प्रदूषण को काबू करने के वास्ते दिल्ली सरकार का अभियान 18 अक्टूबर से शुरू होगा

By भाषा | Published: October 14, 2021 07:46 PM2021-10-14T19:46:25+5:302021-10-14T19:46:25+5:30

Delhi government's campaign to control pollution will start from October 18 | प्रदूषण को काबू करने के वास्ते दिल्ली सरकार का अभियान 18 अक्टूबर से शुरू होगा

प्रदूषण को काबू करने के वास्ते दिल्ली सरकार का अभियान 18 अक्टूबर से शुरू होगा

Next

नयी दिल्ली, 14 अक्टूबर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बृहस्पतिवार को कहा कि शहर सरकार के ‘‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’’ अभियान के तहत 2,500 नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों को तैनात किया जाएगा। यह अभियान 18 अक्टूबर से शुरू होगा जिसका मकसद वाहनों से होने वाले प्रदूषण को काबू करना है।

राय ने कहा कि यह अभियान 13 पुलिस जिलों के 100 यातायात चौराहों पर शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रविवार को मुहिम का अभ्यास किया जाएगा।

राय ने कहा कि दिल्ली पुलिस, नागरिक सुरक्षा अधिकारियों, पर्यावरण विभाग के अधिकारियों और उपमंडल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) के साथ बृहस्पतिवार को हुई संयुक्त बैठक में यह फैसला लिया गया।

उन्होंने कहा, “बैठक में निर्णय लिया गया है कि प्रदूषण रोकने के लिए यह अभियान 13 पुलिस जिलों के 100 चौराहों पर चलाया जाएगा और 90 चौराहों पर 10 . 10 नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों के समूह को तैनात किया जाएगा। अन्य 10 प्रमुख चौराहों पर 20 नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों के समूह को तैनात किया जाएगा।”

उन प्रमुख चौराहों पर जहां 20 स्वयंसेवकों को तैनात किया जाएगा, उनमें आईटीओ, तिलक मार्ग पर भगवानदास चौराहा, बाराखंभा रोड पर टॉलस्टाय चौराहा, मोती बाग मेट्रो के पास चंदगी राम अखाड़ा चौराहा, पीरागढ़ी चौक, पृथ्वीराज रोड चौराहा, राजेश पायलट मार्ग, मधुबन चौक, पीतमपुरा मेट्रो चौराहा और किराड़ी मोड़ शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि ये नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवक ‘‘पर्यावरण मार्शल’’ के रूप में काम करेंगे और लोगों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तीन अपीलों के बारे में जानकारी देने वाले पर्चे भी बांटेंगे।

दिल्ली में प्रदूषण से निपटने में मदद करने के लिए, केजरीवाल ने मंगलवार को लोगों से ‘‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’’ अभियान में सक्रिय रूप से भाग लेने और हफ्ते में कम से कम एक दिन अपनी कार का इस्तेमाल नहीं करने की अपील की थी। उन्होंने दिल्लीवासियों से यह भी अपील की थी कि प्रदूषण नियमों के उल्लंघन के किसी भी मामले की रिपोर्ट ‘ग्रीन दिल्ली ऐप’ पर करें।

मंत्री ने कहा कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य वाहनों से होने वाले प्रदूषण में कमी लाना है। उन्होंने कहा कि यह अभियान 18 नवंबर तक चलेगा। नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों को सुबह आठ से अपराह्र दो बजे तक और अपराह्र दो से रात आठ बजे तक की दो पालियों में तैनात किया जाएगा।

राय ने कहा कि दिल्ली सरकार शहर में प्रदूषण के स्तर को काफी कम रखने के लिए हर संभव प्रयास करेगी।

राय ने कहा कि पीसीआरए (पेट्रोलियम कन्जरवेशन रिसर्च एसोसिएशन) की रिपोर्ट के मुताबिक, रेड लाइट पर गाड़ी का इंजन बंद करने पर 13-20 फीसदी तक प्रदूषण घटाया जा सकता है और इससे सालाना तौर पर करीब 2500 करोड़ रुपये बचाए जा सकते हैं।

उन्होंने कहा, ” यह अभियान पिछले साल सफल रहा था और हम लोगों से इस साल भी इसे कामयाब बनाने की अपील करते हैं।”

इसके बाद एक बयान में सरकार ने कहा कि लाल बत्ती पर कारों को बंद करने से सालाना 250 करोड़ रुपये की बचत हो सकती है।

उन्होंने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए आरडब्ल्यूए, मार्केट एसोसिएशन, क्लब और एनजीओ से भी संपर्क किया जा रहा है ताकि वे अपने मंच के माध्यम से अभियान के बारे में जागरूकता फैला सकें।

राय ने कहा, ‘‘हमारी जिम्मेदारी है कि हम खुद को स्वस्थ रखने के लिए आंतरिक रूप से पैदा होने वाले प्रदूषण को कम करें। हम अन्य राज्यों और केंद्र के साथ भी बातचीत कर रहे हैं, और उनसे पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण को कम करने की अपील की है, लेकिन हम नहीं जानते कि वे हमें कब सुनेंगे।’’

उन्होंने कहा कि सरकार हर संभव प्रयास कर रही है और अगर दिल्ली के लोग मिलकर ‘‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’’ अभियान को लागू करने के लिए काम करें, तो यह प्रदूषण को कम करने में सफल होगा।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Delhi government's campaign to control pollution will start from October 18

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे