CII survey: 63 percent of people willing to travel in three months, 70 percent refuse to travel abroad | सीआईआई सर्वेक्षणः 63 प्रतिशत लोग तीन माह में यात्रा के इच्छुक, 70 प्रतिशत का विदेश यात्रा से इनकार
सर्वेक्षण में शामिल करीब 68 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि साफ-सफाई के पैमाने से उनके होटल की पसंद तय होगी।

Highlights63 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस लॉकडाउन में छूट मिलने के तीन महीने के अंदर यात्रा की तैयारी कर रहे हैंकोरोना वायरस महामारी की वजह से यह सर्वेक्षण ऑनलाइन किया गया और इसमें सीमित संख्या में लोग शामिल हुए।

नयी दिल्ली: भारतीय उद्योग परिसंघ ने उत्तर भारत में किए अपने सर्वे में पाया कि 63 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस लॉकडाउन में छूट मिलने के तीन महीने के अंदर यात्रा की तैयारी कर रहे हैं, लेकिन इनमें से अधिकतर ने किसी अंतरराष्ट्रीय यात्रा से इनकार किया। कोरोना वायरस महामारी की वजह से यह सर्वेक्षण ऑनलाइन किया गया और इसमें सीमित संख्या में लोग शामिल हुए।

सर्वेक्षण में शामिल हुए 250 प्रतिभागी चंडीगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, राजस्थान, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के निवासी थे। सर्वेक्षण में यह भी पाया गया कि कोरोना वायरस बंद के बाद पर्यटकों के लिए ठहरने की जगह चुनने के दौरान जिस बात पर सबसे ज्यादा जोर दिया जाएगा वह है होटल में साफ-सफाई।

सर्वेक्षण में शामिल करीब 68 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि साफ-सफाई के पैमाने से उनके होटल की पसंद तय होगी। करीब 59 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि यात्रा के दौरान वे मास्क, दस्तानों आदि के इस्तेमाल जैसे ऐहतियातों को सबसे ज्यादा महत्व देंगे और हर पांच में से एक प्रतिभागी ने आरोग्य सेतु ऐप को पसंदीदा विकल्प बताया।

सर्वेक्षण में शामिल करीब दो तिहाई प्रतिभागियों ने कहा कि वे बंद से छूट मिलने के तीन महीने के अंदर यात्रा करना पसंद करेंगे। करीब 17 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्हें खुद को तरोताजा करने के लिए यात्रा एक महत्वपूर्ण जरिया लगती है। वहीं 33 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उनके एक महीने के अंदर यात्रा शुरू करने की उम्मीद है, करीब 30 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे तीन महीने तक इंतजार करेंगे। वहीं करीब सात प्रतिशत प्रतिभागी ऐसे थे जिन्होंने कहा कि वे एक साल तक इंतजार करना पसंद करेंगे। सर्वेक्षण में कहा गया, “70 प्रतिशत प्रतिभागियों ने सिर्फ घरेलू यात्रा को तरजीह दी। करीब एक चौथाई प्रतिभागियों ने भारत और विदेश दोनों जगह की यात्रा करना पसंद किया। विदेश यात्रा को तरजीह देने वाले लोग सिर्फ 1.4 प्रतिशत थे।”

सर्वेक्षण में यह भी पाया गया कि अधिकतर लोग कारोबार के सिलसिले में यात्रा (37.4 प्रतिशत) पसंद करेंगे जबकि 32 प्रतिशत ने कहा कि वे अपने परिवार के लोगों के साथ बाहर जाने की योजना बना सकते हैं। इस दौरान हालांकि सिर्फ 2.4 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे अग्रिम बुकिंग करवाएंगे। प्रतिभागियों में से दो तिहाई से ज्यादा ने पर्यटन के लिये प्राकृतिक, वन्यजीव या पहाड़ी स्थलों पर जाने की इच्छा व्यक्त की। कोरोना वायरस प्रसार पर नियंत्रण के लिए देश में 31 मई तक रेल व हवाई यातायात अधितकर बंद हैं।

रेलवे और विमानन मंत्रालय दोनों ने चरणबद्ध तरीके से इसे खोलना शुरू किया है लेकिन सिर्फ आपातकालीन यात्राओं के लिए ही लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। सर्वेक्षण के नतीजों से सामने आया कि कोविड-19 के प्रभाव की वजह से यात्रा और पर्यटन को लेकर लोगों की सोच में थोड़ा बदलाव आया है। 

Web Title: CII survey: 63 percent of people willing to travel in three months, 70 percent refuse to travel abroad
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे