Center planning political discussions in Kashmir: Officials | कश्मीर में राजनीतिक चर्चाओं की योजना बना रहा है केंद्र :अधिकारी
कश्मीर में राजनीतिक चर्चाओं की योजना बना रहा है केंद्र :अधिकारी

नयी दिल्ली, 11 जून केंद्र सरकार आने वाले दिनों में जम्मू कश्मीर में अनेक राजनीतिक पहल करने जा रही है जिसमें केंद्रशासित प्रदेश के मुख्यधारा के दलों से विचार-विमर्श करना और अगले साल विधानसभा चुनाव कराना शामिल हो सकता है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह बात कही।

संसद द्वारा जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक पारित किये जाने के फौरन बाद न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) रंजना देसाई की अध्यक्षता में गठित परिसीमन आयोग अपना काम तेज कर सकता है और रिपोर्ट सौंप सकता है।

आयोग का गठन फरवरी 2020 में किया गया था और मार्च में उसका कार्यकाल एक साल बढ़ा दिया गया। केंद्रीय नेतृत्व आने वाले सप्ताहों में बातचीत के लिए फारूक अब्दुल्ला नीत नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, अल्ताफ बुखारी की जम्मू कश्मीर अपनी पार्टी और पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के सज्जाद लोन को भी आमंत्रित कर सकता है।

अधिकारियों ने कहा कि इस तरह की बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा करने की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता। इन बैठकों में भाजपा और कांग्रेस की राज्य इकाइयां भी भाग ले सकती हैं।

केंद्र सरकार ने पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर राज्य के विशेष दर्जे को समाप्त करके पांच अगस्त, 2019 को लद्दाख को अलग करके जम्मू कश्मीर को केंद्रशासित प्रदेश बनाया था। केंद्र के चर्चा करने के प्रयासों को यहां लोकतंत्र बहाल करने की दिशा में उठाये जा रहे कदमों के रूप में देखा जा रहा है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Center planning political discussions in Kashmir: Officials

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे