Amit Shah tweets about relief fund for Coronavirus lockdown | Coronavirus: 1.7 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज के ऐलान के बाद अमित शाह ने किए 7 ट्वीट, जानिए क्या कहा
अमित शाह ने कहा कि पैकेज लोगों को राहत देने वाला है। (फाइल फोटो)

Highlightsकेंद्र ने कोरोना वायरस के आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए 1.7 लाख करोड़ रुपये के सरकार के राहत पैकेज का ऐलान किया।गृहमंत्री अमित शाह ने राहत पैकेज का स्वागत किया और 7 ट्वीट कर पूरी जानकारी दी।

नई दिल्ली।कोरोना वायरस महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए 1.7 लाख करोड़ रुपये के सरकार के राहत पैकेज का स्वागत करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि यह निर्णय देश के गरीबों, किसानों, मज़दूरों, बुजुर्गों, महिलाओं, दिव्यांगों सहित हर वर्ग के प्रति मोदी सरकार की संवेदनशीलता का परिचायक और लोगों को राहत देने वाला है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज पर प्रतिक्रिया में शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित होने वाले देश के गरीबों, किसानों, मज़दूरों, बुजुर्गों, महिलाओं, दिव्यांगों जैसे हर वर्ग के लिए किया गया निर्णय इस सरकार की संवेदनशीलता का परिचायक है। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री का धन्यवाद व्यक्त करता हूं।’’

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने 20 करोड़ महिला जनधन खाताधारकों को तीन माह तक हर महीने 500 रुपये देने और उज्जवला योजना की 8.3 करोड़ लाभार्थियों को 3 महीने तक मुफ्त गैस देने का निर्णय लिया है। अमित शाह ने कहा, ‘‘ कोविड-19 वैश्विक महामारी से राहत के लिए गरीब कल्याण योजना में 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये की घोषणा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार।’’

गृह मंत्री ने कहा कि इन विषम परिस्थितियों में मानव सेवा में लगे सभी योद्धाओं के लिए 50 लाख रुपये के स्वास्थ्य बीमा कवर के निर्णय का भी वह स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ से 80 करोड़ गरीबों को अगले 3 महीने तक 5 किलो चावल, गेहूं देने का निर्णय किया है। इस निर्णय से देश में कोई भी गरीब बिना भोजन के नहीं रहेगा।

शाह ने कहा कि सरकार ने देश के गरीब किसानों को कोविड-19 महामारी के समय राहत देते हुए अप्रैल के पहले हफ़्ते में किसानों के खाते में 2000 रुपये की पहली किश्त देने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांगों को मिलने वाली राशि में 1000 रुपये अतिरिक्त देने का निर्णय किया गया है। यह पैसा प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) के माध्यम से सीधे उनके खाते में जाएगा जिसका बड़ी संख्या में लोगों को फायदा होगा।

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने को लेकर गुरुवार को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की है।

Web Title: Amit Shah tweets about relief fund for Coronavirus lockdown
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे