Bihar Political Crisis: सीएम नीतीश ने सोनिया गांधी से की बात!, बीजेपी और जदयू में खींचतान जारी, जानें क्या है माजरा

By एस पी सिन्हा | Published: August 8, 2022 08:27 PM2022-08-08T20:27:43+5:302022-08-08T20:35:01+5:30

Bihar Political Crisis: सोनिया गांधी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव से बात करने से मना कर दिया है. पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने सत्ता परिवर्तन की स्थिति में तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने पर अड़ी हुई हैं.

Bihar Political Crisis CM Nitish Kumar talk congress sonia gandhi tussle BJP and JDU nda rjd lalu yadav rabri devi  | Bihar Political Crisis: सीएम नीतीश ने सोनिया गांधी से की बात!, बीजेपी और जदयू में खींचतान जारी, जानें क्या है माजरा

बिहार कांग्रेस ने सभी विधायकों को आज शाम पटना में पहुंचने का फरमान जारी किया गया है. (file photo)

Next
Highlightsबिहार विधान सभा चुनाव के बाद राजद और कांग्रेस के रिश्ते में खटास आई.कांग्रेस ने प्रतिरोध मार्च में हिस्सा लिया. राष्ट्रपति चुनाव के समय भी कांग्रेस- राजद एक मंच पर यशवंत सिंहा के पक्ष में दिखे.

पटनाः बिहार में जारी सियासी उथल पुथल के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से संपर्क बनाये हुए हैं. सूत्रों के अनुसार सरकार बनाने को लेकर चर्चा हुई है. यह तय माना जा रहा है कि सरकार में कांग्रेस भी शामिल होगी. सूत्र ने कहा कि कांग्रेस समर्थन कर सकती है.

कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी ने नीतीश कुमार को भरोसा दिया है कि किसी भी विपरीत परिस्थिति के लिए उनकी पार्टी बिहार में जदयू के साथ खड़ी रहेगी. सूत्रों की मानें तो पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने सत्ता परिवर्तन की स्थिति में तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने पर अड़ी हुई हैं.

ऐसे में सूत्र बताते हैं कि नीतीश कुमार के द्वारा सोनिया गांधी को इस बात के लिए मनाने की कोशिश की जा रही है कि वह (सोनिया गांधी) लालू प्रसाद यादव को इस बात के लिए तैयार करें कि महागठबंधन की सरकार बने और नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री बने. लेकिन सोनिया गांधी यह पहल नहीं करना चाहतीं. सूत्र यह भी बता रहे हैं कि सोनिया गांधी ने इसको लेकर लालू प्रसाद यादव से बात करने से मना कर दिया है.

उल्लेखनीय है कि जब सोनिया गांधी के विदेशी मूल का मुद्दा उठा था उस समय लालू प्रसाद यादव ऐसे बडे़ नेता थे, जिन्होंने भारतीय संस्कृति की व्याख्या की थी और सोनिया गांधी का साथ दिया था. ऐसे भी लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार में से ज्यादा बडे़ धर्मनिरपेक्ष नेता लालू प्रसाद यादव को माना जाता है.

वहीं, बिहार विधान सभा चुनाव के बाद राजद और कांग्रेस के रिश्ते में खटास आई लेकिन कांग्रेस ने प्रतिरोध मार्च में हिस्सा लिया. इससे पहले राष्ट्रपति चुनाव के समय भी कांग्रेस- राजद एक मंच पर यशवंत सिंहा के पक्ष में दिखे. उधर, बिहार कांग्रेस ने सभी विधायकों को आज शाम पटना में पहुंचने का फरमान जारी किया गया है.

विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि बदलते हुए राजनीतिक हालात पर नज़र है. उन्होंने बताया कि दिल्ली मुख्यालय से कांग्रेस के प्रभारी भक्तचरण दास भी पटना आ गये हैं. इस बीच कांग्रेस सचिव व विधायक शकील अहमद खां ने कहा है कि नीतीश कुमार सर्वमान्य नेता हैं. वे अगर भाजपा को छोड़ें तो हम लोगों के साथ आएं. हमारे यहां भी मुख्यमंत्री रहे. उन्हें हमारा समर्थन मिलेगा.

शकील ने कहा कि देश की राजनीति के लिए नीतीश कुमार आवश्यक. भाजपा के खिलाफ वो सशक्त होकर लड़ सकते हैं. उन्होंने एक प्रश्न पर कहा कि सोनिया गांधी से नीतीश कुमार की क्या बात हुई है इसकी जानकारी नहीं है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक है, इसमे हमलोग सलाह मशविरा करेंगे कि अभी की जो राजनीतिक स्थिति है, उसको कैसे हमलोग आगे बढाएं.

Web Title: Bihar Political Crisis CM Nitish Kumar talk congress sonia gandhi tussle BJP and JDU nda rjd lalu yadav rabri devi 

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे