बीटिंग द रिट्रीट के साथ गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ समापन, आकाश में जगमगाए 1000 स्वदेशी ड्रोन्स

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: January 29, 2022 07:19 PM2022-01-29T19:19:11+5:302022-01-29T19:23:51+5:30

इस बार बीटिंग द रीट्रीट समारोह में 1000 मेड इन इंडिया ड्रोन्स ने आकाश में जगमगाते हुए दिखाई दिए। इसके साथ लेजर प्रोजेक्शन के माध्यम से भारतीय स्वंतत्रता संग्राम की यात्रा को बताया गया। 

1000 Made in India drones make different formations as part of the Beating Retreat ceremony at Vijay Chowk, Delhi | बीटिंग द रिट्रीट के साथ गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ समापन, आकाश में जगमगाए 1000 स्वदेशी ड्रोन्स

बीटिंग द रिट्रीट के साथ गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ समापन, आकाश में जगमगाए 1000 स्वदेशी ड्रोन्स

Next
Highlightsलेजर प्रोजेक्शन के माध्यम से बताई गई भारत की आजादी की गाथाआकाश में जगमगाते दिखे स्वदेशी निर्मित एक हजार ड्रोन्स

नई दिल्ली: विजय चौक पर बीटिंग द रिट्रीट के साथ ही गणतंत्र दिवस समारोह का समापन हो गया। शनिवार (29 जनवरी) को हुए बीटिंग द रीट्रीट सरेमनी में सेनाओं के बैंड्स की धुनों ने देखने वालों के रोम रोम में देशभक्ति का भाव भर दिया। इस बार का यह समारोह भी अपने आप में ऐतिहासिक रहा।

इस बार बीटिंग द रीट्रीट समारोह में 1000 मेड इन इंडिया ड्रोन्स ने आकाश में जगमगाते हुए दिखाई दिए। इसके साथ लेजर प्रोजेक्शन के माध्यम से भारतीय स्वंतत्रता संग्राम की यात्रा को बताया गया। इन सभी ड्रोन को सॉफ्टवेयर जैसे फ्लाइट कंट्रोलर, जीपीएस, मोटर नियंत्रक, ग्राउंड कंट्रोल स्टेशन (जीसीएस) एल्गोरिदम जैसी तकनीकि चीजों से लैस किया गया है। 

वहीं इस बार बीटिंग रिट्रीट समारोह के दौरान लेजर प्रोजेक्शन के माध्यम से दिल्ली के विजय चौक में भारत के स्वतंत्रता संग्राम और आजादी के बाद की यात्रा को बताया गया। 

बीटिंग द रीट्रीट रिपब्लिक डे सेलीब्रेशन का हिस्सा होता है। दरअसल गणतंत्र द‍िवस का सेलीब्रेशन एक द‍िन का नहीं, बल्‍क‍ि चार द‍िनों का होता है। गणतंत्र द‍िवस के आख‍िरी द‍िन बीट‍िंग द र‍िट्रीट का आयोजन क‍िया जाता है। इसके साथ ही आध‍िकार‍िक रूप से गणतंत्र दिवस के आयोजनों का आधिकारिक रूप से समापन होता है। हर वर्ष 29 जनवरी की शाम को बीटिंग द रिट्रीट का आयोजन किया जाता है।

बीटिंग रिट्रीट ब्रिटेन की बहुत पुरानी परंपरा है, इसका असली नाम ‘वॉच सेटिंग’ है और यह सूर्य डूबने के समय मनाया जाता है, भारत में बीटिंग द रिट्रीट सेरेमनी की शुरुआत सन 1950 से हुई।

Web Title: 1000 Made in India drones make different formations as part of the Beating Retreat ceremony at Vijay Chowk, Delhi

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे