delhi caa violence two died including delhi police head constable | Delhi CAA Violence: हिंसा में एक और मौत, हेड कॉन्स्टेबल के बाद एक प्रदर्शनकारी की भी गई जान
दिल्ली हिंसा में एक और मौत, हेड कॉन्स्टेबल के बाद एक प्रदर्शनकारी की भी गई जान

HighlightsCAA विरोध के नाम पर जाफराबाद में हिंसा, हेड कॉन्स्टेबल की गोली मारकर हत्या, डीसीपी घायलहिमसा में मारे गए हेड कांस्टेबल रतन लाल राजस्थान के रहने वाले थे, दिल्ली के बुराड़ी में रह रहे थे रतन लाल के परिवार में पत्नी पूनम, दो बेटी और एक बेटा है

दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लेकर जगह-जगह चल रहा विरोध हिंसक होता जा रहा है। इस विरोध के चलते आज के लिए दिल्ली का दिन मनहूस रहा। बेकाबू बवाल के चलते एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई और एक प्रदर्शनकारी ने भी दम तोड़ दिया। बताते चलें कि विरोधियों की ओर से की गई फायरिंग में रतन लाल नाम के हेड कॉन्स्टेबल की मौत हो गई। हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल सहायक पुलिस आयुक्त के कार्यालय से जुड़े हुए थे। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने मौजपुर में दो घरों को भी आग के हवाले कर दिया। विरोध के नाम पर सरेआम गुंडागर्दी की गई। सोमवार को मौजपुर में सीएए के समर्थक और विरोधी दोनों आमने-सामने आ गए। दोनों ओर से जमकर पथराव हुआ। कई गाड़ियों में आग लगा दी गई। बसें फूंक दी गईं। हालात पर काबू पाने के लिए नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के तनाव वाले क्षेत्रों में भारी पुलिसबल की तैनाती की गई है।

पांच मेट्रो स्टेशन बंद

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरकिता कानून के विरोधियों और समर्थकों के बीच हुई हिंसक झड़प के मद्देनजर पिंक लाइन मेट्रो पर पांच स्टेशन बंद कर दिये गए हैं। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ''जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकलपुरी, जौहरी एंक्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिये गए हैं। ट्रेनें वेलकम मेट्रो स्टेशन तक ही जाएंगी।'' उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर और चांदबाग में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर झड़प में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई जबकि पुलिस उपायुक्त घायल हो गए। प्रदर्शनकारियों ने घरों, दुकानों और वाहनों को आग लगा दी और एक दूसरे पर पथराव भी किया। इससे पहले डीएमआरसी ने प्रदर्शनों के चलते जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया था।

सीएए को लेकर सुलग रही उत्तर-पूर्वी दिल्ली, हेड कांस्टेबल की मौत

जाफराबाद और मौजपुर इलाकों में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर हुई झड़पों में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई जबकि पुलिस उपायुक्त घायल हो गए। सीएए समर्थक और विरोधी प्रदर्शनकारियों ने एक दूसरे पर पथराव किया और फिर घरों, दुकानों और वाहनों को आग लगा दी। इसके अलावा चांदबाग और भजनपुरा इलाकों में भी सीएए विरोधियों और समर्थकों के बीच भी हिंसा की खबरें आईं। इन इलाकों में हिंसा का यह दूसरा दिन है। 

अरविंद केजरीवाल ने किया ट्वीट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध और समर्थन के दौरान उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कुछ हिस्सों में हिंसा के मद्देनजर कानून-व्यवस्था बहाल करने का अनुरोध किया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति-व्यवस्था में गड़बड़ी की बहुत परेशान करने वाली खबरें आ रही हैं। मैं माननीय उपराज्यपाल और केंद्रीय गृह मंत्री से शांति और सौहार्द्र सुनिश्चित करते हुए कानून-व्यवस्था बहाल किए जाने का अनुरोध करता हूं । किसी को भी माहौल खराब करने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए।’’ 

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने किया ट्वीट

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने उत्तरपूर्वी दिल्ली में झड़पों के दौरान हिंसा के मद्देनजर सोमवार को पुलिस आयुक्त को कानून-व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया। बैजल ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली पुलिस और दिल्ली पुलिस आयुक्त को उत्तर पूर्वी दिल्ली में कानून व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं । हालात पर करीबी नजर रखी जा रही है । मैं हर किसी से शांति और सौहार्द बनाए रखने के लिए संयम बरतने का अनुरोध करता हूं। ’’

Web Title: delhi caa violence two died including delhi police head constable
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे