अग्निपथ योजना को लेकर पंजाब सरकार को सेना के पत्र पर भगवंत मान बोले- 'किसी भी ढिलाई को...'

By मनाली रस्तोगी | Published: September 14, 2022 04:46 PM2022-09-14T16:46:09+5:302022-09-14T16:47:00+5:30

भारतीय सेना के एक क्षेत्रीय भर्ती अधिकारी ने कथित तौर पर पंजाब सरकार को पत्र लिखकर कहा कि राज्य में अल्पकालिक अग्निपथ योजना के तहत भर्ती रैलियों को निलंबित या अन्य राज्यों में स्थानांतरित किया जा सकता है। क्षेत्रीय भर्ती अधिकारी ने दावा किया कि स्थानीय नागरिक प्रशासन से समर्थन नहीं मिल रहा था।

Bhagwant Mann tweets after Army's letter to Punjab over Agnipath | अग्निपथ योजना को लेकर पंजाब सरकार को सेना के पत्र पर भगवंत मान बोले- 'किसी भी ढिलाई को...'

अग्निपथ योजना को लेकर पंजाब सरकार को सेना के पत्र पर भगवंत मान बोले- 'किसी भी ढिलाई को...'

Next
Highlightsपंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सभी उपायुक्तों को राज्य में अग्निवीरों की भर्ती के लिए भारतीय सेना के अधिकारियों को पूरा समर्थन प्रदान करने का निर्देश दिया।क्षेत्रीय भर्ती अधिकारी ने दावा करते हुए कहा था कि पंजाब सरकार की ओर से सेना को समर्थन नहीं मिल रहा था।मान ने कहा कि राज्य से सेना में अधिक से अधिक उम्मीदवारों की भर्ती के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा।

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बुधवार को कहा कि सभी उपायुक्तों को राज्य में अग्निवीरों की भर्ती के लिए भारतीय सेना के अधिकारियों को पूरा समर्थन प्रदान करने का निर्देश दिया गया है। मान का बयान ट्विटर पर तब आया जब भारतीय सेना के एक क्षेत्रीय भर्ती अधिकारी ने कथित तौर पर पंजाब सरकार को लिखा कि राज्य में अल्पकालिक अग्निपथ योजना के तहत भर्ती रैलियों को अन्य राज्यों में स्थानांतरित किया जा सकता है।

क्षेत्रीय भर्ती अधिकारी ने दावा करते हुए कहा था कि पंजाब सरकार की ओर से सेना को समर्थन नहीं मिल रहा था। मान ने भारतीय सेना के पत्र पर द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट का जवाब देते हुए लिखा, "सभी उपायुक्तों को पंजाब में अग्निवीरों की भर्ती के लिए सेना अधिकारियों को पूर्ण सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया गया। किसी भी ढिलाई को गंभीरता से लिया जाएगा। राज्य से सेना में अधिक से अधिक उम्मीदवारों की भर्ती के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा।"

जालंधर के जोनल रिक्रूटमेंट ऑफिसर मेजर जनरल शरद बिक्रम सिंह ने 8 सितंबर को पंजाब के मुख्य सचिव वीके जंजुआ और प्रमुख सचिव, रोजगार सृजन, कौशल विकास और प्रशिक्षण, कुमार राहुल को लिखे अपने पत्र में कहा था, "हम आपके ध्यान में लाने के लिए विवश हैं कि स्थानीय नागरिक प्रशासन का समर्थन बिना किसी स्पष्ट प्रतिबद्धता के कम हो रहा है। वे आमतौर पर चंडीगढ़ में राज्य सरकार के निर्देशों की कमी या धन की कमी के कारण अपनी अपर्याप्तता का हवाला दे रहे हैं।"

मेजर जनरल ने यह भी कहा था कि वह राज्य में अग्निपथ के तहत सभी भर्ती रैलियों को "स्थगित" करने के लिए या वैकल्पिक रूप से पड़ोसी राज्यों में रैलियों का संचालन करने के लिए सेना मुख्यालय के साथ इस मामले को उठाएंगे। केंद्र ने सेना, नौसेना और वायु सेना में साढ़े 17 से 21 साल की उम्र के युवाओं की भर्ती के लिए जून में अग्निपथ योजना शुरू की थी, जो मोटे तौर पर चार साल के अनुबंध के आधार पर थी। बाद में सरकार ने इस साल की भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा को 23 कर दिया।

Web Title: Bhagwant Mann tweets after Army's letter to Punjab over Agnipath

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे