षर या तो बड़े अक्षरों में या छोटे अक्षरों में होने चाहिए लेकिन उन्होंने लिखने के लिए बेतरतीब ढंग से अक्षरों का इस्तेमाल किया। उन्हें अपनी हाई स्कूल व्याकरण कक्षाओं को फिर से दोहराना चाहिए। 

Web Title: Donald Trump did not mention Gandhi in the visitor's book, people shared the message of Barack Obama on Twitter
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे