Ahmed Patel my political friend as well backbone Congress Vijay Darda | अहमद पटेल मेरे राजनीतिक मित्र होने के साथ साथ कांग्रेस की रीढ़ थे: विजय दर्डा
बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी अहमद भाई के जाने से कांग्रेस को जो क्षति पहुंची है। (file photo)

Highlightsदुःख व्यक्त करते हुये कहा कि उन्होंने अपना गहरा राजनीतिक खो दिया है।अहमद भाई ने बड़ी कुशलता से उसे सुलझाया।

नई दिल्लीः कांग्रेस के पुरोधा अहमद पटेल के निधन पर लोकमत पत्र समूह के अध्यक्ष और पूर्व सांसद विजय दर्डा ने गहरा दुःख व्यक्त करते हुये कहा कि उन्होंने अपना गहरा राजनीतिक खो दिया है।

व्यक्तिगत मित्र होने के साथ साथ अहमद भाई का व्यक्तित्व ऐसा था कि वह सभी दलों के नेताओं के बीच लोकप्रिय थे। दर्डा ने बताया कि मेरे  दिल्ली प्रवास के दौरान कभी ऐसा नहीं हुआ कि हम दोनों ने साथ बैठ कर देश और प्रदेश की राजनीति की चर्चा न की हो। 

अहमद भाई बात के धनी थे ,जो कहा उसे पूरा करने के लिये जी तोड़ प्रयास करते थे। उनकी राजनीतिक सूझ-बूझ बे मिसाल थी। गाँधी परिवार से उनकी नज़दीकी किसी से छिपी नहीं है ,जब जब पार्टी के सामने कोई बड़ा संकट आया अहमद भाई ने बड़ी कुशलता से उसे सुलझाया,यही कारण था कि सोनिया गाँधी उनकी राय जानकार ही फ़ैसले करती रहीं। 

बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी अहमद भाई के जाने से कांग्रेस को जो क्षति पहुंची है उसकी भरपाई संभव नहीं। मेरे प्रति उनका जो विशेष लगाव था उसे शब्दों में बांधना मेरे लिये संभव नहीं। में अहमद भाई के प्रति अपनी भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ तथा परमपिता से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी आत्मा को शांति दे और परिवार को इस अपार क्षति को सहन करने की शक्ति दे। 

Web Title: Ahmed Patel my political friend as well backbone Congress Vijay Darda

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे