भाजपा झूठी पार्टी, इसे हटाइए : अखिलेश यादव

By भाषा | Published: July 21, 2021 08:59 PM2021-07-21T20:59:18+5:302021-07-21T20:59:18+5:30

BJP a false party, remove it: Akhilesh Yadav | भाजपा झूठी पार्टी, इसे हटाइए : अखिलेश यादव

भाजपा झूठी पार्टी, इसे हटाइए : अखिलेश यादव

Next

लखनऊ/ उन्नाव, 21 जुलाई समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि ''भाजपा झूठी पार्टी है, इसे हटाइए।''

बुधवार को उन्नाव जिले के सरौसी गांव के मनोहर लाल इंटर कालेज में स्‍थापित पूर्व मंत्री मनोहर लाल की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद उपस्थित समूह को संबोधित करते हुए सपा प्रमुख यादव ने कहा कि ''भाजपा के लोग झगड़ा लगाने का काम करते हैं। भाजपा ने पंचायत चुनावों में नोट का इस्तेमाल किया और ब्लाक प्रमुख तथा जिला पंचायत अध्यक्षों के पद हथिया लिए। भाजपा ने सरकारी संस्थाओं को बेच दिया है।''

सपा मुख्‍यालय से जारी बयान के अनुसार सपा प्रमुख बुधवार को क्रांति रथ पर सवार होकर लखनऊ से उन्नाव के लिए रवाना हुए और लखनऊ-कानपुर राजमार्ग पर उनका जगह-जगह भव्‍य स्‍वागत किया गया। उन्‍नाव में अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि ''भाजपा सरकार के रहते नौजवानों की बेकारी बढ़ी, महंगाई बेलगाम हुई। साढ़े चार साल में एक फैक्ट्री प्रदेश में नहीं लगी है। लोगों को इस सरकार ने भुखमरी के कगार पर पहुंचा दिया है।'' भाजपा को सत्ता से हटाने का आह्वान करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा किया कि समाजवादी पार्टी इस बार 350 सीटें जीतेगी।

कई बार विधायक, सांसद और मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री रहे मनोहर लाल को नमन करते हुए यादव ने कहा कि आज यहां बड़ी रैली होनी थी जिसकी प्रशासन ने अनुमति नहीं दी लेकिन जब कोविड खत्म होगा तो लाखों लोगों की रैली होगी। उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि मनोहर लाल जीवनभर गरीबों, दलितों, पिछड़ों की आवाज उठाते रहे और उनके लिए संघर्ष करते रहे।

यादव ने कहा कि 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए बहुत कम समय बचा है। भाजपा ने जनता को बुरी तरह निराश किया है, इसलिए समाज के सभी वर्गों के लोग भाजपा सरकार को हटाना चाहते है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ही भाजपा का विकल्प है। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की सरकार रही तो इसी तरह बेरोजगारी बढ़ती रहेगी। न नौकरी मिलेगी और न ही रोजगार मिलेगा। तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा ने एक करोड़ नौकरी देने का वादा किया था, वादा तो पूरा नहीं किया उल्टे मंहगाई इतनी बढ़ा दी कि जो मुफ्त में सिलेंडर मिले थे वह भी मंहगाई के चलते भराए नहीं जा सकते।

यादव ने कहा, ‘‘बड़े बड़े कार्यक्रम करके उद्योग लाने के दावे किये गये थे लेकिन बताइए कितना निवेश आया। मंहगाई बढ़ा दी, किसान की आय दो गुनी कर नहीं पाए बल्कि उनकी आय कम कर दी है। रोजगार दिये नहीं बेरोजगारी बढ़ गयी।’’

कोरोना वायरस पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की नाकामी सबके सामने है, तीसरी लहर की चर्चा है पर भाजपा सरकार इसके लिए क्या तैयारियां कर रही है, पता नहीं? उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा झूठ बोलने वाली पार्टी है, वह गुमराह करती है। सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के समय जनता को अनाथ छोड़ दिया।’’ उन्‍होंने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा सरकार के समय नेताओं, पत्रकारों आदि कई लोगों की जासूसी की खबरें है। भाजपा का राज्य विधानसभा, संसद तक भारी बहुमत है, फिर उसे जासूसी कराने की क्या जरूरत आ पड़ी? जासूसी करना दंडनीय अपराध है। भाजपा के फैसले जनहित में नहीं है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: BJP a false party, remove it: Akhilesh Yadav

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे