4 railway stations in Uttar Pradesh's Prayagraj get new names | इलाहाबाद नहीं प्रयागराज जंक्शन पर आपका स्वागत है, कई स्टेशन के नाम बदले, रेल मंत्री गोयल ने ट्वीट कर दी जानकारी
उल्लेखनीय है कि रेल मंत्री रविवार को प्रयागराज में वैश्य महाकुम्भ सम्मेलन में शामिल होने आ रहे हैं।

Highlightsउत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजित कुमार सिंह ने बताया, "अब चूंकि राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है।जहां तक स्टेशन के नाम बदलने की बात है, कोड मिलते ही वह कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा इलाहाबाद का नाम प्रयागराज किए जाने के करीब एक साल बाद संगम नगरी के रेलवे जंक्शन का नाम भी बृहस्पतिवार को प्रयागराज जंक्शन कर दिया गया।

राजभवन की ओर से अधिसूचना जारी की गई जिसमें इलाहाबाद जंक्शन का नाम बदलकर प्रयागराज जंक्शन कर दिया गया है। इसी तरह शहर के इलाहाबाद सिटी स्टेशन का नाम बदलकर प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिवकी का नाम प्रयागराज छिवकी और प्रयागघाट स्टेशन का नाम प्रयागराज संगम कर दिया गया है।

इलाहाबाद जंक्शन और इसके उप नगरीय रेलवे स्टेशनों- इलाहाबाद सिटी, इलाहाबाद छिवकी और प्रयागघाट स्टेशनों का नाम बदले जाने के साथ शुक्रवार को दो स्टेशनों को नया कोड आवंटित कर दिया गया। बृहस्पतिवार देर शाम जारी अधिसूचना के मुताबिक इलाहाबाद जंक्शन का नाम प्रयागराज जंक्शन कर दिया गया, जबकि इलाहाबाद सिटी का नाम प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिवकी का नाम प्रयागराज छिवकी और प्रयागघाट का नाम बदलकर प्रयागराज संगम कर दिया गया।

शुक्रवार को प्रयागराज जंक्शन को पीआरवाईजे कोड और प्रयागराज छिवकी को पीसीओआई कोड आवंटित कर दिया गया जो पहले क्रमशः एएलडी और एसीओआई था। इस तरह से इन दो स्टेशनों के लिए टिकट आरक्षण के समय यात्रियों को आरक्षण फार्म में नया कोड भरना होगा। उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजित कुमार सिंह ने बताया कि स्टेशन के नाम बदले जा रहे हैं और यह प्रक्रिया कल तक पूरी हो जाएगी।

उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजित कुमार सिंह ने बताया, "अब चूंकि राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है, इसके आधार पर रेलवे नए स्टेशन कोड आबंटित करेगी। ये कोड संभवतः कल ही आबंटित हो जाने चाहिए।"

उन्होंने बताया कि कोड आबंटित होते ही टिकट आरक्षण प्रणाली में ये कोड बदल जाएंगे। जहां तक स्टेशन के नाम बदलने की बात है, कोड मिलते ही वह कार्रवाई शुरू हो जाएगी। कोड मिले बगैर स्टेशन का नाम बदलने से यात्री असमंजस में पड़ सकते हैं।

सिंह ने बताया कि कोड मिलते ही टिकट आरक्षण भी नए कोड पर किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि रेल मंत्री रविवार को प्रयागराज में वैश्य महाकुम्भ सम्मेलन में शामिल होने आ रहे हैं और उनके प्रयागराज आगमन से पहले रेलवे नया कोड आबंटित कर सकता है।

बता दें कि अक्टूबर 2018 में इलाहाबाद जिले का नाम बदलकर प्रयागराज किया गया था। गौरतलब है कि इलाहाबाद का नाम बदलने के बाद नगर निगम, विकास प्राधिकरण समेत अन्य विभागों में भी नाम बदल दिए गए थे, लेकिन शहर के स्टेशनों का नाम अबतक नहीं बदला था। स्टेशनों के नाम बदलने को लेकर साल 2018 में जिले का नाम बदलने के बाद जिला प्रशासन ने शासन और रेल मंत्रालय को चिट्ठी भेजी थी।

वहां से इस पत्र को गृह मंत्रालय को भेजा गया और गृह मंत्रालय द्वारा स्टेशनों के नाम बदलने की इजाजत मिलने के बाद यूपी सरकार को पत्र जारी किया गया है। इलाहाबाद जंक्शन, इलाहाबाद सिटी, इलाहाबाद छिवकी प्रयागघाट के नाम बदल दिए गए है। इसको लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट भी किया है।

Web Title: 4 railway stations in Uttar Pradesh's Prayagraj get new names
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे