Coronavirus: Indian Railways carried 1.6 lakh wagon freight in four days | Coronavirus: भारतीय रेलवे ने चार दिन में की 1.6 लाख वैगन माल ढुलाई
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (फाइल फोटो)

Highlightsभारतीय रेल ने कोरोना वायरस संकट के इस दौर में माल ढुलाई सेवाओं के जरिए देश के कोने-कोने तक आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के अभियान में पिछले 4 दिनों में 1.6 लाख से भी अधिक वैगनों माल ढुलाई की।इनमें से एक लाख से ज्‍यादा वैगनों के जरिए आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई की गई। भारतीय रेलवे देश भर में खाद्यान्न, नमक, चीनी, दूध, खाद्य तेल, प्याज, फल- सब्जियों, पेट्रोलियम उत्पादों, कोयला एवं उर्वरक जैसी आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई कर रही है।

भारतीय रेल ने कोरोना वायरस संकट के इस दौर में माल ढुलाई सेवाओं के जरिए देश के कोने-कोने तक आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के अभियान में पिछले 4 दिनों में 1.6 लाख से भी अधिक वैगनों माल ढुलाई की।

इनमें से एक लाख से ज्‍यादा वैगनों के जरिए आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई की गई। भारतीय रेलवे देश भर में खाद्यान्न, नमक, चीनी, दूध, खाद्य तेल, प्याज, फल- सब्जियों, पेट्रोलियम उत्पादों, कोयला एवं उर्वरक जैसी आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई कर रही है।

रेल मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति में कहा कि ऐसी स्थिति में जब पूरा देश कोरोना वायरस की महामारी के कारण पूरी तरह से लॉकडाउन है, भारतीय रेलवे देशवासियों की भलाई के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और अपनी निर्बाध माल ढुलाई सेवाओं के जरिए आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है।

पिछले 4 दिनों में लगभग 1.6 लाख वैगनों ने आपूर्ति श्रृंखलाओं (सप्‍लाई चेन) को निरंतर चालू रखने के लिए आपूर्ति की। इनमें से 1 लाख से भी अधिक वैगनों के जरिए आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई भारतीय रेलवे द्वारा सुनिश्चित की गई, ताकि पूरे देश में कामकाज सही ढंग से जारी रहे और सप्‍लाई चेन भी लगातार चालू रहे।

अनेक राज्यों में लॉकडाउन के दौरान विभिन्न गुड्स-शेडों, स्टेशनों और नियंत्रण कार्यालयों में तैनात भारतीय रेलवे के कर्मचारी यह सुनिश्चित करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं कि देश भर में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति कतई प्रभावित न हो।

विज्ञप्ति के मुताबिक राज्य सरकारों के साथ प्रभावकारी तालमेल बनाए रखा जा रहा है, ताकि कोविड-19 के मद्देनजर लगाई गई विभिन्न पाबंदियों के बीच आवश्यक वस्तुओं की रेकों का परिचालन बिना किसी देरी के सुचारू रूप से हो सके।

भारतीय रेलवे प्रणाली पर आवश्यक वस्तुओं की निर्बाध आवाजाही की निगरानी के लिए रेल मंत्रालय में एक आपातकालीन माल नियंत्रण प्रकोष्‍ठ काम कर रहा है।

अत्‍यंत वरिष्ठ स्तर के अधिकारियों द्वारा माल ढुलाई पर पैनी नजर रखी जा रही है।

Web Title: Coronavirus: Indian Railways carried 1.6 lakh wagon freight in four days
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे