International Yoga Day 2024: योगासन करते समय इन 10 दस बातों का जरूर रखें ध्यान

By रुस्तम राणा | Published: June 20, 2024 03:05 PM2024-06-20T15:05:24+5:302024-06-20T15:05:24+5:30

योग एक प्राचीन अभ्यास है जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई है, जिसमें शारीरिक मुद्राओं (आसन), श्वास अभ्यास (प्राणायाम) और ध्यान के माध्यम से मन, शरीर और आत्मा को एक सूत्र में जोड़ा जाता है।

International Yoga Day 2024: If you are doing yoga for the first time, then keep these 10 things in mind | International Yoga Day 2024: योगासन करते समय इन 10 दस बातों का जरूर रखें ध्यान

International Yoga Day 2024: योगासन करते समय इन 10 दस बातों का जरूर रखें ध्यान

International Yoga Day 2024: 21 जून को प्रतिवर्ष मनाया जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योगाभ्यास के शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक लाभों को बढ़ावा देता है। योग एक प्राचीन अभ्यास है जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई है, जिसमें शारीरिक मुद्राओं (आसन), श्वास अभ्यास (प्राणायाम) और ध्यान के माध्यम से मन, शरीर और आत्मा को एक सूत्र में जोड़ा जाता है। योग दिवस पर आप यदि पहलीबार योग अभ्यास कर रहे हैं तो आपको आधारभूत मुद्राओं, श्वसन क्रिया पर ध्यान देना होगा। इस खबर हम आपको योग से जुड़ी दस बुनियादी टिप्स बताने जा रहे हैं जो आपके बहुत काम आएगी। 

1. सामान्य आसन से शुरुआत करें

सामान्य आसन से शुरुआत करने से चोट लगने से बचाव होता है और एक मजबूत आधार तैयार होता है। अधिक जटिल आसनों पर जाने से पहले ताड़ासन (पर्वत मुद्रा), अधोमुख श्वानासन और बाल मुद्रा जैसे सरल आसनों में महारत हासिल करने पर ध्यान दें।

2. उचित शारीरिक मुद्रा का उपयोग करें

उचित मुद्रा उपयोग करें और रीढ़ की हड्डी को एकदम सीधा रखें। इससे आसन की सुरक्षा और प्रभावशीलता सुनिश्चित होती है। अपने प्रशिक्षक द्वारा दिए गए संरेखण संकेतों पर ध्यान दें या किसी विश्वसनीय स्रोत से विस्तृत निर्देशों का पालन करें। दर्पण का उपयोग करें या किसी से अपना रूप जाँचने के लिए कहें।

3. शारीरिक सहजता पर ध्यान दें

अपने शरीर को महसूस करें क्योंकि यह अधिक परिश्रम और चोट से बचाता है। यदि कोई आसन दर्दनाक या असहज लगता है, तो उसे संशोधित करें या छोड़ दें। असुविधा और दर्द के बीच अंतर करना महत्वपूर्ण है।

4. नियमित रूप से अभ्यास करें

नियमित अभ्यास से ताकत, लचीलापन और स्थिरता बढ़ती है। कम, दैनिक सत्रों के बजाय कम, लंबे सत्रों का लक्ष्य रखें। दिन में 15-20 मिनट भी फायदेमंद हो सकते हैं।

5. श्वसन क्रिया पर रखें नियंत्र

सांस लेने से आराम और ध्यान बढ़ता है जो यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि आप सही तरीके से योग कर रहे हैं। गहरी, डायाफ्रामिक सांस लेने का अभ्यास करें (नाक से सांस लें, पेट भरें और पूरी तरह से सांस छोड़ें)। अपनी सांसों को अपनी हरकतों के साथ तालमेल बिठाने की कोशिश करें।

6. सहारा का उपयोग करें

सही संरेखण और गहरी स्ट्रेचिंग प्राप्त करने में सहारा सहायता करता है। अपने अभ्यास का समर्थन करने के लिए ब्लॉक, पट्टियाँ और कंबल का उपयोग करें। उदाहरण के लिए, यदि आप फर्श तक नहीं पहुँच सकते हैं तो त्रिभुज मुद्रा में अपने हाथ के नीचे एक ब्लॉक का उपयोग करें।

7. वार्म अप

वार्म-अप आपके शरीर को गहरी स्ट्रेचिंग के लिए तैयार करता है और चोट के जोखिम को कम करता है। मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने के लिए गर्दन के रोल, कंधे को सिकोड़ना और कैट-काउ स्ट्रेच जैसे हल्के वार्म-अप अभ्यासों से शुरुआत करें।

8. खुद को रखें शांत

शांत होने से शरीर को ठीक होने में मदद मिलती है और मांसपेशियों में दर्द कम होता है। अपने अभ्यास को शांत करने वाले आसन और स्ट्रेचिंग के साथ समाप्त करें, इसके बाद पूरी तरह से आराम करने के लिए शवासन (कॉर्पस पोज़) करें।

9. हाइड्रेटेड रहें

पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं क्योंकि यह आपकी मांसपेशियों और जोड़ों को चिकनाई देता है और डिटॉक्सिफिकेशन में मदद करता है। अपने अभ्यास से पहले और बाद में पानी पिएं। असुविधा से बचने के लिए अभ्यास से ठीक पहले बहुत अधिक पानी पीने से बचें।

10. सकारात्मक सोच बनाए रखें

सकारात्मक बने रहने से आपका समग्र अनुभव बेहतर होता है और दीर्घकालिक प्रतिबद्धता को बढ़ावा मिलता है। अपने अभ्यास को धैर्य और सकारात्मकता के साथ करें। छोटी-छोटी प्रगति का जश्न मनाएं और खुद पर बहुत ज़्यादा दबाव न डालें।

Web Title: International Yoga Day 2024: If you are doing yoga for the first time, then keep these 10 things in mind

स्वास्थ्य से जुड़ीहिंदी खबरोंऔर देश दुनिया खबरोंके लिए यहाँ क्लिक करे.यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Pageलाइक करे