बिहार में शराबबंदी को लेकर चिराग ने नीतीश पर साधा निशाना, कहा-राजस्व कुछ नेताओं और राजनीतिक दलों की जेब में जाता है

By एस पी सिन्हा | Published: December 4, 2022 03:58 PM2022-12-04T15:58:55+5:302022-12-04T15:58:55+5:30

चिराग पासवान ने कहा कि बिहार में शराब की खुले आम बिक्री की जानकारी प्रशासन और सरकार को भी है। ये कहीं न कहीं इकॉनामिक का मामला है।

Chirag Paswan slams Nitish over liquor ban in Bihar, said – revenue goes into the pockets of some leaders and political parties | बिहार में शराबबंदी को लेकर चिराग ने नीतीश पर साधा निशाना, कहा-राजस्व कुछ नेताओं और राजनीतिक दलों की जेब में जाता है

बिहार में शराबबंदी को लेकर चिराग ने नीतीश पर साधा निशाना, कहा-राजस्व कुछ नेताओं और राजनीतिक दलों की जेब में जाता है

Next
Highlightsउन्होंने कहा- सीएम नीतीश कुमार की नाक के नीचे शराब बंदी कानून की धज्जियां उड़ रही हैंचिराग ने कहा- बिहार में शराबबंदी कानून पूरी तरह से फेल हो गई हैबोले - तस्कर अवैध शराब की तस्करी कर खुलेआम शराब बेच रहे हैं

पटना: बिहार में शराबबंदी को लेकर एक बार फिर लोजपा (रामविलास) के प्रमुख व सांसद चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने ने कहा कि बिहार में शराबबंदी कानून पूरी तरह से फेल हो गई है। बिहार में खुलेआम शराब बिक रहा है। तस्कर अवैध शराब की तस्करी कर खुलेआम शराब बेच रहे हैं। 

चिराग ने कहा कि बिहार में शराब की खुले आम बिक्री की जानकारी प्रशासन और सरकार को भी है। ये कहीं न कहीं इकॉनामिक का मामला है। माफियाओं ने समानांतर आर्थिक व्यवस्था खड़ी कर दी है, जो राजस्व पहले सरकार को सीधा मिलता था। अब ये राजस्व कुछ नेताओं और राजनीतिक दलों की जेब में जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इसकी मुख्य वजह यह है कि शराब से जो राजस्व पहले सरकार को सीधा मिलता था, अब ये राजस्व कुछ नेताओं और राजनीतिक दलों की जेब में जा रहा है। माफियाओं ने समानांतर आर्थिक व्यवस्था खड़ी कर दी है।  इसका प्रमाण यह है कि जदयू के तरफ से चुनाव में भी कई जगह ऐसे प्रत्याशी खड़े होते हैं, जो शराब के धंधे से जुडे़ होते हैं। 

उन्होंने कहा कि यह शराबबंदी तो सब जानते हैं कि यह पूरी तरीके से फेल है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नाक के नीचे शराब बंदी कानून की धज्जियां उड़ रही हैं। उन्होंने सिर्फ एक ईगो का मैटर बना कर लिया है। बिना इसकी समीक्षा किए बिना इसकी जानकारी लिए हुए ही वह शराबबंदी सफल का नारा देते है। हकीकत यह है कि कौन नहीं जानता है, खुलेआम बिहार में शराब बिक रहा है। 

शराबबंदी को सफल बनाने के सवाल पर चिराग ने कहा कि मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट पूरी तरीके से फ्लॉप प्रोजेक्ट है। इसको सफल बनाने के लिए पहले समीक्षा करनी होगी। चिराग ने कहा कि हर पंचायत में अवैध शराब का निर्माण हो रहा है। यही कारण है कि आए दिन जहरीली शराब से मरने की खबरें आती है। सिर्फ ईगो के वजह से मुख्यमंत्री शराबबंदी को सफल बता रहे हैं। 

चिराग ने कहा कि आम आदमी को पता है कहां शराब मिलती है? शराब कहां बनती है? तो क्या पुलिस वालों को नहीं है पता? उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी भले ही डंका पीटकर यह कहते फिरते हो कि राज्य में शराबंदी कानून लागू है।

Web Title: Chirag Paswan slams Nitish over liquor ban in Bihar, said – revenue goes into the pockets of some leaders and political parties

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे