CJI Raman gets a grand welcome in Telugu speaking states | सीजेआई रमण का तेलुगु भाषी राज्यों में भव्य स्वागत
सीजेआई रमण का तेलुगु भाषी राज्यों में भव्य स्वागत

हैदराबाद/तिरुपति, 11 जून भारत के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन वी रमण का तेलुगु भाषी दोनों राज्यों- तेलंगाना और आंध्र प्रदेश- में शुक्रवार को भव्य स्वागत हुआ। तेलंगाना की राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने रविवार को राजभवन में पुष्प गुच्छ प्रदान कर उनकी आगवानी की।

न्यायमूर्ति रमण ने इस साल 24 अप्रैल को भारत के प्रधान न्यायाधीश की शपथ ली थी और शीर्ष न्यायिक पद पर आसीन होने के बाद तेलंगाना का यह उनका पहला दौरा है।

तेलंगाना उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश हिमा कोहली, राज्य के आईटी एवं उद्योग मंत्री केटी रामाराव ने अन्य मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ न्यायमूर्ति रमण की हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आगवानी की।

न्यायमूर्ति तिरुपति में बृहस्पतिवार को रात्रि विश्राम के उपरांत रविवार को यहां पहुंचे थे।

राज्य सरकार ने उनके स्वागत में विशाल पोस्टर लगाए थे। वह अपनी पत्नी शिवमाला के साथ यहां पहुंचे।

न्यायमूर्ति रमण ने हाल में तेलंगाना उच्च न्यायालय में न्यायाधीशों की मौजूदा संख्या में 70 प्रतिशत वृद्धि कर 24 से 42 करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

कुछ बैनर मेट्रो रेल के खंभों पर लगाए गए थे जिन पर उनके इस फैसले के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया गया था।

हैदराबाद पहुंचने से पहले न्यायमूर्ति रमण ने आंध्र प्रदेश के तिरुपति में तिरुमला की पहाड़ियों पर स्थित भगवान वेंकटेश्वर के मंदिर में पूजा अर्चना की।

मंदिर के अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि न्यायमूर्ति रमण और उनके परिवार के सदस्य भगवान वेंकटेश्वर के भक्त हैं और वे बृहस्पतिवार रात को यहां पहुंचे और मंदिर में आयोजित एकांत सेवा अनुष्ठान में हिस्सा लिया।

अधिकारी ने बताया कि बताया कि रात्रि निवास करने के बाद न्यायमूर्ति रमण अपने परिवार के साथ एकदम भोर में मंदिर गए और करीब एक घंटे तक चलने वाले ‘‘अभिषेकम’’ में हिस्सा लिया। प्रत्येक शुक्रवार को भगवान वेंकटेश्वर को गर्भगृह में पुजारियों द्वारा दिव्य स्नान कराया जाता है।

अधिकारी ने बताया कि तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी)के अध्यक्ष वाईवी रेड्डी, कार्यकारी अधिकारी केएस जवाहर रेड्डी, अतिरिक्त कार्यकारी अधिकारी एवी धर्मा रेड्डी ने न्यायमूर्ति रमण की तीर्थ स्थल आने पर अगवानी की।

मंदिर में पूर्जा अर्चना करने के बाद टीटीडी द्वारा संचालित भक्ति चैनल एसवीबीसी से बातचीत करते हुए न्यायूमूर्ति रमण ने कहा कि यह भगवान वेंकटेश्वर की दिव्य कृपा है जिसकी वजह से वह अपने करियर में शीर्ष स्थान पर पहुंचे।

तिरुपति से रवाना होने से पहले न्यायमूर्ति रमण ने तिरुचनूर स्थित देवी श्री पद्मावती के मंदिर में भी पूजा अर्चना की।

अधिकारी ने बताया कि न्यायमूर्ति रमण इस साल दूसरी बार तिरुपति आए, इससे पहले उन्होंने 11 अप्रैल को भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन किए थे।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: CJI Raman gets a grand welcome in Telugu speaking states

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे