Highlightsकुछ लोगों का कहना है कि किडनी की पथरी का दर्द प्रसव से भी बदतर हो सकता हैपथरी तब बनती है जब आपके पेशाब में खनिज एक साथ जमा होते हैं

किडनी की पथरी रेत के दाने के बराबर हो सकती है और कभी-कभी यह पेशाब के जरिये बाहर निकल जाती है। लेकिन एक बड़ी पथरी आपके मूत्र प्रवाह को अवरुद्ध कर सकती है और दर्द का कारण बन सकती है। कुछ लोगों का कहना है कि किडनी की पथरी का दर्द प्रसव से भी बदतर हो सकता है। 

ये पथरी तब बनती है जब आपके पेशाब में खनिज एक साथ जमा होते हैं। यह कई चीजों से हो सकता है, जैसे कि आप क्या खाते हैं और कुछ दवाएं। यदि आपके या आपके परिवार के किसी व्यक्ति की किडनी में स्टोन है, तो आपको इसका होने का जोखिम अधिक है। 

1) पानी की कमी
हेल्थ वेबसाइट वेबएमडी के अनुसार,  आपको उन चीजों को पतला करने के लिए पर्याप्त मूत्र बनाने की आवश्यकता है जो पथरी में बदल सकते हैं। यदि आप पर्याप्त मात्रा में नहीं पीते हैं या बहुत पसीना बहाते हैं, तो आपका पेशाब गाढ़ा दिख सकता है। यह हल्का पीला या स्पष्ट होना चाहिए। अगर आपको पहले कभी पथरी थी, तो आपको एक दिन में लगभग आठ कप पेशाब करना चाहिए। इसके लिए खूब पानी पियें और पानी में नींबू मिलायें। इसके अलावा संतरे का रस लें, इसमें मौजूद साइट्रेट पथरी को बनने से रोक सकता है।

2) खराब डाइट
सबसे सामान्य प्रकार का किडनी स्टोन तब होता है जब कैल्शियम और ऑक्सालेट एक साथ चिपक जाते हैं जब आपके गुर्दे मूत्र करते हैं। ऑक्सालेट एक रसायन है जो कई स्वस्थ खाद्य पदार्थों और सब्जियों में होता है। इसमें पालक, जई का आटा, चोकरयुक्त अनाज आदि शामिल हैं। 

3) सोडियम
आप मुख्य रूप से टेबल नमक के माध्यम से इसे प्राप्त करते हैं। यह कई प्रकार के गुर्दे की पथरी होने की संभावनाओं को बढ़ा सकता है। इसलिए नमकीन स्नैक्स, डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, डिब्बाबंद मीट और अन्य प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों को खाने से बचें।

4) एनिमल प्रोटीन
एक अन्य प्रकार का किडनी स्टोन तब बनता है जब आपका पेशाब बहुत अधिक अम्लीय होता है। रेड मीट और शेलफिश आपके शरीर में यूरिक एसिड बढ़ा सकते हैं। यह जोड़ों में इकट्ठा हो सकता है और गाउट का कारण बन सकता है या आपके गुर्दे में जा सकता है और पथरी बना सकता है। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि पशु प्रोटीन आपके मूत्र में कैल्शियम स्तर को बढ़ाता है और साइट्रेट की मात्रा को कम करता है, जिससे पथरी का खतरा होता है।

5) एक्सरसाइज नहीं करना
यदि आप मोटे हैं तो आपको गुर्दे की पथरी होने की संभावना लगभग दोगुनी है। वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करने से स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है। ऐसा माना जाता है कि मोटापे से पीड़ित लोगों में पथरी का खतरा बढ़ सकता है। यही वजह है कि एक्सपर्ट वजन कंट्रोल रखने की सलाह देते हैं।

यह भी हैं किडनी की पथरी के अन्य कारण
इसके अलावा डायबिटीज टाइप 2, हड्डियों के रोग गाउट, थायरोइड, किडनी की समस्या रेनल ट्युबुलर एसिडओसिस के मरीजों को किडनी की पथरी का अधिक खतरा हो सकता है। 

कुछ दवाएं जैसे सिप्रोफ्लोक्सासिन और सल्फा एंटीबायोटिक्स सहित कुछ एंटीबायोटिक्स, एचआईवी और एड्स के इलाज के लिए कुछ दवाएं, उच्च रक्तचाप के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाली कुछ मूत्रवर्धक दवाओं के कारण भी पथरी बन सकती है। 

दूध और पनीर से नहीं होती पथरी
आपने सुना होगा कि दूध पीने से गुर्दे की पथरी हो सकती है। यह सच नहीं है। यदि आप एक ही समय में कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ (जैसे दूध और पनीर) और ऑक्सलेट के साथ खाद्य पदार्थ खाते या पीते हैं, तो यह आपके शरीर को ऑक्सालेट को बेहतर तरीके से संभालने में मदद करता है।

English summary :
Kidney stones can be equal to sand grains and sometimes it comes out through urine. But a large stone can block your urine flow and cause pain. Some people say that kidney stone pain may be worse than childbirth.


Web Title: Health tips : main reasons of Kidney stone, signs, symptoms and prevention tips of kidney stone and kidney stone pain
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे