Highlightsसीरम संस्थान के मुखिया ने कहा कि आमतौर किसी भी वैक्सीन को बाजार में आसानी से पहुंचने में 8 से 10 साल लगते हैं, लेकिन इस वैक्सीन के मामले में ऐसा नहीं है।भारत के पुणे स्थित सीरम संस्थान ने ऑक्सफोर्ड कोविड-19 वैक्सीन बनाने वाली संस्था के साथ भी भागीदारी की है।

नई दिल्ली: सीरम इंस्टीट्यूट (एसआईआई) के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर सुरेश जाधव ने कहा कि भारत में दिसंबर के अंत तक 20 से 30 करोड़ कोविड-19 वैक्सीन की खुराक तैयार हो जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक बार कोरोना वैक्सीन की डोज तैयार हो जाने के बाद ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) द्वारा लाइसेंस लेने की प्रक्रिया प्रारंभ किया जाएगा। 

जैसे ही ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से अनुमति दिया जाएगा, इसके बाद यह उत्पाद आमलोगों के लिए लॉन्च किया जा सकता है। इस संस्था ने उम्मीद जताया है कि मार्च 2021 तक लोगों को वैक्सीन के लिए प्रतीक्षा करना पड़ सकता है। इंडिया टुडे रिपोर्ट की मानें तो वैक्सीन मार्च 2021 तक बाजार में उपलब्ध हो जाएगा।

Brazil announces agreement with UK to produce COVID-19 vaccine | english. lokmat.com

सीरम संस्थान पांच अलग-अलग उत्पादों पर कर रहा है काम

सीरम संस्थान के डॉक्टर जाधव ने कहा कि कोरोनो वायरस खतरे से निपटने के लिए सीरम संस्थान पांच अलग-अलग उत्पादों पर काम कर रहा है। एचएएल फाउंडेशन के संस्थापक डॉक्टर स्वदीप श्रीवास्तव द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में डॉक्टर जाधव ने कहा कि हालांकि वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया में थोड़ी जल्दबाजी कम जरूर हुई है। 

Volunteers put their lives at risk for COVID-19 vaccine | english.lokmat.com

कुछ समय तक ट्रायल को तीसरे चरण में इस वजह से रोकना पड़ा-

उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन ट्रायल की प्रक्रिया को करीब तीन सप्ताह के लिए रोक दिया गया था। ऐसा इसलिए क्योंकि ट्रायल से जुड़े कुछ एक्सपर्ट इसके परिणाम व रिसर्च के बारे में और अधिक स्पष्टता चाहते थे। यही वजह है कि वैक्सीन के ट्रायल के तीसरे चरण में लोगों पर पड़ने वाले प्रबाव को कुछ समय लगाकर जांचा गया है। यही वजह है कि सीरम इंस्टीट्यूट दिसंबर के अंत तक वैक्सीन को तैयार करने के दौरान परीक्षण से जुड़ा हर तरह का डेटा डीसीजीआई को मुहैया कराने में सक्षम होगा।

Human trails of India

भारत में  कोरोना वायरस के एक्टिव मरीजों की संख्या डेढ़ महीने में पहली बार 8 लाख से कम

भारत में कोरोना संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 62,212 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ संक्रमितों की कुल संख्या अब  74,32,681 हो गई है। इसी अवधि में 837 लोगों की मौत भी कोरोना से हुई है। मृतकों की संख्या अब बढ़कर  1,12,998 हो गई है।

ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार सुबह दी। मंत्रालय के अनुसार एक्टिव मरीजों की संख्य अब 8 लाख से कम हो गई है। ये आंकड़ा अब घटकर  7,95,087 हो गया है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ये भारत के लिए बड़ी उपलब्धि है 

Maharashtra: Total number of COVID-19 cases reach 1,07,958 | english.lokmat .com

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले डेढ़ महीने में ये पहली बार है जब एक्टिव मरीजों की संख्या 8 लाख से कम हुई है। वहीं अब तक 65,24,596 बीमारी से ठीक हो चुके हैं। 

Web Title: Covid vaccine: 20 to 30 crore corona vaccine will be ready in India by end of December, know how long it will be available in the market
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे