Coronavirus Vaccine Updates Russia's Sputnik V 95 price required international markets delivery January 2021 | Coronavirus Vaccine Updates: रूस की Sputnik V 95 प्रतिशत असरदार, जनवरी 2021 में शुरू होगी डिलीवरी
माइक्रोबॉयोलॉजी और रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (आरडीआईएफ) मिलकर विकसित किया है। (file photo)

Highlightsस्फूतनिक-5 को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है।एक डोज की कीमत इंटरनेशनल यानी अंतरराष्ट्रीय बाजार में 10 डॉलर से कम होगी।

नई दिल्लीः कोरोना महामारी को खत्म कर देने वाली वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में कई तरह के सवाल हैं जैसे कि कब तक बनेगी वैक्सीन?

कोरोना की वैक्सीन बन गई तो मार्केट में कब आएगी और उसका दाम कितना है होगा? विश्वभर में वैक्सीन बनाने के लिए युद्धस्तर पर काम चल रहा है। तीन से चार वैक्सीन के करीब-करीब बनने का दावा भी किया जा चुका है जिनमें  Pfizer, Moderna, Oxford और रूस की स्पूतनिक-5 भी शामिल है। इस बीच स्फूतनिक-5 को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है।

आपको बता दें कि रूस में बन रही कोरोना की वैक्सीन Sputnik V को लेकर ये बड़ी खबर है कि ये वैक्सीन 95 फीसदी प्रभावी पाई गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये जानकारी इस वैक्सीन को बना रहे डेवलपर्स ने मंगलवार को दी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक ये वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल के दूसरे अंतरिम विश्लेषण में 95 फीसदी प्रभावी पाई गई है। 

आजतक की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्पुतनिक-5 के एक डोज की कीमत इंटरनेशनल यानी अंतरराष्ट्रीय बाजार में 10 डॉलर से कम होगी। भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत 740 रुपये से कम होगी। वहीं ये वैक्सीन रूस के नागरिकों को मुफ्त में दी जाएगी। बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति को वैक्सीन के दो डोज की जरूरत होगी। बता दें कि वैक्सीन को गैमेलिया नेशनल रिसर्च सेंटर फॉर एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबॉयोलॉजी और रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (आरडीआईएफ) मिलकर विकसित किया है।

कब आएगी ये वैक्सीन 

खबर के मुताबिक स्पुतनिक-5 वैक्सीन की पहली अंतरराष्ट्रीय डिलीवरी जनवरी 2021 में होगी। आरडीआईएफ के सीईओ किरील के मुताबिक बेलारूस, ब्राजील, यूएई और भारत में क्लीनिकल ट्रायल चल रहे हैं।  इसके अलावा अन्य वैक्सीन की बात करें तो ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्‍ट्राजेनेका की वैक्‍सीन AZD1222 के तीसरे फेज के ट्रायल के नतीजे आए हैं, जिसमें ये कोरोना संक्रमण से बचाव में 70 फीसदी तक असरदार साबित हुई है।

सोमवार यानी 24 नवंबर को सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) (SII) के सीईओ अदार पूनावाला ने इसे लेकर महत्वपूर्ण जानकारी साझा की थी। अदार पूनावाला ने का था कि  कोविड-19 के उसके संभावित टीके को औसतन 70 प्रतिशत प्रभावी पाया गया है। कंपनी ने कहा है कि यदि एक आधी खुराक देने के कम से कम एक महीने बाद एक पूरी खुराक दी जाती है, तो यह 90 प्रतिशत प्रभावी है। एक महीने के कम से कम अंतराल पर दो पूरी खुराक दे कर किए गए परीक्षणों में यह टीका 62 प्रतिशत प्रभावी है। दोनों तरीकों को मिलाकर देखें तो टीका औसत 70 प्रतिशत प्रभावी है।

वहीं एनडीटीवी ने पूनावाला के हवाले से बताया कि देश में करीब चार करोड़ डोज तैयार हो चुके हैं और केंद्र सरकार बड़े पैमाने पर ये डोज 250 रुपये या इससे कुछ कम राशि में खरीदेगी। यह दो डोज की वैक्‍सीन है। उन्‍होंने बताया कि वैक्‍सीन 500 और 600 रुपये प्रति डोज की दर पर प्राइवेट मार्केट में बेची जाएगी, इससे डिस्‍ट्रीब्‍यूटर्स को पैसे बनाने में कुछ मदद मिलेगी। 

Web Title: Coronavirus Vaccine Updates Russia's Sputnik V 95 price required international markets delivery January 2021

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे