Bihar's labor resources minister Jeevesh Mishra Returning migrant laborers jobs in the state loan of Rs 10 lakh | बिहार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा बोले- लौट रहे प्रवासी मजदूरों को राज्य में नौकरी, 10 लाख रुपये का लोन
सरकार ने अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों के लिए मुख्यमंत्री उद्यमी योजना आरंभ की है.

Highlightsकोरोना के कारण बिहार के प्रवासी मजदूर एक बार फिर से पलायन करने को मजबूर हैं.  मंत्री ने कहा कि इसमें सरकार की ओर से पांच लाख का अनुदान दिया जाएगा.शेष बचे पांच लाख  84 किस्तों में उन्हें वापस करना होगा.

पटनाः कोरोना से मचे कोहराम के चलते अन्य प्रदेशों से वापस बिहार लौट रहे प्रवासी मजदूरों के लिए सरकार ने एक बड़ा एलान किया है.

राज्य के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने आज कहा कि कोरोना महामारी के कारण पलायन को मजबूर प्रवासी मजदूरों को बिहार में ही नौकरी दी जाएगी. उन्होंने कहा कि कोरोना के समय दूसरे राज्य से बिहार आने वाले मजदूरों के लिए रोजगार की व्यवस्था की जा रही है. इसके लिए उनकी कुशलता को देखते हुए 10 लाख रुपये का लोन उन्हें दिया जाएगा.

कोरोना के कारण बिहार के प्रवासी मजदूर एक बार फिर से पलायन करने को मजबूर हैं. मंत्री ने कहा कि इसमें सरकार की ओर से पांच लाख का अनुदान दिया जाएगा, शेष बचे पांच लाख  84 किस्तों में उन्हें वापस करना होगा ताकि वे सुचारू रूप से अपना रोजगार कर सकें. सरकार ने अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों के लिए मुख्यमंत्री उद्यमी योजना आरंभ की है.

इसके अंतर्गत सरकार द्वारा उद्योग स्थापित करने पर 10 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी. उन्होंने कहा कि मजदूरों के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया गया है, जिससे उन्हें आने में काफी सहूलियत होगी. इसके लिए बिहार सरकार के श्रम संसाधन विभाग ने प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम बनाया है.

प्रवासी श्रमिक टोल फ्री नंबर नंबर 18003456138 पर फोन करके कंट्रोल रूम से बात कर सकते हैं. जीवेश मिश्रा ने कहा कि बिहार के किसी भी जिले में रहने वाले प्रवासी मजदूर टोल फ्री नंबर पर फोन कर सेवा ले सकते हैं. उन्हें 24 घंटे के भीतर सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. उन्होंने कहा कि पंचायत स्तर पर मैपिंग की जा रही है.

तकरीबन 9.30 लाख श्रमिकों के डाटा बनाया गया है. जबकि उद्योग विभाग के सहायता से मुख्यमंत्री के नेतृत्व में उद्यमी योजना से बिहार में ही रोजगार दिया जाएगा. जो लोग मनरेगा में काम करना चाहते हैं, उनके लिए भी सरकार तत्पर है.  जो लोग बिहार में काम करना चाहते हैं, उनके लिए प्रोत्साहन राशि भी दी जा रही है.

Web Title: Bihar's labor resources minister Jeevesh Mishra Returning migrant laborers jobs in the state loan of Rs 10 lakh

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे