तालों के लिए मशहूर अलीगढ़ अब देश की सीमाओं की रक्षा का काम भी करेगा: मोदी

By भाषा | Published: September 14, 2021 05:10 PM2021-09-14T17:10:58+5:302021-09-14T17:10:58+5:30

Aligarh, famous for locks, will now also work to protect the country's borders: Modi | तालों के लिए मशहूर अलीगढ़ अब देश की सीमाओं की रक्षा का काम भी करेगा: मोदी

तालों के लिए मशहूर अलीगढ़ अब देश की सीमाओं की रक्षा का काम भी करेगा: मोदी

Next

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश), 14 सितंबर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि अभी तक अलीगढ़ का नाम तालों के लिए जाना जाता था जिससे घरों और दुकानों की रक्षा होती है लेकिन अब 21वीं सदी में ‘यह मेरा अलीगढ़ हिन्दुस्तान की सीमाओं की रक्षा करने वाले उत्पादों के निर्माण के लिए भी’ जाना जाएगा।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भारत एक रक्षा आयातक की छवि से उबर रहा है और रक्षा निर्यातक की एक नई पहचान की ओर बढ़ रहा है।

उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे (डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर) के अलीगढ़ नोड के प्रदर्शनी मॉडल का दौरा करने के बाद यहां एक सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ''अभी तक अलीगढ़ का नाम तालों के लिए लिया जाता था। अभी तक अलीगढ़ घरों और दुकानों की रक्षा का काम करता था। अब 21वीं सदी में यह मेरा अलीगढ़ हिन्दुस्तान की सीमाओं की रक्षा करने का काम करेगा। अलीगढ़, जो अपने प्रसिद्ध तालों से घरों और दुकानों की रक्षा के लिए जाना जाता था, अब देश की सीमाओं की रक्षा करने वाले उत्पादों के निर्माण के लिए भी जाना जाएगा।''

उन्होंने कहा कि आज देश ही नहीं दुनिया भी देख रही है कि आधुनिक ग्रेनेड और राइफल से लेकर लड़ाकू विमान, ड्रोन, युद्धपोत तक भारत में ही निर्मित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया के बड़े रक्षा आयातक की छवि को खत्म करने की कोशिश कर रहा है और दुनिया के एक महत्वपूर्ण रक्षा निर्यातक की नई पहचान हासिल कर रहा है।

मोदी ने कहा कि डिफेंस कॉरिडोर के लखनऊ नोड में दुनिया की सबसे बेहतरीन मिसाइल में से एक ब्रहमोस का निर्माण भी प्रस्तावित है। इसके लिये अगले कुछ सालों में नौ हजार करोड़ रुपये का निवेश किया जा रहा है। झांसी नोड में एक और मिसाइल निर्माण से जुड़ी बहुत बड़ी इकाई लगने का प्रस्ताव है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश डिफेंस कॉरिडोर ऐसे ही बड़े निवेश और रोजगार के अवसरों को लेकर आ रहा है।

उन्होंने कहा कि ‘एक जिला एक उत्पाद’ योजना के तहत प्रदेश सरकार ने अलीगढ़ के तालों और हार्डवेयर को एक नयी पहचान दिलाने का काम किया है। इससे युवाओं के लिए सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (एमएमसएमई) क्षेत्र में नये अवसर तैयार हो रहे हैं। अब रक्षा उद्योग के जरिये यहां के मौजूदा उद्यमियों को विशेष लाभ होगा। छोटे उद्यमियों के लिये भी डिफेंस कॉरिडोर का अलीगढ़ नोड नये अवसर पैदा करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश इस परिवर्तन का एक बड़ा केंद्र बनता जा रहा है और उत्तर प्रदेश से सांसद होने के नाते उन्हें इस पर गर्व है। उन्होंने कहा कि डेढ़ दर्जन रक्षा निर्माण कंपनियां सैकड़ों करोड़ रुपये के निवेश से हजारों नौकरियों का सृजन करेंगी। रक्षा गलियारे के अलीगढ़ नोड में छोटे हथियारों, आयुधों, ड्रोन और एयरोस्पेस से संबंधित उत्पादों के निर्माण में मदद करने के लिए नए उद्योगों की स्थापना हो रही है। इससे अलीगढ़ और आसपास के इलाकों को नई पहचान मिलेगी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 फरवरी, 2018 को लखनऊ में उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट का शुभारम्भ करते हुए राज्य में एक डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर स्थापित किये जाने की घोषणा की थी। इसके तहत छह नोड-अलीगढ़, आगरा, कानपुर, चित्रकूट, झांसी एवं लखनऊ बनाए गए हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Aligarh, famous for locks, will now also work to protect the country's borders: Modi

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे