How to get rid Painful Urination: causes, signs and symptoms of Painful Urination or dysuria, UTI, medical treatment and home remedies for Dysuria in Hindi, what to eat and what avoid in Painful Urination | पेशाब में जलन का इलाज : पेशाब में दर्द और जलन का घरेलू इलाज करने के लिए आजमाएं 7 आसान उपाय
पेशाब में जलन का इलाज

Highlightsपेशाब में जलन को हल्के में न लेंकिसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है पेशाब में दर्द होनातरल पदार्थों का खूब सेवन करें

पेशाब में दर्द और जलन होना एक आम समस्या है। इसे मेडिकल भाषा में डिस्यूरिया (Dysuria) कहते हैं। पेशाब के समय दर्द और जलन मूत्राशय या  मूत्रमार्ग में हो सकती है। महिलाओं और पुरुषों में इसके अलग-अलग कारण हो सकते हैं, जिन्हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। 

पेशाब में जलन और दर्द के कारण

पेशाब में जलन क्यों होती है-पेशाब में जलन और दर्द के कई कारण हैं और महिलाओं व पुरुषों में इसके अलग-अलग कारण हो सकते हैं। मुख्यतः इसके कारणों में यूटीआई (पेशाब से जुड़ी समस्या), एसटीआई (यौन संबंधित रोग), प्रोस्टेटाइटिस (प्रोस्टेट ग्रंथि में सूजन), सिस्टाइटिस, किडनी की पथरी, पेल्विक डिजीज, कुछ दवाएं और हाजीन का ख्याल नहीं रखना आदि शामिल हैं। 

पेशाब में जलन और दर्द के लक्षण

पेशाब के समय दर्द होना, लगातार पेशाब आना, मूत्राशय पर नियंत्रण नहीं होना, पेशाब में बदबू आना या खून आना, पेशाब करने की तीव्र इच्छा, मूत्राशय या जननांग में दर्द, पेशाब में कठिनाई, उलटी अथवा मितली और ठंड लगने के साथ बुखार, इसके लक्षण हैं। 

पेशाब में जलन का इलाज

खूब पानी पियें
जब आप अधिक पानी पीते हैं, तो आपका शरीर विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में सक्षम होता है। इससे पेशाब का दर्द कम होता है। हर दिन कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पिएं। डिहाइड्रेशन से विषाक्त पदार्थ जमा हो सकते हैं, जिसके कारण आपको पेशाब करते समय दर्द होगा।  

पेशाब में जलन होने पर क्या खाना चाहिए

प्रोबायोटिक्स 
यह समस्या कभी-कभी बैक्टीरिया और फंगल संक्रमण का परिणाम होता है। प्रोबायोटिक्स में स्वस्थ बैक्टीरिया होते हैं जो आपके शरीर को ऐसे संक्रमणों से लड़ने में मदद करते हैं। इसके अलावा, यह आपको एंटीबायोटिक दवाओं जैसी दवाओं के दुष्प्रभावों से बचने में भी मदद कर सकता है। इसके लिए अपनी डाइट में दही, केफिर, सौकरकूट और किमची शामिल करें।

पेशाब में जलन उपाय

लौंग का तेल 
यह आंतों के परजीवी और कैंडिडा के लिए एक बेहतर घरेलू उपाय है। यह आपके इम्यून सिस्टम को भी बूस्ट करता है। इस तेल में यौगिक यूजेनॉल होता है, जिसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह प्रभावी रूप से आपको फंगल और बैक्टीरियल संक्रमण से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है। हालांकि, इसे लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें।  

पेशाब में जलन का घरेलू उपाय

विटामिन सी 
यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देगा और आपके शरीर को सभी संक्रमणों से लड़ने में मदद करेगा। खट्टे फलों के अलावा, आप अन्य विटामिन सी से भरपूर फलों और सब्जियों को भी अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। स्ट्रॉबेरी, कीवी, पपीता, अमरूद, अनानास, आम, ब्रोकोली, केल और ब्रसेल्स स्प्राउट्स विटमैन सी के अच्छे स्रोत हैं।

इलायची 
यह पाचन में सहायता करता है और परिसंचरण में सुधार करता है। यह एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक है, जो विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और पानी को बनाए रखता है। इलायची कई बैक्टीरिया जैसे स्ट्रेप्टोकोकस म्यूटेंट, स्टैफिलोकोकस ऑरियस, कैंडिडा अल्बिकन्स और सैच्रोमाइसेस सेरेविसिया को भी मार सकती है। बस एक कप गर्म दूध में एक चम्मच इलायची पाउडर मिलाएं और रात को सोने से पहले इसे पी लें।

क्रैनबेरी 
क्रैनबेरी में भरपूर मात्रा में पॉलीफेनोल और एन्थोसाइनिन (पीएसी) का भंडार हैं। ये संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मूत्र पथ की दीवारों से हटाने में मदद करते हैं और इसलिए यूटीआई को रोकते हैं। 

अनार
अनार विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरा होता है, जो मूत्र पथ के संक्रमण के उपचार और रोकथाम में मदद करता है। इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने वाले विटामिन सी से भरपूर ये फल बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ने में मदद करता है और यूटीआई मरीज की जल्दी ठीक होने में मदद करता है।

Web Title: How to get rid Painful Urination: causes, signs and symptoms of Painful Urination or dysuria, UTI, medical treatment and home remedies for Dysuria in Hindi, what to eat and what avoid in Painful Urination

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे