Ayodhya Verdict: Digvijay Singh trolled by raising Babri Masjid issue, users say mind your tongue | बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाकर ट्रोल हुए दिग्विजय सिंह, यूजर्स ने कहा जुबान को काबू में रखो, प्रभु का नाम लो
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह। (फाइल फोटो)

Highlightsपूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा ट्वीट किए जाने के बाद यूजर्स ने उन्हें घेर लिया. यूजर्स ने कांग्रेस सरकार द्वारा किए वादों को याद दिलाया.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एक बार फिर ट्वीट कर घिर गए हैं. इस बार दिग्विजय सिंह ने अयोध्या में राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले के बाद ट्वीट कर कहा कि उच्चतम न्यायालय ने राम जन्म भूमि फैसले में बाबरी मस्जिद को तोड़ने के कृत्य को गैर कानूनी अपराध माना है. क्या दोषियों को सजा मिल पाएगी? देखते हैं, 27 साल हो गये. सिंह के इस ट्वीट के बाद वे ट्रोल हो गए हैं. एक यूजर्स ने तो उन्हें यहां तक कह दिया कि जुबान को काबू में रखों, प्रभु का नाम लो.

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ट्वीट किया है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि राम जन्म भूमि के निर्णय का सभी ने सम्मान किया हम आभारी हैं. कांग्रेस ने हमेशा से यही कहा था हर विवाद का हल संविधान द्वारा स्थापित कानून व नियमों के दायरे में ही खोजना चाहिए. विध्वंस और हिंसा का रास्ता किसी के हित में नहीं है. इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने भाजपा और संघ पर बिना नाम लिए निशाना भी साधा है. उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि उच्चतम न्यायालय ने राम जन्म भूमि फैसले में बाबरी मस्जिद को तोड़ने के कृत्य को गैर कानूनी अपराध माना है. क्या दोषियों को सजा मिल पाएगी? देखते हैं, 27 साल हो गये.

यूजर्स ने कांग्रेस सरकार के याद दिलाए वादे

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा ट्वीट किए जाने के बाद यूजर्स ने उन्हें घेर लिया. यूजर्स ने कांग्रेस सरकार द्वारा किए वादों को याद दिलाया. सच बोलने की कोशिश नाम के यूजर्स ने लिखा है कि 1984 के दंगों में कितने साल बाद सजा मिली थी? अभी भी मिलनी है? कांग्रेस का किया एक वादा आप लोग बता दो उसने पूरा किया हो? बस एक़ नीरज कुमार सिंह नामक यूजर्स ने तो उन्हें जयचंद की औलाद तक कह डाला. एक अन्य यूजर्स ने लिखा है कि ‘चाचा क्यों जिंदगी के आखिरी पलों में धौले बालों में धूल डलवाना चाहते हो.जुबान को काबू में रखो, प्रभु का नाम लो, अयोध्या चले जाओ. वार सार संभाल रखना, खाना-पीना मस्त रहना.’ वहीं भगत सिंह नामक युवक ने लिखा है कि ‘एक आप ही हो, जो कांग्रेस को दफन करने में राहुल गांधी का तन-मन से सहयोग कर रहे हो, बाकी तो सब मोह माया है.’

अपनी राजनीतिक उछलकूद बंद करें दिग्विजय

बाबरी मस्जिद तोड़ने वालों को लेकर दिग्विजय सिंह के बयान पर पूर्व मंत्री और भाजपा नेता विश्वास सारंग ने उन पर पलटवार किया है. सारंग ने दिग्विजय सिंह को नसीहत देते हुए कहा है कि अपनी राजनीतिक उछल कूद बंद करें. सिंह के ट्वीट का जवाब देते हुए विश्वास सारंग ने कहा है कि कुछ लोग इस देश में विघटन की राजनीति को आगे बढ़ाना चाहते हैं. कुछ नेताओं के तो पेट में दर्द होगा, क्योंकि विघटन की राजनीति किए बिना उन्हें चैन नहीं मिलता. सुप्रीम कोर्ट ने इस देश कर सैकड़ों साल पुरानी समस्या का हल किया है. हर वर्ग ने इस आदेश को माना है.


Web Title: Ayodhya Verdict: Digvijay Singh trolled by raising Babri Masjid issue, users say mind your tongue
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे