Highlightsइसका लोक चिकित्सा में उपयोग किया जाता हैयह पौधा शारीरिक कमजोरी दूर करने में सक्षम है

रसभरी टमाटर की तरह दिखने वाला एक छोटे आकार का फल होता है, जो आपको बाजार में कहीं भी मिल सकता है। पीले रंग के इस फल का स्वाद कसैला होता है और यह कैरोटीनॉयड, विटामिन सी, के, पोटेशियम और आयरन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसकी चिकित्सीय संपत्ति के कारण इसका लोक चिकित्सा में उपयोग किया जाता है। 

यह पौधा शारीरिक कमजोरी दूर करने में सक्षम है। साथ ही यह आपके शुगर को भी नियंत्रित करता है। इसके अलावा यह आपकी मांसपेशियों में होने वाले दर्द, पेशाब के समय उठने वाली समस्याएं, मुंह की बदबू, मुंह के छाले और दांतों में दर्द होने जैसी कई सारी समस्याओं को खत्म कर सकता है। चलिए जानते हैं इसके और क्या-क्या फायदे हैं। 

1) सूजन कम करने में सहायक
हेल्थ वेबसाइट द हेल्थसाइट के अनुसार, इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं होते हैं जिस वजह से इसके सेवन से शरीर में सूजन कम करने में मदद मिलती है। ज्यादा फायदा लेने के लिए इसका रस पीना चाहिए। साथ ही ये शरीर के दर्द को कम करता है।

2) लीवर के लिए फायदेमंद
इसके शक्तिशाली हेपेटोप्रोटेक्टिव गुणों के कारण इसे मुक्त कणों के नुकसान से लीवर की रक्षा के लिए जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि रसभरी के सेवन से लीवर कैंसर के उपचार में भी मदद मिलती है।

3) पाचन को बेहतर रखने में सहायक
रसभरी का फल उदर रोगों के लिए लाभकारी है। इसकी पत्तियों का काढ़ा पीने से पाचन अच्छा होता है साथ ही भूख भी बढ़ती है। यह लीवर को उत्तेजित कर पित्त निकालता है। इसकी पत्तियों का काढ़ा शरीर के भीतर की सूजन को दूर करता है। सूजन के ऊपर इसका पेस्ट लगाने से सूजन दूर होती है।

4) बवासीर से दिलाता है राहत
यदि आप बवासीर की समस्या से परेशान हैं तो, आप रसभरी के पत्तों का काढ़ा बनाकर पियें इससे आप बवासीर की समस्या से बहुत जल्द छुटकारा पा जाएंगे। इसके इससे पेट से संबंधित सभी रोगों से छुटकारा मिल जाता हैं।  

5) भूख बढ़ाने में सहायक
रसभरी के फलों का सेवन करने से पाचन शक्ति मजबूत तो होती है साथ ही इसके पत्तों का काढ़ा बनाकर पीने से भूख भी बढ़ती है।

6) किडनी को रखता है स्वस्थ 
यदि आपकी किडनी में किसी भी प्रकार की समस्या है तो, आप रसभरी का सेवन नियमित रूप से अवश्य करें इससे आपको बहुत ही फायदा होगा। 

7) डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद
अगर आप डायबिटीज के रोग से पीड़ित हैं तो, आप रसभरी के ताजे पत्तों का काढ़ा बनाकर सुबह-शाम जरूर पियें इससे आप डायबिटीज के रोग से बहुत ही जल्द छुटकारा पा जाएंगे। 

8) वजन कम करने में सहायक
रसभरी मोटापे से भी छुटकारा दिलाता है। रसभरी का नियमित रूप से सेवन करते रहने से ब्लड प्रेशर तथा लीवर की बीमारी से छुटकारा मिलता है।

इस बात का रखें ध्यान

अगर आप ऊपर बताई गईं किसी समस्या से पीड़ित हैं और उससे निपटने के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि यह किसी भी बीमारी का स्थायी इलाज नहीं है। आप इसका सेवन दवाओं के साथ-साथ करें। इसके अलावा इसका बहुत अधिक सेवन करने से भी बचें।

Web Title: Health and diet tips : Cape Gooseberry or Rasbhari health benefits for kidney, skin, liver, heart
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे