‘जो नफरत करे, वह योगी कैसा!’, राहुल गांधी ने यूपी के सीएम पर कसा तंज, योगी आदित्यनाथ ने ऐसे दिया जवाब

By सतीश कुमार सिंह | Published: September 14, 2021 04:37 PM2021-09-14T16:37:18+5:302021-09-14T16:39:25+5:30

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ‘अब्बा जान’ वाली विवादास्पद टिप्पणी पर जनता दल (यूनाइटेड) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने मंगलवार को कहा कि राजनीतिक दलों को ‘‘संयमित भाषा’’ में बात करनी चाहिए।

congress rahul gandhi up cm yogi adityanath on twitter bulldozing of criminals' property will continue | ‘जो नफरत करे, वह योगी कैसा!’, राहुल गांधी ने यूपी के सीएम पर कसा तंज, योगी आदित्यनाथ ने ऐसे दिया जवाब

राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच सोशल मीडिया पर टकराव दिखने को मिला है।

Next
Highlightsसीएम योगी ने उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ‘अब्बा जान’ वाली टिप्पणी की थी।देश सबका है। यह देश हिंदू, मुस्लिम, सिख ईसाई सभी भाइयों का है।सीएम योगी और भाजपा की खिंचाई की है।

लखनऊः  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच सोशल मीडिया पर टकराव दिखने को मिला है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर सीएम योगी पर निशाना साधा तो यूपी के मुख्यमंत्री ने जवाब दिया है। 

राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ‘अब्बा जान’ वाले बयान की पृष्ठभूमि में मंगलवार को उन पर परोक्ष रूप से निशाना साधा और कहा कि ‘जो नफरत करे, वह योगी कैसे हो सकता है।’ उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘जो नफ़रत करे, वह योगी कैसा!’’

ट्वीट का जवाब देते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने रामचरितमानस की एक पंक्ति का हवाला देते हुए कहा कि अगर अपराधियों और बदमाशों की संपत्ति को नष्ट करना नफरत है, तो यह 'नफरत' अनवरत जारी रहेगी। योगी ने राहुल गांधी को जवाब दिया।

योगी आदित्यनाथ ने रविवार को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ‘अब्बा जान’ वाली टिप्पणी की थी। उर्दू में पिता के लिए ‘‘अब्बा जान’’ शब्द का उपयोग किया जाता है। समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार का परोक्ष रूप से उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा था, ‘‘अब्बा जान कहने वाले गरीबों की नौकरी पर डाका डालते थे। पूरा परिवार झोला लेकर वसूली के लिए निकल पड़ता था। अब्बा जान कहने वाले राशन हजम कर जाते थे। राशन नेपाल और बांग्लादेश पहुंच जाता था। आज जो गरीबों का राशन निगलेगा, वह जेल चला जाएगा।’’

हालांकि मुख्यमंत्री ने किसी विशेष पार्टी का नाम नहीं लिया, यह स्पष्ट था कि वह समाजवादी पार्टी की ओर इशारा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अखिलेश यादव जैसे नेता पहले अपने मुस्लिम वोट-बैंक को ठेस पहुंचाने के डर से मंदिरों में नहीं जाते थे।

इस बीच, समाजवादी पार्टी ने चुनाव से पहले लोगों का ध्यान हटाने की कोशिश करने के लिए योगी और भाजपा की खिंचाई की है। समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता जूही सिंह ने कहा कि बीजेपी ने हमेशा राज्य के मूल मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाया है। उन्होंने कहा कि कोविड -19 के दौरान की स्थिति, मुद्रास्फीति, बेरोजगारी और सामाजिक अन्याय कभी भी पार्टी की प्राथमिकता नहीं रही है।

Web Title: congress rahul gandhi up cm yogi adityanath on twitter bulldozing of criminals' property will continue

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे