Diarrhea as a symptom of the Coronavirus, sign and symptoms and home remedies for Diarrhea in Hindi | COVID treatment: कोरोना का गंभीर लक्षण है डायरिया, इन 10 लक्षणों से करें पहचान, आजमायें ये 8 घरेलू उपाय
कोरोना का इलाज

Highlightsकोरोना का लक्षण है दस्त अधिकतर मरीजों में देखा जा रहा है ये लक्षण इस लक्षण को नजरअंदाज न करें

कोरोना वायरस के मरीजों में दस्त के लक्षण देखने को मिल रहे हैं। यह पाचन की वो स्थिति है जिसमें पीड़ित को सामान्य से अधिक बार पानी वाला पतला मल आता है। यह समस्या आमतौर पर तीन से पांच दिन तक रहती है। 

एक अध्ययन से पता चला है कि दस्त का लक्षण विशेष रूप से उन लोगों में हो सकता है जिन्हें हल्का कोरोना है। अमेरिकन जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंटरोलॉजी में प्रकाशित इस अध्ययन के अनुसार दस्त कोरोना का प्रारंभिक लक्षण हो सकता है। 

इस अध्ययन से पता चला कि 23% रोगियों को पाचन लक्षण, 43% केवल श्वसन लक्षण और 33% श्वसन और जठरांत्र (गैस्ट्रो) दोनों लक्षणों के साथ भर्ती किया गया था। गैस्ट्रो के लक्षणों वाले रोगियों में से 67% को दस्त था और 20% ने अपनी बीमारी के पहले लक्षण के रूप में दस्त का अनुभव किया। 

दस्त के लक्षण

इस समय पर इलाज करना बहुत जरूरी है। लंबे समय तक पतले दस्त रहने पर शरीर में पानी की कमी होने लगती है जिससे बॉडी में डिहाइड्रेशन होने लगती है। इंफेक्शन हो जाने से बार-बार मोशन होना, कमजोरी होना, उल्टी होना और कभी-कभी बुखार होने जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

दस्त होने पर नजर आने वाले प्रमुख लक्षण इस प्रकार हैं, पेट में ऐंठन या दर्द का होना, बार-बार शौचालय जाना, आंतों के कार्य प्रणाली का कमजोर होना, अगर वायरस या बैक्टीरिया दस्त का कारण है, तो बुखार, ठंड लगना और खूनी दस्त भी हो सकते हैं।

डायरिया के लिए घरेलू उपाय

नींबू पानी
इस समस्या से बचने के लिए जरुरी है की प्रयाप्त मात्रा में पानी पीते रहे। इसके इलावा नींबू पानी और ओआरएस का घोल पिने से भी डायरिया में राहत मिलती है। शरीर में पानी की कमी पूरा करने और दस्त से छुटकारा पाने के लिए ये जानना भी जरुरी है की दस्त लगने पर क्या करे और क्या खाये।

अदरक
अदरक में एंटीफंगल और एंटी-बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं, जो पेट दर्द में राहत देता है। एक चम्मच अदरक पाउडर को दूध में मिलाकर पीने से आराम मिलता है।

दही
पेट दर्द में दही का इस्तेमाल काफी फायदेमंद रहता है। दही में मौजूद बैक्टीरिया संतुलन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जिससे पेट जल्दी ठीक होता है। साथ ही ये पेट को ठंडा भी रखता है।

केला
केले में मौजूद पेक्टिन पेट को बांधने का काम करता है। इसमें मौजूद पोटै‍शियम की उच्च मात्रा भी शरीर के लिए फायदेमंद होती है। इस समस्या से राहत पाने के लिए आप काले नमक के साथ केले का सेवन कर सकते हैं।

जीरा
अगर आपको लगातार दस्त हो रहे हों तो एक चम्मच जीरा चबा लें। अमूमन सभी घरों में मिलने वाला ये मसाला दस्त में काफी फायदेमंद है। जीरा चबाकर पानी पी लेने से दस्त बहुत जल्दी रुक जाते हैं।

सौंफ
पांच ग्राम जीरा और पांच ग्राम सौंफ लेकर बारीक पीस ले और इसका चूर्ण बना ले। 1 गिलास पानी के साथ 1 चम्मच चूर्ण ले। इस घरेलू नुस्खे से लूज मोशन से जल्दी निजात मिलती है।

इलायची
चार छोटी इलायची चार कप पानी में डाल कर पकाए। पानी जब तीन कप रह जाए तब इसे ठंडा होने के लिए रख दे। दिन में हर चार घंटे के बाद एक कप पानी पिए। छोटी इलायची लूज मोशन का इलाज करने में काफी फायदेमंद है।

नारियल पानी
दस्त के घरेलू उपाय में नारियल पानी के फायदे देखे गऐ हैं। दरअसल, दस्त के कारण शरीर में ग्लूकोज और पानी की कमी हो जाती है और नारियल पानी इस कमी को पूरा करने का काम करता है। नारियल पानी को ग्लूकोज इलेक्ट्रोलाइट सॉल्यृशन के रूप में हल्के दस्त को दूर करने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

Web Title: Diarrhea as a symptom of the Coronavirus, sign and symptoms and home remedies for Diarrhea in Hindi

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे