खराब खान-पान और अनियमित जीवनशैली की वजह से फेफड़े, लीवर, किडनियां और रक्त वाहिकाओं में गंदगी जमा होने लगती है जिससे धीरे कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। फेफड़े खराब होने से अस्थमा और टीबी का खतरा, किडनियां खराब होने से पथरी और यूटीआई का खतरा, लीवर खराब होने से पीलिया और फैटी लीवर का खतरा और रक्त वाहिकाओं का ब्लॉक होने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसी जानलेवा बीमारियों का खतरा हो सकता है।

यही वजह है की शरीर के इन अंगों को साफ रखना बहुत जरूरी है। हालांकि इसके लिए आपको दवाओं की जरूरत नहीं है। आप खान-पान में बदलाव करके के भी इनमें जमा गंदगी को हटा सकते हैं। हम आपको कुछ खाद्य पदार्थों की जानकारी दे रहे हैं जिनसे आपको मदद मिल सकती है।  

फेफड़ों को साफ करने के लिए खायें ये चीजें

ग्रीन टी
ग्रीन टी में कई एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो फेफड़ों में सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। ये यौगिक फेफड़ों के ऊतकों को धुएं के सांस लेने के हानिकारक प्रभावों से भी बचा सकते हैं। कोरिया में 1,000 से अधिक वयस्कों को लेकर किए गए एक हालिया अध्ययन में बताया गया है कि जो लोग प्रति दिन कम से कम 2 कप ग्रीन टी पीते हैं, उनके फेफड़ों का कार्य बेहतर था।

एंटी इंफ्लेमेटरी फूड
वायुमार्ग की सूजन सांस लेने में कठिनाई कर सकती है और छाती को भारी और बेचैनी महसूस कर सकती है। एंटी इंफ्लेमेटरी फूड खाने से इन लक्षणों को दूर करके सूजन को कम किया जा सकता है। इन चीजों में शामिल हैं: हल्दी, पत्तेदार साग, चेरी, ब्लू बैरीज़, ओलिव, अखरोट, फलियां और मसूर की दाल। 

लीवर को साफ करने के लिए खायें ये चीजें

एवोकैडो, टमाटर और पालक
एवोकैडो ग्लूटाथियोन से भरपूर है। यह पदार्थ पूरे शरीर में मौजूद है और इसका कार्य ऑक्सीकरण के खिलाफ कोशिकाओं की रक्षा करना और शरीर को भारी धातुओं से बचाना है। इसके अलावा टमाटर और पालक भी पाचन एंजाइमों के साथ-साथ लीवर की कामकाज को उत्तेजित करता है।

चुकंदर और गाजर
चुकंदर और गाजर भी ग्लूटाथियोन का भंडार हैं। फ्लेवोनोइड और बीटा-कैरोटीन से भरपूर इन दो खाद्य पदार्थों को खाने से लीवर को साफ रखने और मजबूत बनाने में मदद मिलती है। 

किडनियों को साफ करने के लिए खायें ये चीजें

अंगूर
अंगूर, मूंगफली, और कुछ जामुन में एक यौगिक होता है जिसे रेस्वेराट्रॉल कहा जाता है। इसमें गुर्दे के रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। यह किडनियों की सूजन को करने में सहायक है। रोजाना मुट्ठीभर लाल अंगूर खाने से किडनियों को साफ रखने में मदद मिलती है।

क्रैनबेरी
क्रैनबेरी को मूत्राशय के स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है। न्यूट्रिशन जर्नल में एक क्लिनिकल ट्रायल सोर्स के हवाले से बताया गया है कि जिन महिलाओं ने दो सप्ताह तक रोजाना मीठे, सूखे क्रैनबेरी का सेवन किया, उनमें मूत्र पथ के संक्रमण की घटनाओं में कमी देखी गई। सूखे क्रैनबेरी ट्रेल मिक्स, सलाद या यहां तक कि दलिया के साथ सेवन किया जा सकता है।

नसों को साफ करने के लिए खायें ये चीजें

हल्दी
हल्दी में करक्यूमिन होता है। यह इस संपत्ति के कारण है कि हल्दी सूजन को कम करती है जो धमनियों को सख्त कर देती है। इस स्थिति को एथेरोस्क्लेरोसिस कहा जाता है और यह बहुत खतरनाक है। इसलिए, हल्दी धमनियों में सूजन को कम करने का काम करती है। यह सूजन अस्वास्थ्यकर भोजन की आदतों जैसे कई कारकों के कारण हो सकती है।

संतरा
एक अध्ययन में पाया गया कि संतरे का सेवन रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि संतरे में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो रक्त वाहिका के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। संतरे में फाइबर पेक्टिन भी होता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। संतरे में मौजूद विटामिन सी धमनियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।

Web Title: foods for detox your body : eat these foods to cleanse your arteries, lungs, liver, kidneys without medicine
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे