Corona virus India lockdown indian Railways No concession senior citizens relaxation ticket fares patients, students, disabled people | Coronavirus: रेलवे का बड़ा बयान-वरिष्ठ नागरिकों को रियायत नहीं, मरीज, छात्र, दिव्यांग लोग को टिकट किराये में छूट 
कम से कम डेढ़ घंटे पहले रेलवे स्टेशन पहुंचना शामिल है ताकि आपकी स्वास्थ्य जांच की जा सके। (file photo)

Highlightsदिव्यांगजनों के लिए 3एसी में दो सीट आरक्षित रहेगी, वर्तमान और पूर्व सांसदों के लिए 1एसी में दो सीट, 2एसी में चार सीट आरक्षित रहेगी।रेल ने कुछ चुनिंदा मार्गों पर वातानुकुलित यात्री ट्रेन सेवाएं शुरू करते हुए 12 मई से चलने वाली ट्रेनों के संबंध में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं।

नई दिल्लीः भारतीय रेल ने कहा कि उसकी योजना 12 मई से चरणबद्ध तरीके से यात्री ट्रेन सेवाएं शुरू करने की है, और शुरुआत में चुनिंदा मार्गों पर 15 जोड़ी ट्रेनें (अप-एंड-डाउन मिलाकर 30 ट्रेनें) चलायी जाएंगी।

भारतीय रेलवे ने कहा कि विशेष रेल मार्गों पर सांसदों, स्वतंत्रता सेनानियों के लिए अति न्यूनतम आरक्षण केन्द्र खोले जायेंगे, सामान्य कोटा टिकट केवल वेबसाइट के जरिये मिलेंगी। मरीज, छात्र, दिव्यांग लोग टिकट किराये में रियायत ले सकते हैं, वरिष्ठ नागरिकों के लिए कोई रियायत नहीं है। दिव्यांगजनों के लिए 3एसी में दो सीट आरक्षित रहेगी, वर्तमान और पूर्व सांसदों के लिए 1एसी में दो सीट, 2एसी में चार सीट आरक्षित रहेगी।

भारतीय रेल ने कुछ चुनिंदा मार्गों पर वातानुकुलित यात्री ट्रेन सेवाएं शुरू करते हुए 12 मई से चलने वाली ट्रेनों के संबंध में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिसमे कम से कम डेढ़ घंटे पहले रेलवे स्टेशन पहुंचना शामिल है ताकि आपकी स्वास्थ्य जांच की जा सके। मंगलवार, 12 मई से यात्री ट्रेनों में सवार होने वालों को रेलवे पहले की तरह चादर, तौलिया, सामान्य भोजन, पेय आदि मुहैया नहीं कराएगा।

फिलहाल यात्रियों को सिर्फ डिब्बाबंद भोजन और हैंड सेनेटाइजर उपलब्ध कराया जाएगा। भारतीय रेल का कहना है कि सभी यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। भारतीय रेल कोविड-19 लॉकडाउन के कारण करीब 50 दिन तक यात्री सेवाएं बंद रखने के बाद कल से चुनिंदा मार्गों पर 15 जोड़ी ट्रेनें (अप-एंड-डाउन मिलाकर 30 ट्रेनें) चलायी जाएंगी और इन विशेष ट्रेनों में सिर्फ वातानुकुलित श्रेणी (एसी-1, एसी-2 और एसी-3) के डिब्बे होंगे, किराया सामान्य राजधानी ट्रेन के अनुरुप होगा।

सार्वजनिक परिवहन का कहना है कि 12 मई को आठ ट्रेनें चलेंगी। इनमें से तीन नयी दिल्ली से रवाना होकर डिब्रूगढ़, बेंगलुरु और बिलासपुर पहुंचेंगी। वह बाकि ट्रेनें हावड़ा, राजेन्द्र नगर (पटना), बेंगलुरु, मुंबई सेंट्रल और अहमदाबाद से चलकर दिल्ली पहुंचेगी। चूंकि ये विशेष ट्रेनें राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान चल रही हैं, ऐसे में यात्रियों के लिए प्रस्थान बिंदु पर मास्क पहनना और स्वास्थ्य जांच अनिवार्य होगी, सिर्फ उन्हीं लोगों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी जिनमें वायरस से संक्रमण के कोई लक्षण नजर नहीं आएंगे।

यात्रा के दौरान ट्रेन बेहद कम स्टेशनों पर रुकेगी

यात्रा के दौरान ट्रेन बेहद कम स्टेशनों पर रुकेगी। सार्वजनिक परिवहन का कहना है कि इन ट्रेनों में अग्रिम आरक्षण अधिकतम सात दिन के लिए होगा, फिलहाल आरएसी और वेटिंग टिकट जारी नहीं होगी, ट्रेन में टीटीई को किसी की टिकट बनाने की अनुमति नहीं होगी। भारतीय रेल का कहना है कि रेलवे स्टेशन आने वाले यात्रियों और उन्हें लेकर आने वाले वाहन/ड्राइवर को स्टेशन के भीतर प्रवेश की अनुमति इसी सूरत में दी जाएगी, जब उनके पास यात्रा का वैध और कंफर्म टिकट हो।

भारतीय रेल ने टिकटें रद्द कराने का भी विकल्प दिया है। इस संबंध में उसका कहना है कि यात्री ट्रेन के प्रस्थान से 24 घंटे पहले तक ही टिकट रद्द करा सकते हैं लेकिन टिकट रद्द होने पर कुल किराये का 50 प्रतिशत शुल्क के रूप में काट लिया जाएगा। इन ट्रेनों में वातानुकूलन के लिए विशेष नियम होंगे, तापमान सामान्य दिनों के मुकाबले थोड़ा ज्यादा रखा जाएगा और डिब्बों के भीतर ज्यादा से ज्यादा ताजा हवा की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। गौरतलब है कि उक्त विशेष ट्रेनें नयी दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलेंगी और डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी को जाएंगी।

इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग आज, 11 मई, से शुरू होगी। बुकिंग सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट (https://www.irctc.co.in/) के जरिए की जा सकेगी। भारतीय रेल ने कहा था कि टिकटो की बुकिंग शाम चार बजे से की जा सकेगी, लेकिन आईआरसीटीसी की वेबसाइट काम नहीं करने की वजह से बुकिंग दो घंटे के लिए टाल दी गई थी। बुकिंग शाम छह बजे से शुरू होनी थी। आईआरसीटीसी ने शाम करीब पौने पांच बजे ट्वीट किया कि वह विशेष ट्रेनों का डेटा अपलोड कर रही है और बुकिंग छह बजे शुरू हो सकेगी। आरक्षण के दौरान प्राप्त टिकटों पर ‘क्या करें और क्या ना करें’स्पष्ट रूप से लिखा होगा। सिर्फ वैध आरक्षित टिकटधारकों को रेलवे स्टेशन में प्रवेश की अनुमति होगी।

भारतीय रेल ने कहा कि स्टेशनों पर टिकट बुकिंग खिड़की बंद रहेगी, प्लेटफॉर्म टिकट सहित कोई काउंटर टिकट जारी नहीं होगा। भारतीय रेल का कहना है कि इन 15 जोड़ी ट्रेनों के बाद वह अन्य मार्गों पर भी विशेष ट्रेनें चलाएगी। उसका कहना है कि 20,000 डिब्बे कोविड-19 देखभाल केन्द्र के रूप में आरक्षित करने और प्रवासी श्रमिकों को गंतव्य तक पहुंचाने के लिए रोजाना करीब 300 ‘श्रमिक स्पेशल’ ट्रेनें चलाने के लिए डिब्बे आरक्षित रखने के बाद कोचों की उपलब्धता के आधार पर अन्य मार्गों पर यात्री सेवाएं बहाल की जाएंगी। 17 मई को लॉकडाउन समाप्त होने पर यात्री ट्रेन सेवाएं चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएंगी।

 

 

Web Title: Corona virus India lockdown indian Railways No concession senior citizens relaxation ticket fares patients, students, disabled people
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे