Chhoti also died while mourning over the body of elder sister in Mathura, the funeral of the two took place together. | मथुरा में बड़ी बहन के शव पर विलाप करते हुए छोटी ने भी प्राण त्यागे, साथ में हुआ दोनों का अंतिम संस्कार
मथुरा में बड़ी बहन के शव पर विलाप करते हुए छोटी ने भी प्राण त्यागे, साथ में हुआ दोनों का अंतिम संस्कार

जिले के चौमुहां गांव में बड़ी बहन के निधन से सदमाग्रस्त छोटी बहन ने उसके शव पर विलाप करते हुए प्राण त्याग दिए। मथुरा से करीब 15 किमी. दूर जैंत गांव के निवासी राम सिंह की दोनों बेटियों की उम्र में नौ साल का अंतर था। 50 साल पहले बड़ी बहन मोहन देवी की शादी चौमुहां गांव के निवासी केशवदेव से हुई। छोटी बहन शीला की शादी भी उसी परिवार में हो गई।

बताया जाता है कि बुधवार 11 सितंबर को लंबी बीमारी के चलते मोहन देवी का निधन हो गया। शीला को बहन की मौत का गहरा आघात लगा। मोहन देवी के शव से लिपट कर रोती शीला अचानक चुप हो गई। अंतिम संस्कार के लिए शव ले जाने की तैयारी की जा रही थी। शीला को जब हटाया गया तब पता चला कि वह दम तोड़ चुकी थी।

दोनों बहनों की शव यात्रा साथ ही निकली और अंतिम संस्कार किया गया।


Web Title: Chhoti also died while mourning over the body of elder sister in Mathura, the funeral of the two took place together.
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे