स्कूल में अचानक चेकिंग के दौरान छात्रों के बैग से निकले कॉन्डम, गर्भनिरोधक गोलियां, सिगरेट! हैरान रह गए शिक्षक

By विनीत कुमार | Published: November 30, 2022 01:05 PM2022-11-30T13:05:07+5:302022-11-30T13:16:05+5:30

बेंगलुरु में कई स्कूलों में अचानक बैग चेकिंग के दौरान छात्रों के पास से कॉन्डम, गर्भनिरोधक गोलियां, शराब, सिगरेट जैसी कई चीजें मिली। इसके बाद से शिक्षक और अभिभावक भी हैरान हैं।

Bengaluru news condoms, contraceptive pills, cigarettes from school bags during checking | स्कूल में अचानक चेकिंग के दौरान छात्रों के बैग से निकले कॉन्डम, गर्भनिरोधक गोलियां, सिगरेट! हैरान रह गए शिक्षक

स्कूल बैग से मिले कॉन्डम, गर्भनिरोधिक गोलियां, सिगरेट जैसी चीजें (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Next
Highlightsबेंगलुरु में कई स्कूलों में अचानक छात्रों के बैग की तलाशी में मिली चौंकाने वाली चीजें।छात्र-छात्राओं के बैग से कॉन्डम, सिगरेट, लाइटर, पानी की बोतल में शराब, व्हाइटनर जैसी चीजें मिली।छात्र-छात्रओं के कक्षा में मोबाइल लेकर आने की मिली शिकायतों के बाद बैग की ली गई थी अचानक तलाशी।

बेंगलुरु: कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में स्कूलों में छात्र-छात्राओं द्वारा मोबाइल फोन लेकर आने की आशंकाओं को जांचने के लिए कुछ स्कूलों में अचानक हुई बैग चेकिंग के नतीजों से शिक्षक और मात-पिता भी हैरान हैं।  दरअसल, इस अभियान के दौरान स्कूल के 8वीं, 9वीं और 10वीं के छात्र-छात्राओं के बैग से ऐसी-ऐसी चीजें निकलने लगी, जिसने सभी को हैरान कर दिया।

डेक्कन हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार कई छात्र-छात्राओं के बैग से मोबाइल के अलावा कॉन्डम, गर्भनिरोधक गोलियां, लाइटर, सिगरेट, व्हाइटनर और अत्यधिक मात्रा में कैश भी मिला।

कक्षाओं में सेल फोन लाने की शिकायतों के बाद कुछ स्कूलों ने छात्रों के बैग की जांच शुरू की थी। यहां तक ​​कि कर्नाटक में असोसिएटेड मैनेजमेंट ऑफ प्राइमरी एंड सेकेंडरी स्कूल (KAMS) ने स्कूलों से छात्रों के बैग की जांच शुरू करने को कहा था। हालाँकि, परिणाम जो सामने आया, वह अप्रत्याशित था। 

कुछ स्कूलों ने इसके बाद विशेष अभिभावक-शिक्षक बैठकें आयोजित कीं। नगरभावी में एक स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा, 'माता-पिता भी हैरान थे और उन्होंने हमें बच्चों में अचानक व्यवहार में परिवर्तन के बारे में बताया।' 

स्थिति को सावधानी से संभालने के लिए, स्कूलों ने अभिभावकों को नोटिस जारी किया और छात्रों को निलंबित करने की बजाय, काउंसलिंग की सिफारिश की। प्रिंसिपल ने कहा, 'हालांकि हमारे स्कूलों में काउंसलिंग सेशन होते हैं, हमने माता-पिता से कहा कि वे बाहर से बच्चों के लिए मदद लें और 10 दिनों तक की छुट्टी इन्हें दी गई।'

10वीं की छात्रा के बैग में मिला कॉन्डम

एक अन्य प्रिंसिपल ने बताया कि 10वीं कक्षा की छात्रा के बैग से कॉन्डम मिला था। उन्होंने कहा, 'जब पूछताछ की गई, तो उसने अपने सहपाठियों या निजी ट्यूशन में उन लोगों को दोषी ठहराया, जहां वह जाती है।' 

KAMS के महासचिव डी शशि कुमार ने कहा कि 80 प्रतिशत स्कूलों में बैक की चेकिंग की गई। उन्होंने कहा, 'एक छात्र के बैग में आई-पिल मिला। साथ ही पानी की बोतलों में शराब भी मिली।' 

कुमार ने कहा, 'हम इस हैरनगी से उबरने की कोशिश कर रहे हैं। छात्रों को शिक्षकों और सहपाठियों को परेशान करते हुए, गलत भाषा का इस्तेमाल करते हुए, धमकाने और बुरे इशारे करते हुए पाया गया है। इस तरह का व्यवहार कक्षा 5 के बच्चों में भी देखा गया है।' 

Web Title: Bengaluru news condoms, contraceptive pills, cigarettes from school bags during checking

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे