bihar bjp mla hari bhushan thakur bachol gave controversial statement religion nda cm nitish kumar | भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर के बिगडे़ बोल, कहा-सबसे बड़ा झूठ है 'मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना'
हरिभूषण ठाकुर दरभंगा में आयोजित तीन दिवसीय विद्यापति पर्व समारोह के दूसरे दिन कार्यक्रम का उद्घाटन करने पहुंचे थे. (file photo)

Highlightsहमारी संस्कृति सिखाती है कि पत्थर में भी भगवान हैं, हर चीज में देवता हैं.हम राम-कृष्ण, गीता, आदि शंकराचार्य और विद्यापति को मानने वाले लोग हैं.दरभंगा में महाकवि विद्यापति की स्मृति में आयोजित मिथिला विभूति पर्व समारोह के दौरान कही.

पटनाः बिहार के मधुबनी जिले के बिस्फी से भाजपा के विधायक हरिभूषण ठाकुर के द्वारा दिये गये एक विवादित बयान ने राजनीति को गर्मा दिया है.

उन्होंने कहा है कि "मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना" दुनिया का सबसे बड़ा झूठ है. उन्होंने इशारों ही इशारों में कहा कि एक संप्रदाय के लोगों के लिए वे खूब काम करते हैं, खून देते हैं पर वह उन्हें वोट नहीं करता, क्योंकि वह भाजपा से आते हैं. दरभंगा में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक हरिभूषण ठाकुर ने कहा कि 'मजहब खूब सिखाता है आपस में बैर रखना.' 

विधायक हरिभूषण ठाकुर इतने पर ही नहीं रुके. अपना ज्ञान बिखरते हुए कहा कि "मजहब दुष्‍कर्म करना भी सिखाता है." इस घटना के बाद बिहार में सियासत गर्मा गई है. विपक्ष हमलावर है तो सत्‍ता पक्ष सफाई दे रहा है. विधायक हरिभूषण ठाकुर दरभंगा में आयोजित तीन दिवसीय विद्यापति पर्व समारोह के दूसरे दिन कार्यक्रम का उद्घाटन करने पहुंचे थे, जहां उन्होंने मंच से जनता को संबोधित भी किया.

संस्कृति सिखाती है कि पत्थर में भी भगवान हैं, हर चीज में देवता

इसी दौरान हरिभूषण ठाकुर ने कहा कि 'मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना दुनिया में सबसे बड़ा झूठ है, मजहब खूब सिखाता है आपस में बैर करना, मजहब सिखाता है कि कोई आपकी बात नहीं मानता है तो काट दो, रेप कर दो. लेकिन हमारी संस्कृति सिखाती है कि पत्थर में भी भगवान हैं, हर चीज में देवता हैं.

पांच सौ साल पहले तुलसीदास ने लिखा कि जड़-चेतन सबमें भगवान हैं. हम राम-कृष्ण, गीता, आदि शंकराचार्य और विद्यापति को मानने वाले लोग हैं. लेकिन जब इनकी चर्चा करते हैं तो लोगों को लगता है कि ये हमारे मजहब के दुश्मन हैं. हो सकता है कि 47 के पहले, 69-71 से पहले बांग्लादेश में भी विद्यापति पर्व मनाया जाता हो, होली-दिवाली, रामायण, गीता कश्मीर में भी हुआ करते थे, लेकिन अब कहां हैं. हो सकता है कि सौ-दो सौ साल में दरभंगा से भी चले जाएं इसलिए सभी लोग संकल्प लें कि मर जाएंगे, कट जाएंगे लेकिन अपनी संस्कृति को नहीं छोड़ेंगे.'

भाजपा विधायक के बयान के बाद विपक्ष हमलावर

ऐसे में भाजपा विधायक के बयान के बाद विपक्ष हमलावर है तो सत्ताधारी एनडीए ने अपनी सफाई में इसे उनका निजी बयान बता पल्‍ला झाड़ लिया है. कांग्रेस नेता प्रेमचंद मिश्रा ने भाजपा विधायक के बयान को आपत्तिजनक बताते हुए उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है.

उन्‍होंने कहा है कि भाजपा नेता ही ऐसी बातें कर सकते हैं. जबकि राजद नेता शक्ति यादव ने भी बयान की निंदा करते हुए मजहब को एकता व प्रेम का मार्ग बताया है. हालांक मामले को तूल पकडते देख भाजपा के प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि मजहब बैर रखना नहीं सिखाता. इस संबंध में विधायक हरिभूषण ठाकुर के बयान से पार्टी का कोई वास्‍ता नहीं है, यह उनका निजी बयान है. उन्‍होंने यह भी कहा कि कुछ लोगों द्वारा मजहब की आड़ में नफरत फैलाने की कोशिश की जाती है, वह गलत है.

Web Title: bihar bjp mla hari bhushan thakur bachol gave controversial statement religion nda cm nitish kumar

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे