कई ऐसी बीमारियां हैं जिनके संकेत और लक्षण एक जैसे होते हैं। इस तरह के मामलों में कभी-कभी डॉक्टर के लिए भी उपचार करना मुसीबत बन जाता है। हम आपको ऐसी ही कुछ बीमारियों के बारे में बता रहे हैं जिनके लक्षण लगभग एक जैसे होते हैं। इससे आपको लक्षणों को समझने और सही इलाज करने में मदद मिल सकती है। 

लाइम डिजीज और फ्लू
ब्राइटसाइड के अनुसार, लाइम डिजीज में अक्सर शरीर पर लाल धब्बे हो जाते हैं लेकिन कुछ ऐसे मामले भी हैं जिसमें निशान नहीं बनते हैं। इसके बजाय, रोगियों में शरीर में दर्द, बुखार और थकान जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं और ऐसे ही लक्षण फ्लू में भी प्रकट होते हैं। ऐसे मामले में ब्लड टेस्ट से कुछ पता नहीं चलता है क्योंकि शरीर एंटीबॉडीज विकसित करना शुरू नहीं करता है जो 2 हफ्ते तक इस स्थिति का संकेत देते हैं।

किडनी की पथरी और एब्डोमिनल एओर्टिक एन्यूरिज्म
एब्डोमिनल एओर्टिक एन्यूरिज्म शरीर के निचले हिस्से में मौजूद एक बढ़ा हुआ क्षेत्र है जो बड़ी धमनी को रक्त की आपूर्ति करता है। कई बार इसमें वैसा ही दर्द होता है जैसे किडनी की पथरी में। इतना ही नहीं, इसके लक्षण भी किडनी की पथरी की तरह जैसे तेज पेट दर्द, मतली या उल्टी के साथ शुरू होते हैं।

हेपेटाइटिस और एलर्जी
हेपेटाइटिस किसी भी लक्षण के बिना वर्षों तक रह सकता है, हालांकि इससे लीवर को नुकसान पहुंच सकता है। लीवर की समस्याओं के सबसे आम लक्षण पेट में दर्द, खुजली और थकान हैं। यह सभी लक्षण एलर्जी जैसे होते हैं। यही कारण है कि आंखों और जीभ के रंग पर ध्यान देना बहुत महत्वपूर्ण है। यदि आप इनमें पीलापन नोटिस करते हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए।

थायरॉयड और हाई ब्लड प्रेशर
थायरॉयड ग्रंथि शरीर का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है, क्योंकि यह कई हार्मोनों को नियंत्रित करता है। जब थायरॉयड ग्रंथि थायरॉयड हार्मोन का कम उत्पादन करती है, तो वजन बढ़ना, पसीना आना और थकान जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। थायरॉयड हार्मोन का ज्यादा उत्पादन होने पर वजन घटना, चिड़चिड़ापन और दिल की धड़कन बढ़ना जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। हाई ब्लड प्रेशर के कई रोगियों में ये लक्षण बहुत आम हैं।

पल्मोनरी एम्बोलिज्म और पैनिक अटैक
पल्मोनरी एम्बोलिज्म एक बहुत खतरनाक स्थिति है और यह तब होती है, जब एक ब्लड स्पॉट फेफड़े में फेफड़े की धमनी को अवरुद्ध करता है, जिससे सीने में तेज दर्द, सांस की तकलीफ, चिंता और बेहोशी होती है। इस तरह के लक्षण अन्य स्थितियों जैसे कि पैनिक अटैक, निमोनिया या हार्ट अटैक में भी दिखाई देते हैं।

सीलिएक रोग और जठरांत्र संबंधी मार्ग संक्रमण
सीलिएक रोग का सरल शब्दों में मतलब होता है ग्लूटेन को पचाने में असमर्थता। ग्लूटेन मुख्य रूप से गेहूं और कुछ अन्य अनाज में पाया जाता है। डॉक्टरों का कहना है कि इसके लक्षण लोगों में अलग-अलग हो सकते हैं। इसके लक्षणों में पेट दर्द, दस्त, कब्ज, सिरदर्द और बहुत कुछ शामिल हो सकते हैं। आमतौर पर गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट की अन्य बीमारियों में भी ऐसे ही लक्षण पाए जा सकते हैं।

एपेंडिसाइटिस और आईबीएस
एपेंडिसाइटिस होने पर मरीज को पेट के निचले दाहिने हिस्से में दर्द महसूस होना, उल्टी या मतली हो सकते हैं। हालांकि कई मामलों में इसके लक्षण अलग-अलग जगहों पर दिखाई देते हैं, इस प्रकार इसका निदान करना काफी मुश्किल हो जाता है। कभी-कभी ऐसे ही लक्षण आंतों के रोग इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम में महसूस हो सकते हैं। 

Web Title: Health tips in Hindi: list of same symptoms diseases like flu, lyme disease, kidney stone, hepatitis, allergies, blood pressure
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे