Corona in Delhi: कोविड केस में कमी, 7498 नए मामले और 29 मरीजों की मौत, संक्रमण दर 10.59 %

By सतीश कुमार सिंह | Published: January 26, 2022 07:07 PM2022-01-26T19:07:04+5:302022-01-26T19:16:43+5:30

Corona in Delhi: दिल्ली सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, इस बार कोविड-19 के बेहद कम मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है।

Corona in Delhi 7 498 fresh COVID cases 11164 recoveries, 29 deaths last 24 hours positivity rate 10-59%  | Corona in Delhi: कोविड केस में कमी, 7498 नए मामले और 29 मरीजों की मौत, संक्रमण दर 10.59 %

डेल्टा स्वरूप की इंक्यूबेशन अवधि चार दिनों की थी।

Next
Highlightsकोरोना वायरस के पुराने स्वरूपों की इंक्यूबेशन अवधि करीब पांच दिनों की थी।मौत के ज्यादातर मामलों में वायरस से संक्रमण प्राथमिक कारण नहीं है।रिकवरी भी तेजी से हो रही है।

Corona in Delhi: स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि मंगलवार की तुलना में आज केस में बढ़ोतरी है। दिल्ली में बुधवार को कोविड-19 के 7498 नए मामले और, 29 मरीजों की मौत हुई है। संक्रमण की दर 10.59 प्रतिशत है। मंगलवार को 6028 नए मामले सामने आए और महामारी से 31 मरीजों की मौत हो गई थी।

संक्रमण की दर 10.55 प्रतिशत दर्ज की गई थी। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और अधिकारियों का कहना है कि मृतकों में अधिकांश ऐसे लोग थे, जो पहले से किसी रोग से पीड़ित थे। पिछले एक दिन में 9,127 लोग स्वस्थ हो गए और अस्पतालों में 15 प्रतिशत से कम कोविड बिस्तर भरे हुए हैं। राष्ट्रीय राजधानी में, जनवरी में अब तक कोविड से 574 लोगों की मौत हो चुकी है।

दिल्ली में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 13 जनवरी को 94,160 पहुंचने के बाद महज 12 दिनों के भीतर घटकर आधी रह गयी है। गौरतलब है कि कोविड की दूसरी लहर के दौरान उपचाराधीन मरीजों की संख्या आधी होने में 21 दिन लगा था।

कोविड की तीसरी लहर में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 13 जनवरी को बढ़कर 94,160 हो गयी थी जो मंगलवार (25 जनवरी) को कम होकर 42,010 रह गयी। बेहद खतरनाक दूसरी लहर के दौरान कोविड के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 28 अप्रैल को बढ़कर 99,752 हो गई थी जो 19 मई को कम होकर 45,047 रह गयी।

विशेषज्ञों का कहना है कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या में आ रही कमी उनकी आशा के अनुररूप है। मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में कम्युनिटी मेडिसिन विभाग की निदेशक प्रोफेसर नंदिनी शर्मा ने बताया, ‘‘ऐसा ही अनुमान था। वृद्धि तेजी से हुई थी। कोविड के प्रसार को दिखाने वाली आर-नॉट वैल्यू करीब चार थी, इसका तात्पर्य है कि उक्त व्यक्ति दो दिनों के भीतर पूरे परिवार को संक्रमित करेगा।’’

उन्होंने बताया, ‘‘रिकवरी भी तेजी से हो रही है। इंक्यूबेशन की अवधि कम हो गई है, महज दो से तीन दिन रह गयी है। इसलिए उपचाराधीन मामलों में तेजी से कमी आयी है।’’ अनुसंधानकर्ताओं के अनुसार, कोरोना वायरस से ओमीक्रोन स्वरूप की इंक्यूबेशन अवधि करीब तीन दिनों की है, जबकि उसके डेल्टा स्वरूप की इंक्यूबेशन अवधि चार दिनों की थी।

Web Title: Corona in Delhi 7 498 fresh COVID cases 11164 recoveries, 29 deaths last 24 hours positivity rate 10-59% 

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे