बिहार पंचायत चुनाव: गोलियों की तड़तड़ाहट और झड़प के बीच पहले चरण का मतदान, मुंगेर में पुलिस पर हमला

By एस पी सिन्हा | Published: September 24, 2021 10:27 PM2021-09-24T22:27:00+5:302021-09-24T22:30:52+5:30

बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण में राज्य के कुल 10 जिलों में मतदान हुआ. इनमें जमुई, अरवल, गया, कैमूर, नवादा, बांका, रोहतास, औरंगाबाद, जहानाबाद और मुंगेर शामिल है.

Bihar Panchayat elections 2021: First phase polling ends amid clashes | बिहार पंचायत चुनाव: गोलियों की तड़तड़ाहट और झड़प के बीच पहले चरण का मतदान, मुंगेर में पुलिस पर हमला

बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान (फाइल फोटो)

Next

पटना: बिहार में पंचायत चुनाव के पहले चरण में शुक्रवार को ग्राम पंचायत सदस्य, ग्राम कचहरी पंच, मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य व जिला परिषद के पदों के लिए मतदान हुआ. इस दौरान कहीं गोलियों की तड़तड़ाहट की गूंज सुनाइ दी तो कहीं बूथ लूट का प्रयास किया गया. बावजूद इसके मतदाताओं का उत्साह चरम पर रहा. 

मुंगेर में पुलिस पर हमला कर पुलिस गाड़ी को क्षतिग्रस्‍त कर दिया गया, तो औरंगाबाद जिले में दो प्रत्याशी आपस में ही भिड़ गये और गोलियों की बौछार कर दी. 

बिहार पंचायत चुनाव: 10 जिलों में हुआ मतदान

राज्य के कुल 10 जिलों में मतदान हुआ. इनमें जमुई, अरवल, गया, कैमूर, नवादा, बांका, रोहतास, औरंगाबाद, जहानाबाद और मुंगेर शामिल है. गया, नवादा व औरंगाबाद में भी हिंसक झडपों की सूचना मिली है. 

औरंगाबाद जिले के सदर प्रखंड के नौगढ पंचायत अंतर्गत बिसैनि गांव में एक मुखिया प्रत्याशी के पति के द्वारा फायरिंग किया गया. प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ लोगो ने बूथ को घेर लिया था, महिला पुलिस द्वारा मना करने के बाद प्रत्याशी द्वारा धमकी दिया जा रहा था, इसी में रोड़ेबाजी हुई और पुलिस द्वारा हवाई फायरिंग की गई. 

जिले के डीएम सौरभ जोरवाल ने बताया कि इस मामले 6 लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है. इधर घटना के बाद डीएम और एसपी घटना स्थल पर कैम्प कर रही हैं. डीएम ने कहा कि जो भी लोग कानून के हाथ मे लिए हैं, उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा.

पहले चरण में 10 जिलों के 12 प्रखंडों में 15,328 प्रत्याशियों ने विभिन्न पदों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया था, जिनमें से 858 पदों पर प्रत्याशी निर्विरोध विजयी रहे, जबकि 72 पदों पर किसी भी प्रत्याशी ने नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया. 

पहले चरण में करीब 55 फीसदी मतदान

पहले चरण के मतदान के लिए 12 हजार से अधिक पुलिस पदाधिकारी और कर्मी तैनात किए गए थे. पहले चरण में 156 मतदान भवन नक्सल प्रभावित इलाकों में थे. इसको देखते हुए राज्य पुलिस मुख्यालय ने सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए थे. 

पुलिस मुख्यालय के अनुसार सभी मतदान भवनों, सेक्टर, ईवीएम क्लस्टर, जोन एवं अनुमंडलीय व जिला स्तरीय कंट्रोल रूम के लिए 2300 से अधिक पुलिस पदाधिकारी एवं 10 हजार से अधिक जिला पुलिस बल, होमगार्ड, बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस व सैप के जवानों को प्रतिनियुक्त किया गया था. 

मुख्यालय ने कहा कि निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए पूरी तैयारी की गई थी. पहले चरण के मतदान में 55 फीसदी मतदान होने की खबर है. 

Web Title: Bihar Panchayat elections 2021: First phase polling ends amid clashes

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे