CRPF and ITBP: एसएल थाउसेन और अनीश दयाल सिंह सीआरपीएफ और आईटीबीपी के नए प्रमुख नियुक्त

By सतीश कुमार सिंह | Published: October 1, 2022 10:08 PM2022-10-01T22:08:34+5:302022-10-01T22:34:54+5:30

सीआरपीएफ की स्थापना ‘क्राउन रिप्रेजेंटेटिव पुलिस’ के तौर पर 27 जुलाई 1939 को हुई थी और स्वाधीनता के पश्चात संसद ने 28 दिसंबर 1949 को एक कानून बनाकर इसका नाम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल कर दिया था।

1988-batch IPS officers S L Thaosen and Anish Dayal Singh appointed new chiefs of CRPF and ITBP respectively | CRPF and ITBP: एसएल थाउसेन और अनीश दयाल सिंह सीआरपीएफ और आईटीबीपी के नए प्रमुख नियुक्त

गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ और आईटीबीपी के नए प्रमुख नियुक्त कर दिए। 

Next
Highlightsसीआरपीएफ के लिए बहुआयामी भूमिका की रूपरेखा रखी थी।मध्य प्रदेश कैडर के 1988 बैच के अधिकारी हैं।भारत-तिब्बत सीमा पुलिस का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे हैं।

नई दिल्लीः भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के वरिष्ठ अधिकारी सुजॉय लाल थाउसेन और अनीश दयाल सिंह को क्रमशः सीआरपीएफ और आईटीबीपी का नया महानिदेशक नियुक्त किया गया है। मध्य प्रदेश कैडर के 1988 बैच के अधिकारी थाउसेन वर्तमान में सीमा सुरक्षा बल सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के महानिदेशक (डीजी) के रूप में कार्यरत हैं।

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे हैं। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के डीजी पद शुक्रवार को आईपीएस अधिकारी कुलदीप सिंह (1986-बैच) के सेवानिवृत्त होने के बाद खाली हो गए है। सीआरपीएफ के पास नक्सल और जम्मू-कश्मीर सहित कई जिम्मेदारी है।

सरकारी आदेश में शनिवार को यह जानकारी दी गई है। मध्य प्रदेश कैडर के 1988 बैच के अधिकारी थाउसेन वर्तमान में सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के महानिदेशक (डीजी) के रूप में कार्यरत हैं और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे हैं।

आईपीएस अधिकारी कुलदीप सिंह (1986 बैच) के सेवानिवृत्त होने के बाद शुक्रवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के डीजी का पद रिक्त हो गया था। मणिपुर कैडर के 1988 बैच के अधिकारी अनीश दयाल सिंह वर्तमान में खुफिया ब्यूरो में विशेष निदेशक के रूप में कार्यरत हैं।

थाउसेन की सेवानिवृत्ति इस साल नवंबर में निर्धारित है, जबकि सिंह दिसंबर, 2024 में सेवानिवृत्त होंगे। उनकी नियुक्ति का आदेश कार्मिक मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) से मंजूरी के बाद जारी किया गया।

सीआरपीएफ की स्थापना ‘क्राउन रिप्रेजेंटेटिव पुलिस’ के तौर पर 27 जुलाई 1939 को हुई थी और स्वाधीनता के पश्चात संसद ने 28 दिसंबर 1949 को एक कानून बनाकर इसका नाम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल कर दिया था। देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने नए स्वतंत्र देश की बदलती जरूरतों के अनुसार सीआरपीएफ के लिए बहुआयामी भूमिका की रूपरेखा रखी थी।

दिल्ली पुलिस के सीपी संजय अरोड़ा की हालिया नियुक्ति 1988 बैच से है। अरोड़ा तमिलनाडु कैडर के आईपीएस हैं और इससे पहले भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के महानिदेशक के पद पर तैनात थे। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के वर्तमान डीजी भी पंजाब से हैं। 

Web Title: 1988-batch IPS officers S L Thaosen and Anish Dayal Singh appointed new chiefs of CRPF and ITBP respectively

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे