सरकार ने 35 यूट्यूब चैनलों पर लगाया बैन, ट्विटर और इंस्टा समेत फेसबुक अकाउंट पर भी कार्रवाई, जानें पूरा मामला

By विनीत कुमार | Published: January 21, 2022 06:34 PM2022-01-21T18:34:20+5:302022-01-21T18:57:37+5:30

भारत सरकार ने 35 यूट्यूब चैनलों सहित दो अकाउंट, इंस्टाग्राम के दो अकाउंट, दो वेबसाइट और फेसबुक के एक अकाउंट को बैन कर दिया है। पिछले महीने भी 20 यूट्यूब चैनलों को ब्लॉक किया गया था।

35 YouTube channels, 2 Twitter accounts, 2 Instagram Accounts, 2 websites Facebook account banned | सरकार ने 35 यूट्यूब चैनलों पर लगाया बैन, ट्विटर और इंस्टा समेत फेसबुक अकाउंट पर भी कार्रवाई, जानें पूरा मामला

सरकार ने 35 यूट्यूब चैनलों पर लगाया बैन (फाइल फोटो)

Next
Highlights35 यूट्यूब चैनलों समेत ट्विटर के दो अकाउंट, इंस्टाग्राम के दो अकाउंट, दो वेबसाइट और फेसबुक के एक अकाउंट पर कार्रवाई।सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अनुसार ये सभी अकाउंट पाकिस्तान से काम कर रहे थे।सरकार के अनुसार इनके जरिए भारत विरोधी समाचार और कंटेट फैलाने का काम हो रहा था।

नई दिल्ली: भारत सरकार ने 35 यूट्यूब चैनलों पर बैन लगा दिया है। इसके अलावा ट्विटर के दो अकाउंट, इंस्टाग्राम के दो अकाउंट, दो वेबसाइट और फेसबुक के एक अकाउंट पर भी कार्रवाई की गई है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को ये जानकारी दी गई।

सूचना और प्रसारण मंत्रालय के संयुक्त सचिव (P&A) विक्रम सहाय ने कहा कि ताजा इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर 20 जनवरी को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि सभी अकाउंट से जुड़ी आम बात ये थी कि सभी पाकिस्तान से काम कर रहे थे। इनके माध्यम से भारत विरोधी समाचार और कंटेट फैलाने का काम हो रहा था।

वहीं, सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्वा चंद्रा ने कहा कि बैन लगाए गए यूट्यूब चैनल पर 1.20 करोड़ सब्सक्राइबर्स थे और 130 करोड़ तक उनके वीडियो पर व्यूज थे। उन्होंने कहा कि चूँकि अब प्रक्रिया शुरू हो गई है तो उन्हें विश्वास है कि ऐसे अन्य चैनल भी भविष्य में ब्लॉक होंगे। उन्होंने कहा कि इंटेलिजेंस एजेंसी इस संबंध में काम पर लगे हुए हैं।

अनुराग ठाकुर ने दी थी चेतावनी

दो दिन पहले ही सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को चेतावनी दी थी कि सरकार देश के खिलाफ ‘साजिश रचने’ वालों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखेगी। सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने पिछले साल दिसंबर में 20 यूट्यूब चैनल और दो वेबसाइट को ब्लॉक करने का आदेश दिया था। ऐसे आरोप लगे कि वे भारत विरोधी दुष्प्रचार और फर्जी खबरें फैला रहे थे। 

मंत्रालय ने दिसंबर में एक बयान में कहा था, 'ये 20 यूट्यूब चैनल और वेबसाइट पाकिस्तान से संचालित एक दुष्प्रचार नेटवर्क से संबंधित हैं और भारत से संबंधित विभिन्न संवेदनशील विषयों के बारे में फर्जी खबरें फैला रहे थे।' 

बयान के अनुसार इन चैनल का इस्तेमाल 'कश्मीर, भारतीय सेना, भारत में अल्पसंख्यक समुदायों, राम मंदिर, जनरल बिपिन रावत आदि' जैसे विषयों पर समन्वित तरीके से विभाजनकारी सामग्री पोस्ट करने के लिए किया जा रहा था।

पिछले महीने इन चैनलों पर लगाया गया था बैन

सरकार ने पिछले महीने बताया था कि 20 यूट्यूब चैनलों में से 15 एनपीजी (न्यू पाकिस्तान ग्रुप) द्वारा चलाए जा रहे थे। जिन चैनलों को बैन किया गया उसमें द पंच लाइन, इंटरनेशनल वेब न्यूज, खालसा टीवी, द नेकेड ट्रुथ, 48 न्यूज, फिक्शनल, हिस्टोरिकल फैक्ट्स, पंजाब वायरल, नया पाकिस्तान ग्लोबल, कवर स्टोरी, गो ग्लोबल ईकॉमर्स, जुनैद हलीम ऑफिशियल, तैयब हनीफ, जैन अली ऑफिशियल, मोहसिन राजपूत ऑफिशियल कनीज फातिमा, सदफ दुर्रानी, ​​मियां इमरान अहमद और नजम उल हसन बाजवा शामिल हैं।

Web Title: 35 YouTube channels, 2 Twitter accounts, 2 Instagram Accounts, 2 websites Facebook account banned

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे