Amid Covid-19 pandemic, Indian Railways plans to implement QR code-based contactless ticket-checking system | भारतीय रेलवे ने शुरू किया टिकट चेकिंग का नया तरीका, अब रेलवे स्टेशन पर दिखाना होगा QR कोड
भारतीय रेलवे ने टिकट चेकिंग के लिए कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम लागू किया है। (फोटो सोर्स- वीडियो स्क्रीनशॉट)

Highlightsकोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए भारतीय रेलवे ने अपने कई नियमों बदलाव किया है।रेलवे ने अब सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को बढ़ावा देने के लिए कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम लागू किया हैयात्रियों को स्टेशन में एंट्री से पहले कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम के जरिए अपने टिकट की जांच करानी होगी।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए भारतीय रेलवे ने अपने कई नियमों बदलाव किया है। रेलवे स्टेशनों पर इंडियन रेलवे ने संपर्क रहित टिकट जांच और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को बढ़ावा देने के लिए कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम लागू किया है। इसकी शुरुआत प्रयागराज डिवीजन के प्रयागराज रेलवे स्टेशन से हुई है, जहां यात्रियों को स्टेशन में एंट्री से पहले कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम के जरिए अपने टिकट की जांच करानी होगी।

कैसे काम करता है कॉन्टेक्टलेस टिकट चेकिंग सिस्टम

यात्रियों को टिकट बुक करते समय रेलवे की ओर से एक QR कोड का यूआरएल यानि लिंक एसएमएस के जरिए मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। स्टेशन में प्रवेश के समय यात्रियों को टिकट चेकिंग के समय QR कोड के यूआरएल पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद मोबाइल ब्राउजर पर QR कोड दिखने लगेगा।

टीटीई अपने मोबाइल में स्कैन करेंगे QR कोड

यात्री को मोबाइल में QR कोड आने के बाद इसे टिकट चेकिंग के दौरान टीटीई को दिखाना होगा, जिसे टीटीई अपने मोबाइल या स्कैनर में स्कैन करेंगे। QR कोड स्कैन करते ही टिकट की जानकारी टीटीई के सामने खुल जाएगी और इसके बाद वह यात्री को स्टेशन में प्रवेश की अनुमति देंगे।

देखें कैसे हो रही है QR कोड के जरिए टिकट की चेकिंग

कोरोना वायरस के कारण नहीं चल रही हैं नियमित ट्रेनें

कोरोना वायरस के कारण 25 मार्च से लगाए गए लॉकडाउन के बाद से ही सभी नियमित ट्रेनों को रद्द कर दिया गया था। इसके बाद भारतीय रेलवे ने 12 मई से 30 जोड़ी एसी स्पेशल ट्रेनों की शुरुआत की और फिर 1 जून से 200 स्पेशल ट्रेनें भी चलाई जा रही है। इसके अलावा भारतीय रेलवे ने लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए भी स्पेशन ट्रेनें चलाई।

भारत में कोविड-19 के 426167 एक्टिव केस मौजूद

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार अब तक 1238635 लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं। भारत में अब तक 29861 लोग इस महामारी से अपनी जान गंवा चुके हैं, जबकि 782606 लोग ठीक हो चुके हैं और देश में 426167 एक्टिव केस मौजूद हैं।

Web Title: Amid Covid-19 pandemic, Indian Railways plans to implement QR code-based contactless ticket-checking system
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे