स्‍तंभन दोष या इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) एक ऐसी गंभीर समस्या है जिससे आजकल सिर्फ बुजुर्ग ही नहीं युवा भी पीड़ित हैं। सेक्स के दौरान लिंग में तनाव नहीं आना या बहुत जल्दी स्खलित हो जाना इसके आम लक्षण हैं। सेक्स के दौरान लिंग में उत्तेजना पाने या उत्तेजना बनाए रखने में असफल होने को इरेक्टल डिसफंक्शन कहा जाता है। 

ईडी को हिंदी में क्या कहते हैं (Erectile Dysfunction means in hindi)

सेक्स के दौरान पेनिस के इरेक्शन न कर पाने को इरेक्टाइल डिस्फंक्शन कहा जाता है। इसे हिंदी में स्‍तंभन दोष कहा जाता है। यह तब होता है, जब पुरुष को लिंग मे उत्‍तेजना बनाये रखने में परेशानी महसूस होती है। 

ईडी के लक्षण (Symptoms of Erectile Dysfunction)

लिंग में इरेक्शन यानी तनाव नहीं आना 
लिंग में इरेक्शन ज्यादा देर तक तनाव नहीं बनना
लिंग में तनाव बनते ही खत्म हो जाना
जल्दी स्खलित हो जाना
लिबिडो और सेक्स ड्राइव कम होना
सेक्स हार्मोन का कम बनना 

ईडी के कारण (Causes, Symptoms of Erectile Dysfunction)

पैंट की जेब में मोबाइल रखना
लैपटॉप को पैरों पर रखना
टाइट अंडरवियर और पैंट पहनना
कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पीना
चाय-कॉफी का सेवन
कीटनाशक फल-सब्जियां खाना
नींद में कमी
नशीले पदार्थों का सेवन
साइकिल चलाना
सप्‍पलीमेंट का सेवन

ईडी के लिए सफेद मूसली (Safed Musli for Erectile Dysfunction)

1) सफेद मूसली एक इम्युनोस्टिमुलेटरी एजेंट है जो सामान्य प्रतिरक्षा में सुधार करता है और कमजोरी से राहत देता है।

2) अधिकांश भारतीय डायबिटीज से पीड़ित हैं और डायबिटीज इरेक्टाइल डिसफंक्शन का एक बड़ा कारण है। सफेद मूसली को डायबिटीज से होने वाली परेशानी के लिए प्रभावी माना जाता है।

3) सफेद मूसली टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन बढ़ाती है, शुक्राणुओं की संख्या में सुधार करती है और यौन इच्छा को बढ़ाती है।

4) इस जड़ी बूटी का कामोद्दीपक गुणों के लिए प्राचीन आयुर्वेदिक ग्रंथों में उल्लेख किया है। इसकी वजह यह है कि इसे शीघ्रपतन और कम शुक्राणु गतिशीलता (ओलिगोस्पर्मिया) के खिलाफ प्रभावी पाया गया है।

ईडी के लिए आयुर्वेदिक उपचार (Ayurvedic treatment, foods for Erectile Dysfunction)

सेक्स के मामले में अगर आपको लंबी रेस का घोड़ा बनना है, तो आपको प्याज, लहसुन और मिर्ची जैसी चीजों का सेवन बढ़ा देना चाहिए। प्याज और लहसुन दो ऐसी चीजें हैं, जो आपके ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करती हैं। केला भी एक बेहतर चीज है। आपको ओमेगा 3 फैटी एसिड्स से भरपूर सैमन और ट्यूना मछली के साथ एवोकाडो और ओलिव ऑयल का भी सेवन बढ़ा देना चाहिए। इन चीजों को खाने से ब्लड फ्लो बढ़ता है। इसके अलावा विटामिन बी-1 से भरपूर चीजें जैसे पोर्क, पीनट और राजमा आदि भी आपके काम आ सकती हैं। विटामिन बी से भरपूर अंडा खाने से हार्मोन लेवल बढ़ता है और तनाव कम होता है और यह दोनों ही चीजें बेहतर सेक्स के लिए जरूरी हैं। 

ईडी के लिए दवाएं (Drugs and medicine for erectile dysfunction)

अवनाफिल (स्टेन्ड्रा)
सिल्डेनाफिल (वियाग्रा)
तदलाफिल (सियालिस)
वॉर्डनफ़िल (लेवित्रा, स्टेक्सिन)

ईडी के लिए आयुर्वेदिक दवा (Ayurvedic Medicine for Erectile Dysfunction)

इंडियन जिन्सेंग
शतावरी  
सफेद मूसली
दालचीनी 

ईडी के लिए योगासन (Yoga Poses for Erectile Dysfunction)

पश्चिमोत्तानासन
कुंभकासन
उत्तानपादासन 
नौकासन 
धनुरासन

इस बात का रखें ध्यान

अगर आप इस समस्या से जूझ रहे हैं और आप ऊपर बताए गए उपायों और दवाओं का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो पहले आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। बिना परामर्श किये कीसी भी उपाय को अपनाने से आपको खतरा भी हो सकता है।

English summary :
Safed Musli Benefits for Erectile Dysfunction causes, symptoms, Ayurveda treatments, foods: White muesli is an immunostimulatory agent that improves general immunity and relieves weakness.


Web Title: Erectile Dysfunction : causes, symptoms, Ayurveda treatments, foods, yoga poses, medicine, pills and medical test
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे