पीएम नरेंद्र मोदी से 28 जुलाई को मुलाकात करेंगी बंगाल सीएम ममता बनर्जी, जानें क्या है मामला

By सतीश कुमार सिंह | Published: July 22, 2021 06:47 PM2021-07-22T18:47:12+5:302021-07-22T18:49:01+5:30

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि पेगासस स्पाईवेयर का इस्तेमाल कर उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीशों, पत्रकारों, नेताओं और अन्य की जासूसी कराने का प्रकरण अमेरिका में रिचर्ड निक्सन के शासनकाल में सामने आए ‘वाटरगेट’ प्रकरण से भी अधिक खतरनाक है।

cm Mamata Banerjee on Delhi visit next week 28 july meet PM narendra Modi | पीएम नरेंद्र मोदी से 28 जुलाई को मुलाकात करेंगी बंगाल सीएम ममता बनर्जी, जानें क्या है मामला

मुझे राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से मिलने का समय दिया गया है, मैं उनसे मिलूंगी।

Next
Highlightsबनर्जी ने कथित जासूसी को ‘‘महा-आपातकाल’’ करार दिया।भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार ने सभी निष्पक्ष संस्थानों का राजनीतिकरण कर दिया है।मंत्रियों और अधिकारियों पर भी विश्वास नहीं करते।

नई दिल्लीः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वह अगले सप्ताह अपनी दिल्ली यात्रा के दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं से मुलाकात करेंगी। 28 जुलाई को सीएम ममता पीएम मोदी से मुलाकात कर सकती हैं।

गुरुवार को कोलकाता में संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए ममता ने कहा कि उन्हें दिल्ली में कई नेताओं द्वारा आमंत्रित किया गया है। ममता बनर्जी ने कहा, "मैं 2-3 दिनों के लिए (दिल्ली) जाऊंगी। मुझे राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से मिलने का समय दिया गया है, मैं उनसे मिलूंगी। मुझे कई नेताओं से भी मिलना है।"

पेगासस स्पाइवेयर विवाद पर टिप्पणी करते हुए बंगाल के मुख्यमंत्री ने इसे 'वाटरगेट कांड' से भी बदतर बताया। जो निक्सन की अध्यक्षता के दौरान अमेरिका में हुआ था। "पेगासस वाटरगेट घोटाले से भी बदतर है, यह सुपर इमरजेंसी है।" वह सोमवार, 26 जुलाई को दिल्ली आने वाली हैं और राष्ट्रीय राजधानी में पांच दिन बिताएंगी।

लोकतंत्र को कुचलने का क्रूर प्रयास : ममता ने दैनिक भास्कर के परिसरों पर छापेमारी को लेकर कहा

 पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कथित कर चोरी के लिए मीडिया समूह दैनिक भास्कर के खिलाफ आयकर की छापेमारी पर बृहस्पतिवार को निशाना साधते हुए कार्रवाई को लोकतंत्र को कुचलने का “क्रूर प्रयास” और सच सामने लाने वाली आवाजों को दबाने की कोशिश करार दिया। बनर्जी ने कहा कि ये छापेमारी देश में कोविड-19 स्थिति के ‘‘कुप्रबंधन” के बारे में खबरें देने का नतीजा है।

उन्होंने ट्वीट किया, “पत्रकारों और मीडिया संगठनों पर हमला लोकतंत्र को कुचलने की एक और क्रूर कोशिश है। दैनिक भास्कर ने बहादुरी से बताया कि कैसे नरेंद्र मोदी जी पूरे कोविड संकट को गलत तरीके से संभाला और वैश्विक महामारी के प्रकोप के बीच देश को उसके सबसे भयानक दिनों की तरफ ले गए।”

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कहा, “मैं इस प्रतिशोधी कार्रवाई की कड़ी निंदा करती हूं जिसका मकसद सच सामने लाने वाली आवाजों को दबाना है। यह घोर उल्लंघन है जो लोकतंत्र के सिद्धांतों को कमजोर करता है। मीडिया में काम कर रहे हर व्यक्ति से मजबूत बने रहने की अपील करती हूं।

साथ मिलकर हमें इन तानाशाह ताकतों को कामयाब नहीं होने देना है।” आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग ने उत्तर प्रदेश के हिंदी समाचार चैनल भारत समाचार के खिलाफ भी कर चोरी के आरोप में बृहस्पतिवार को छापेमारी की।

Web Title: cm Mamata Banerjee on Delhi visit next week 28 july meet PM narendra Modi

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे