Delhi's 5.5 Lakh COVID-19 Projection Came From Centre, says Manish Sisodia | दिल्ली में जुलाई अंत तक 5.5 लाख कोरोना मामले के अनुमान पर पलटे मनीष सिसोदिया, कहा- केंद्र के आंकड़ों के आधार पर ही था अनुमान
मनीष सिसोदिया ने कहा कि 5.5 लाख केस का अनुमान केंद्र के आंकड़ों के आधार पर था। (फाइल फोटो)

Highlightsदिल्ली में अब तक 92175 लोग कोविड-19 की चपेट में आ चुके हैं।मनीष सिसोदिया ने कहा कि 5.5 लाख कोरोना मामलों का अनुमान केंद्र के आंकड़ों के आधार पर ही था।

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और अब तक यहां 92175 लोग कोविड-19 की चपेट में आ चुके हैं। इस बीच दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जुलाई अंत तक 5.5 लाख कोरोना वायरस के मामले के अनुमान से पलट गए हैं और कहा है कि यह केंद्र सरकार के आंकड़ों के आधार पर ही था।

मनीष सिसोदिया का यह बयान अमित शाह के हमले के बाद आया, जिसमें उन्होंने कहा था जुलाई अंत तक 5.5 लाख कोरोना केस के बयान ने लोगों के अंदर डर पैदा किया और लोगों ने दिल्ली से पलायन शुरू कर दिया।

केंद्र के आंकड़ों से अनुसार था अनुमान: सिसोदिया

इसके बाद मनीष सिसोदिया ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा, "जुलाई अंत तक 5.5 लाख के मामलों का अनुमान उस वक्त की स्थिति के हिसाब से था और यह आंकड़ा भारत सरकार के पोर्टल से लिया था और वो आंकड़ा गलत नहीं था। जनता को जानकारी देने से फायदा ही है, डराने वाली बात नहीं है। 8 जून को लगा था इतने केस होंगे।"

<a href='https://www.lokmatnews.in/topics/amit-shah/'>अमित शाह</a> ने कहा था कि 5.5 लाख कोरोना केस के अनुमान ने लोगों के अंदर डर पैदा किया। (फोटो सोर्स- एएनआई)
अमित शाह ने कहा था कि 5.5 लाख कोरोना केस के अनुमान ने लोगों के अंदर डर पैदा किया। (फोटो सोर्स- एएनआई)

अमित शाह ने कही थी ये बात

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अमित शाह ने पिछले सप्ताह कहा था, "जून के दूसरे सप्ताह के आसपास मनीष सिसोदिया ने कहा कि 31 जुलाई तक 5.5 लाख व्यक्ति वायरस से संक्रमित होंगे। कोई जगह नहीं बचेगी और न ही अस्पताल में कोई बिस्तर खाली रहेगा। स्थिति गंभीर होगी। इस बयान ने दिल्ली के लोगों के मन में बहुत डर पैदा किया। मैं अनुमान सही या गलत था में नहीं जाना चाहता। लेकिन डर की स्थिति पैदा हो गई और लोगों ने पलायन (दिल्ली से बाहर) करना शुरू कर दिया।"

मनीष सिसोदिया ने कही थी ये बात

मनीष सिसोदिया ने कहा था, "30 जून तक दिल्ली में संक्रमण के एक लाख तक मामले होंगे और हमें 15,000 बेड की जरूरत पड़ेगी। ऐसा अनुमान है कि दिल्ली में 15 जुलाई तक 2.15 लाख मामले होंगे और 33,000 बेड की जरूरत पड़ेगी। वहीं, 31 जुलाई तक 5.5 लाख मामले होंगे और दिल्ली को 80,000 बेड की जरूरत पड़ेगी। संक्रमण के मामले दोगुने होने के आधार पर 31 जुलाई तक 5.5 लाख मामले होने की आशंका है।"

दिल्ली में कोरोना वायरस के 26 हजार एक्टिव केस मौजूद

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को कोरोना वायरस के 2373 मामले सामने आए, जबकि 3015 लोग ठीक हुए और 61 लोगों की मौत हुई। इसके बाद दिल्ली में कुल मामलों की संख्या 92175 हो गई, जिसमें से 63007 लोग ठीक हो गए हैं, 2864 लोगों की मौत हो गई है और 26304 एक्टिव केस मौजूद हैं।

Web Title: Delhi's 5.5 Lakh COVID-19 Projection Came From Centre, says Manish Sisodia
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे