Bihar CM Nitish Kumar announced Rs 2 lakhs each to the victims of Delhi Fire incident | दिल्ली में आग से 43 मरे, बिहार CM नीतीश कुमार ने किया 2 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान
अरविंद केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये और घायलों को 1 लाख रुपये का मुआवजा देने का किया ऐलान।

Highlightsदिल्ली में हुए अग्निकांड में रविवार को 43 लोगों की मौत हो गई हैनीतीश कुमार ने पीड़ितों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की

दिल्ली में हुए अग्निकांड में रविवार को 43 लोगों की मौत हो गई है, इसके साथ ही कई लोगों के घायल होने की खबर है। इस घटना पर दुख जताते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीड़ितों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जबकि प्रधानमंत्री मोदी ने ऐलान किया कि दिल्ली आग की घटना में अपनी जान गंवाने वालों मृतकों के परिजनों को प्रधानमंत्री राहत कोष से 2-2 लाख रुपये मुआवजा और गंभीर रूप से घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये दिया जाएगा। 

इसके अलावा दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये और घायलों को 1 लाख रुपये का मुआवजा देने का किया ऐलान। इसके साथ ही घायलों का इलाज भी राज्य सरकार करवाएगी। बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने ऐलान किया कि पार्टी की तरफ से पीड़ितों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के उप-कमांडेंट आदित्य प्रताप सिंह ने बताया कि राहत और बचाव अभियान अभी भी जारी है, हम अभी भी इमारत में फंसे लोगों को खोज कर रहे हैं।

दिल्ली अग्निशमन सेवा के अधिकारियों ने बताया कि आग लगने की जानकारी सुबह पांच बजकर 22 मिनट पर मिली जिसके बाद दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया। उन्होंने बताया कि 150 दमकल कर्मियों ने बचाव अभियान चलाया और 63 लोगों को इमारत से बाहर निकाला। 

दमकल अधिकारियों ने बताया कि 43 श्रमिक मारे गए और दो दमकल कर्मी घायल हुए हैं। इस बीच, बिजली वितरण कंपनी बीवाईपीएल ने दावा किया कि इमारत के भूतल पर लगे मीटर सुरक्षित हैं, जिससे प्रतीत होता है कि आग किसी अन्य कारण की वजह से लगी। वहीं दिल्ली पुलिस ने फैक्ट्री के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि फैक्ट्री मालिक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (गैरइरादन हत्या) के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

दिल्ली सरकार ने आग लगने की घटना में मारे गए लोगों को 10 । 10 लाख रुपये और झुलसे लोगों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया। घटनास्थल पर हृदय विदारक दृश्य था। फैक्ट्री में काम कर रहे लोगों के रिश्तेदार और स्थानीय लोग घटनास्थल की ओर भाग रहे थे। 

आग की चपेट में आए लोगों के परेशान परिजन विभिन्न अस्पतालों में अपने संबंधियों को खोज रहे थे। दमकल अधिकारियों ने बताया कि इलाके के संकरा होने के कारण बचाव कार्य को अंजाम देने में दिक्कत आ रही है। जब आग लगी तो कई मजदूर गहरी नींद में थे। इमारत में हवा आने-जाने की उचित व्यवस्था नहीं थी इसलिए कई लोगों की जान दम घुटने से चली गई। सभी झुलसे हुए लोगों और मृतकों को आरएमएल अस्पताल, एलएनजेपी और हिंदू राव अस्पताल ले जाया गया है, जहां लोग अपने रिश्तेदारों को ढूंढने में लगे हैं। बिहार के बेगूसराय के रहने वाले 23 वर्षीय मनोज ने बताया कि उनका 18 साल का भाई इस हैंडबैग बनाने वाली इकाई में काम करता है। 

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरे भाई के दोस्त से मुझे जानकारी मिली कि वह इस घटना में झुलस गया है। मुझे कोई जानकारी नहीं है कि उसे किस अस्पताल में ले जाया गया है। ’’ वहीं एक बुजुर्ग व्यक्ति ने कहा, ‘‘कम से कम इस इकाई में 12-15 मशीनें लगी हुई हैं। मुझे इसकी जानकारी नहीं है कि फैक्ट्री मालिक कौन है।’’ 

व्यक्ति ने कहा, ‘‘मेरे संबंधी मोहम्मद इमरान और इकरमुद्दीन फैक्ट्री के भीतर ही थे और मुझे इसकी जानकारी नहीं है कि अब वे कहां हैं।’’ उन्होंने बताया कि इस परिसर में कई इकाइयां चल रही हैं। यह इलाका बेहद संकरा है। एलएनजेपी के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर किशोर सिंह ने बताया कि इस अस्पताल में 34 लोगों को मृत लाया गया था और लोगों के मरने की मुख्य वजह धुएं की चपेट में आकर दम घुटना है। कुछ शव जले हुए थे। उन्होंने बताया कि एलएनजेपी में लाए गए 15 झुलसे लोगों में से नौ निगरानी में हैं और कई आंशिक रूप से झुलसे हैं। घटना पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री सहित कई नेताओं ने दुख जताया है। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ दिल्ली के रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी क्षेत्र में आग लगने की घटना बेहद भयानक है। मृतकों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। मैं घायलों के जल्द सेहतमंद होने की कामना करता हूं। ’’ उन्होंने लिखा, ‘‘ घटनास्थल पर अधिकारी हरसंभव मदद मुहैया करा रहे हैं।’’ 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटनास्थल का दौरा किया। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिवारों के लिए 10-10 लाख रुपये और झुलसे लोगों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा राशि देने की घोषणा की है। इससे पहले मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट किया था ‘‘ बेहद दुखद। बचाव अभियान जारी है और दमकलकर्मी हर संभव प्रयास कर रहे हैं। आग में झुलसे लोगों को अस्पताल ले जाया जा रहा है।’’ दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने जिला मजिस्ट्रेट (मध्य) को जांच करने और सात दिन के अंदर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, अनुराग ठाकुर, भाजपा सांसद मनोज तिवारी और विजय गोयल सहित कई नेता घटनास्थल पर पहुंचे।

Web Title: Bihar CM Nitish Kumar announced Rs 2 lakhs each to the victims of Delhi Fire incident
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे