पार्टी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से बोले जयराम रमेश- कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों पर टिप्पणी करने से करें परहेज

By मनाली रस्तोगी | Published: September 23, 2022 05:12 PM2022-09-23T17:12:06+5:302022-09-23T17:16:11+5:30

जयराम रमेश का बयान कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ द्वारा हाल ही में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पार्टी के शीर्ष पद के लिए शशि थरूर की तुलना में बेहतर उम्मीदवार के रूप में समर्थन देने के बाद आया है।

Congress asks office-bearers to refrain from commenting on presidential candidates | पार्टी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से बोले जयराम रमेश- कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों पर टिप्पणी करने से करें परहेज

पार्टी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से बोले जयराम रमेश- कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों पर टिप्पणी करने से करें परहेज

Next
Highlightsजयराम रमेश ने पार्टी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों पर टिप्पणी करने से परहेज करने का आग्रह किया।रमेश ने सभी को व्यक्तिगत प्राथमिकताओं को छोड़कर अपने कर्तव्यों का पालन करने का निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि पार्टी का ध्यान 17 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के बावजूद 'भारत जोड़ो यात्रा' अभियान पर रहना चाहिए।

नई दिल्ली: सांसद और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव जयराम रमेश ने शुक्रवार को पार्टी के प्रत्येक प्रवक्ता और संचार विभाग के पदाधिकारियों से अगले महीने होने वाले पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों पर टिप्पणी करने से परहेज करने का आग्रह किया। रमेश ने सभी को व्यक्तिगत प्राथमिकताओं को छोड़कर अपने कर्तव्यों का पालन करने का निर्देश दिया।

रमेश ने नोटिस में कहा, "मैं एआईसीसी के संचार विभाग के सभी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से आग्रह करता हूं कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले हमारे किसी भी सहयोगी पर किसी भी तरह की टिप्पणी करने से परहेज करें।" उनका यह बयान तब आया जब कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पार्टी के शीर्ष पद के लिए शशि थरूर से बेहतर उम्मीदवार के रूप में समर्थन दिया था।

गौरव वल्लभ ने कहा था कि अशोक गहलोत के पास पूर्व केंद्रीय मंत्री के रूप में अनुभव है और उन्होंने राजस्थान में 2018 के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को हराया, जबकि शशि थरूर पिछले आठ वर्षों में सोनिया गांधी को केवल पत्र भेजने में कामयाब रहे जब वह अस्पताल में भर्ती थीं। बाद में उन्होंने ट्विटर पर स्पष्ट किया कि यह उनकी व्यक्तिगत राय थी।

जयराम रमेश ने अपनी नोटिस में सभी पदाधिकारियों से कांग्रेस की स्थिति को एकमात्र राजनीतिक दल के रूप में उजागर करने का आग्रह किया, जिसके पास एक स्वतंत्र चुनाव प्राधिकरण के साथ अपने अध्यक्ष का चुनाव करने के लिए एक लोकतांत्रिक और पारदर्शी प्रणाली है। उन्होंने कहा कि पार्टी का ध्यान 17 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के बावजूद 'भारत जोड़ो यात्रा' अभियान पर रहना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर 17 अक्टूबर को चुनाव होना है तो हो। हम इसका स्वागत करते हैं। फिर भी पूरे पार्टी संगठन का ध्यान भारत जोड़ो यात्रा को बनाने पर होना चाहिए, जिसे पहले से ही जबरदस्त सफलता मिली है। गहलोत चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के लिए तैयार हैं। थरूर के भी चुनाव लड़ने की उम्मीद है। दो दशकों से अधिक समय में यह पहली बार होगा जब इस पद के लिए दो या दो से अधिक उम्मीदवार प्रतिस्पर्धा करेंगे।

Web Title: Congress asks office-bearers to refrain from commenting on presidential candidates

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे