Congress's movement petrol diesel prices Rahul and Priyanka Gandhi targeted modi government | पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर कांग्रेस का देशव्यापी आंदोलन, राहुल और प्रियंका गांधी ने सरकार पर निशाना साधा
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘जीडीपी गिर रही है। बेरोजगारी बेतहाशा बढ़ रही है। (file photo)

Highlightsइस दौरान कोरोना वायरस से संबंधित प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया गया।कांग्रेस आज देश भर में सड़कों पर नज़र आई।बेतहाशा बढ़ाई गई एक्ससाइज़ ड्यूटी को समाप्त किया जाये।

नई दिल्लीः कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में दिल्ली तथा देश के दूसरे राज्यों के अलग-अलग इलाकों में विभिन्न पेट्रोल पंपों के निकट सांकेतिक प्रदर्शन किया। मोदी सरकार से बढ़ी कीमतों को तुरंत वापस लेने की मांग की।

कांग्रेस ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आने वाली गिरावट का लाभ उपभोक्ताओं को दिया जाये। बेतहाशा बढ़ाई गई एक्ससाइज़ ड्यूटी को समाप्त किया जाये, पेट्रोल -डीज़ल को जीएसटी के तहत लाया जाये। कोरोना की पाबंदियों के बाद अनलॉक शुरू होते है कांग्रेस आज देश भर में सड़कों पर नज़र आई।

एनएसयूआई, युवक कांग्रेस, महिला कांग्रेस के अलावा पार्टी के सभी बड़े नेता इस प्रदर्शन में शामिल हुये। मोदी सरकार के खिलाफ जनमत जगाने के इरादे से सोनिया गांधी ने सभी सहयोगी दलों से भी अपील की है कि वह भी मोदी सरकार के खिलाफ मुहिम शुरू करें।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘जीडीपी गिर रही है। बेरोजगारी बेतहाशा बढ़ रही है। ईंधन की कीमतें आसमान छू रही हैं। आखिर भाजपा कितने तरीके से भारत को लूटेगी?’’ प्रियंका गांधी ने सरकार पर निशाना साधते हुए दावा किया, ‘‘महामारी के दौरान मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर कर वसूले : पूरे 2.74 लाख करोड़ रुपये। इस पैसे से पूरे भारत को टीका (67000 करोड़ रुपये), 718 जिलों में ऑक्सीजन संयंत्र, 29 राज्यों में एम्स की स्थापना और 25 करोड़ गरीबों को छह - छह हजार रूपये की मदद मिल सकती थी। मगर मिला कुछ भी नहीं।’’

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल घोड़ा-गाड़ी पर सवार होकर फिरोज शाह कोटला स्टेडियम के निकट पेट्रोल पंप पहुंचे। वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस की अगुवाई वाली तत्कालीन संप्रग सरकार के कार्यकाल में पेट्रोल और डीजल पर केंद्रीय कर 9.20 रुपये था, लेकिन नरेद्र मोदी सरकार में इसके बढ़ाकर 32 रुपये कर दिया गया है।

उन्होंने यह भी कहा, ‘‘सरकार को पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में बढ़ोतरी बंद करनी चाहिए। हम मांग करते हैं कि पेट्रोल एवं डीजल की बढ़ी हुई कीमतों को वापस लिया जाए।’’ कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने राजेंद्र नगर और जनपथ में पेट्रोप पंपों के निकट विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया।

उन्होंने भी विरोध स्वरूप घोड़ा-गाड़ी की सवारी की। कांग्रेस की युवा इकाई भारतीय युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी जनपथ रोड स्थित पेट्रोल पंप पर विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने आरोप लगाया, ‘‘महामारी के दौरान भाजपा का लूट चक्र रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

4 मई से 9 जून के बीच पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 21 बार बढ़ोतरी हुई है। जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम कम हैं, ऐसे समय में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाना देशवासियों के साथ अवैध वसूली जैसा कृत्य है।’’ 

Web Title: Congress's movement petrol diesel prices Rahul and Priyanka Gandhi targeted modi government

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे