अंकिता हत्याकांडः अंकिता के परिवार के लिए 25 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा, दोषियों के लिए फांसी की मांग

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: September 28, 2022 11:59 AM2022-09-28T11:59:03+5:302022-09-28T12:28:03+5:30

इस बीच मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआइटी) ने अपराध में कथित रूप से प्रयुक्त हुआ स्कूटर और मोटर साइकिल बरामद कर ली।

Ankita bhandari murder Announcement of compensation of Rs 25 lakh for Ankita family CM requests to set up a speedy court | अंकिता हत्याकांडः अंकिता के परिवार के लिए 25 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा, दोषियों के लिए फांसी की मांग

अंकिता हत्याकांडः अंकिता के परिवार के लिए 25 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा, दोषियों के लिए फांसी की मांग

Next
Highlights मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता के परिवार के लिए 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि की घोषणा की है।19 वर्षीय अंकिता की हत्या मामले में मुख्य आरोपी पुलकित पूर्व मंत्री विनोद आर्य का पुत्र है। पुलकित ने अपने दो कर्मचारियों के साथ मिलकर चीला नहर में धकेलकर अंकिता की हत्या कर दी थी।

देहरादूनः अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता के परिवार के लिए 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि की घोषणा की है। एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री ने अंकिता भंडारी हत्याकांड के दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलाने के लिए त्वरित अदालत गठित करने का अनुरोध किया। वहीं पीड़िता के परिवारवालों ने दोषियों के लिए फांसी की मांग की है।

इस बीच मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआइटी) ने अपराध में कथित रूप से प्रयुक्त हुआ स्कूटर और मोटर साइकिल बरामद कर ली। यहां मुख्यमंत्री कार्यालय के एक ट्वीट में धामी के हवाले से कहा गया, ‘‘हमारी सरकार ने माननीय न्यायालय से अपराधियों को जल्द से जल्द सजा मिले, इस हेतु त्वरित अदालत गठित करने का निवेदन किया है।’’

गौरतलब है कि पौड़ी के एक रिजॉर्ट में बतौर रिसेप्शनिस्ट काम करने वाली 19 वर्षीय अंकिता की हत्या मामले में मुख्य आरोपी पुलकित पूर्व मंत्री विनोद आर्य का पुत्र है। एसआईटी ने घटना के दिन रिजॉर्ट में ठहरने वाले अतिथियों की सूची प्राप्त करने सहित कई साक्ष्य एकत्र कर लिए गए हैं और सीसीटीवी फुटेज, मोबाइल एवं सीडीआर जैसे इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों का विश्लेषण एवं अध्ययन किया जा रहा है।

आरोप है कि पौड़ी जिले के यमकेश्वर में गंगा भोगपुर के वनंत्रा रिजॉर्ट में कार्यरत अंकिता की रिजॉर्ट संचालक पुलकित आर्य ने अपने दो कर्मचारियों- प्रबंधक सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता के साथ मिलकर ऋषिकेश के निकट चीला नहर में धकेलकर हत्या कर दी थी।

प्रदेश के लोगों में पैदा हुए गुस्से के बीच, मुख्यमंत्री ने एक बार फिर कहा कि बेटियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी उनकी सरकार की है और इसलिए पिछले दिनों हुई ‘‘दुखद घटना में सरकार ने कड़ी कार्रवाई की है।’’ उन्होंने कहा कि सरकार ने आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी कर उनके द्वारा किए गए अवैध निर्माणों का ध्वस्तीकरण भी किया है ।

Web Title: Ankita bhandari murder Announcement of compensation of Rs 25 lakh for Ankita family CM requests to set up a speedy court

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे