सेक्स की अनिच्छा, बालों का झड़ना लंबे कोविड के लक्षण, अध्ययन में 62 लॉन्ग कोविड लक्षणों का खुलासा

By भाषा | Published: July 26, 2022 03:55 PM2022-07-26T15:55:31+5:302022-07-26T16:21:05+5:30

नेचर मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित एक नए अध्ययन में, लंबे कोविड से जुड़े 62 लक्षणों की पहचान की गई है। लंबे समय तक कोविड विकसित होने के बढ़ते जोखिम से जुड़े कुछ कारकों का भी पता लगाया गया है।

Nature Medicine Journal study reveals 62 long covid 19 symptoms reluctance to have sex and hair loss | सेक्स की अनिच्छा, बालों का झड़ना लंबे कोविड के लक्षण, अध्ययन में 62 लॉन्ग कोविड लक्षणों का खुलासा

सेक्स की अनिच्छा, बालों का झड़ना लंबे कोविड के लक्षण, अध्ययन में 62 लॉन्ग कोविड लक्षणों का खुलासा

Next
Highlightsसंक्रमित व्यक्तियों में कई महीनों बाद भी दिखे कई चिंताजनक लक्षण80 प्रतिशत लोगों को थकान, सिरदर्द, बदन दर्द का सामना करना पड़ाअन्य लक्षणों में सीने में दर्द, बुखार, पाचन में गड़बड़ी, नपुंसकता और अंगों में सूजन शामिल हैं

बर्मिंघमः यूके में लगभग बीस लाख लोगों में कोविड संक्रमण के बाद इसके लक्षण लगातार बने हुए है, जिसे लॉन्ग कोविड कहा जाता है। एक नए अध्ययन के मुताबिक कुछ लक्षण 11 सप्ताह के बाद बने रहे उनमें- बालों का झड़ना, सेक्स की अनिक्षा सहित सीने में दर्द, बुखार, पाचन में गड़बड़ी और यहां तक की नपुंसकता और अंगों में सूजन तक शामिल हैं।  आमतौर पर लंबे समय तक बताए गए कोविड लक्षण, जैसे थकान और सांस लेने में तकलीफ, लोगों की दैनिक गतिविधियों, जीवन की गुणवत्ता और काम करने की क्षमता पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालते हैं। लेकिन लंबे कोविड लक्षण इससे कहीं अधिक व्यापक हैं। 

लंबे कोविड से जुड़े 62 लक्षणों की पहचान की गई

नेचर मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित एक नए अध्ययन में, लंबे कोविड से जुड़े 62 लक्षणों की पहचान की गई है। लंबे समय तक कोविड विकसित होने के बढ़ते जोखिम से जुड़े कुछ कारकों का भी पता लगाया गया है। अध्ययन में,  जनवरी 2020 से अप्रैल 2021 तक, इंग्लैंड में 450,000 से अधिक लोगों के इलेक्ट्रॉनिक प्राथमिक देखभाल रिकॉर्ड का विश्लेषण किया, जिसमें कोविड का पुष्ट निदान हुआ था, और 19 लाख लोग जिनका कोविड का कोई पूर्व इतिहास नहीं था। दोनों समूहों को उनकी जनसांख्यिकीय, सामाजिक और नैदानिक ​​​​विशेषताओं के संदर्भ में बहुत बारीकी से मिलान किया। फिर डाक्टर को बताए गए 115 लक्षणों में सापेक्ष अंतर का आकलन किया गया। 

संक्रमित व्यक्तियों में कई महीनों बाद भी दिखे कई चिंताजनक लक्षण

जिन लोगों को कोविड था, उनके संक्रमित होने के कम से कम 12 सप्ताह बाद हमने इसे मापा। अध्ययन में पाया कि जिन लोगों में कोविड का निदान किया गया था, उनमें 62 लक्षणों की रिपोर्ट करने की संभावना काफी अधिक थी, जिनमें से केवल 20 ही लंबे कोविड के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की नैदानिक ​​​​मामले की परिभाषा में शामिल हैं। इनमें से कुछ लक्षण अपेक्षित थे, जैसे गंध की कमी, सांस की तकलीफ और थकान। लेकिन कुछ लक्षण जो हमने 12 सप्ताह से अधिक समय तक कोविड से दृढ़ता से जुड़े हुए पाए, वे आश्चर्यजनक और कम ज्ञात थे, जैसे कि बालों का झड़ना और कामेच्छा में कमी। अन्य लक्षणों में सीने में दर्द, बुखार, पाचन में गड़बड़ी, नपुंसकता और अंगों में सूजन शामिल हैं। 

वहीं संक्रमित और असंक्रमित समूहों के बीच रिपोर्ट किए गए लक्षणों में ये अंतर हमारे द्वारा उम्र, लिंग, जातीय समूह, सामाजिक आर्थिक स्थिति, बॉडी मास इंडेक्स, धूम्रपान की स्थिति, 80 से अधिक स्वास्थ्य स्थितियों की उपस्थिति, और एक ही लक्षण की पिछली जानकारी के बाद भी बने रहे। अध्ययन में पाया कि कम उम्र, महिलाओं, कुछ जातीय अल्पसंख्यक समूहों से संबंधित, निम्न सामाजिक आर्थिक स्थिति, धूम्रपान, मोटापा, और स्वास्थ्य की एक विस्तृत शृंखला सभी कोविड संक्रमण के 12 सप्ताह से अधिक समय तक लगातार लक्षणों के उच्च जोखिम से जुड़ी थी। 

सर्वेक्षणों में बताए गए लंबे कोविड लक्षणों की व्यापकता और विविधता को देखते हुए, लंबे कोविड के एक ही स्थिति का प्रतिनिधित्व करने की संभावना नहीं है, बल्कि अलग-अलग स्थितियों का एक समूह है जो कोविड संक्रमण के परिणामस्वरूप होता है। विभिन्न समूहों में कितने समय तक कोविड के लक्षण अलग-अलग होते हैं, इसका पता लगाने से वैज्ञानिकों को शरीर में विभिन्न रोग प्रक्रियाओं को समझने में मदद मिल सकती है जो लंबे समय तक कोविड का कारण बनती हैं। हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि लंबे समय तक कोविड का अनुभव करने वाले लोगों द्वारा बताए गए लक्षणों के समूहों के आधार पर इसे तीन अलग-अलग समूहों में बांटा जा सकता है।

80 प्रतिशत लोगों को थकान, सिरदर्द, बदन दर्द का सामना करना पड़ा

अध्ययन में सबसे बड़े समूह, जिसमें लंबे समय तक कोविड से पीड़ित लगभग 80 प्रतिशत लोग शामिल थे, को थकान, सिरदर्द, बदन दर्द से लेकर लक्षणों के व्यापक समूह का सामना करना पड़ा। 15 प्रतिशत का प्रतिनिधित्व करने वाले दूसरे सबसे बड़े समूह में मुख्य रूप से मानसिक स्वास्थ्य और संज्ञानात्मक लक्षण थे, जिनमें अवसाद, चिंता, दुविधा और अनिद्रा शामिल थे। तीसरा और सबसे छोटा समूह, शेष 5 प्रतिशत का था, जिनमें मुख्य रूप से सांस की तकलीफ, खांसी और घरघराहट जैसे श्वसन लक्षण थे।

 बहरहाल, शोध इस बात की पुष्टि करता है कि लंबे समय तक कोविड से पीड़ित लोग महामारी के दौरान अपने लक्षणों की व्यापकता और विविधता के बारे में क्या कह रहे हैं। यह इस बात को भी पुष्ट करता है कि उनके लक्षणों को अन्य कारकों जैसे मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों, या महामारी के माध्यम से जीने से संबंधित तनावों के प्रभावों के लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। 

लंबे कोविड के पुराने स्वास्थ्य प्रभावों से पीड़ित यूके और दुनिया भर में लाखों लोगों की सहायता करने के लिए, डॉक्टरों और शोधकर्ताओं को सबसे अच्छी देखभाल प्रदान करने के लिए, लंबे कोविड के लक्षणों का पता लगाने के लिए व्यापक उपकरणों की आवश्यकता है। इस बीच, लंबे कोविड लक्षणों के समूह को लक्षित करने वाले संभावित उपचारों का मूल्यांकन करने के लिए नैदानिक ​​​​परीक्षणों की आवश्यकता है, जो लंबे कोविड वाले लोगों को जीवन की गुणवत्ता में सुधार की उम्मीद दिला सकते हैं। 

Web Title: Nature Medicine Journal study reveals 62 long covid 19 symptoms reluctance to have sex and hair loss

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे