कोरोना वायरस के साथ-साथ गर्मी का प्रकोप भी जारी है। इस मौसम में ज्यादा ठंडा खाने-पीने से आपको सर्दी-जुकाम का सामना करना पड़ सकता है। ध्यान रहे कि कोरोना महामारी के दौरान सर्दी-जुकाम होना किसी पाप से कम नहीं है। इसका कारण यह है कि यह कोरोना के लक्षण हैं और आजकल कोई भी व्यक्ति इन लक्षणों वाले लोगों को संदिग्ध नजर से देख रहा है। 

खैर, अगर मौसम बदलने या ज्यादा ठंडा-गर्म खानेपीने की वजह से आपको सर्दी, खांसी, जुकाम का होना या छाती में बलगम जमने जैसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आपको सावधान हो जाना चाहिए। क्योंकि यह समस्याएं इम्यून सिस्टम कमजोर होनी की निशानी हैं।  

जब इम्यूनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है तो जुखाम, खांसी, सर्दी, गले की खराश, मांस पेशियों में दर्द जैसी समस्या होने लगती है। इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए अक्सर दवाई लेते हैं जो कि हमारे शरीर के लिए हानिकारक भी हो सकता है। 

यदि आप इन समस्याओं से राहत पाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको बार-बार एंटीबायोटिक दवा खाने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह दवाइयां आपकी भीतरी अंगों को नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए आयुर्वेदिक घरेलू उपचार ऐसे में कारगर साबित होते हैं जो संक्रमण से बचाते हैं और शरीर के किसी भी अंग को नुकसान नहीं पहुंचाते हैं।

आज हम आपको कई तरह का काढ़ा बनाने के बता रहे हैं जो आपको इन तमाम समस्याओं से छुटकारा दिला सकते हैं। काढ़ा आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है और होने वाले संक्रमण से बचाता है। काढ़ा को बनाने के लिए आपको अदरक, शहद, तुलसी के पत्ते जैसी चीजों की आवश्यकता पड़ेगी।

तुलसी और अदरक का काढ़ा बनाने का तरीका
- आप 10-12 तुलसी के पत्ते, 2-3 काली मिर्च और एक टुकड़ा अदरक का लेकर इसे पीस लें। अब इसे दो कप पानी में उबालें। जब उबलकर पानी 1 कप रह जाए तो इसे छानकर एक चम्मच शहद मिलाकर पियें। यह काढ़ा सर्दी, खांसी के लिए अद्भुत है।

दालचीनी और शहद का काढ़ा बनाने का तरीका
- दो कप पानी में एक चम्मच दालचीनी का पाउडर मिलाकर उबालें जब पानी 1 कप रह जाए तो एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं। यह कफ को ढीला करता है और कफ को बाहर निकालता है।

गिलोय का काढ़ा बनाने का तरीका
- दो कप पानी में गिलोय का लगभग आधा चम्मच पीस लें और उबालें यह काढ़ा पाचन तंत्र को ठीक रखता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता को तेजी से बढ़ाता है। इतना ही नहीं यह फ्लू के लक्षण से भी लड़ता है। इसका नियमित सेवन करने से आप कई तरह के संक्रमण से भी बच सकते हैं।

नमक के पानी के गरारे
- नमक का पानी और बेकिंग सोडा भी सर्दी, खांसी और बलगम को निकालने में मददगार होता है। यदि आप दिन में दो-तीन बार नमक के पानी के गरारे या बेकिंग सोडा मिलाकर गरारे करते हैं तो इससे छाती में जमा बलगम, खांसी, गले में खराश जैसी समस्या दूर होती है।

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण देश में पिछले 24 घंटे में 194 और लोगों की मौत हो जाने से बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे तक इस घातक बीमारी से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,531 हो गई और संक्रमण के 6,566 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1,58,333 हो गई।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय ने बताया कि देश में 86,110 संक्रमित लोगों का उपचार चल रहा है, 67,691 लोग इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और एक मरीज विदेश चला गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘अभी तक 42.75 प्रतिशत मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।’’

देश में जिन लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, उनमें विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। जिन 194 लोगों की बुधवार सुबह से मौत हुई है, उनमें से महाराष्ट्र में 105, गुजरात में 23, दिल्ली में 15, उत्तर प्रदेश में 12, मध्य प्रदेश में आठ, तमिलनाडु, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल में छह-छह, कर्नाटक एवं राजस्थान में तीन-तीन, बिहार एवं जम्मू-कश्मीर में दो-दो और आंध्र प्रदेश, हरियाणा एवं केरल में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

देश में संक्रमण से अब तक कुल 4,531 मरीजों की मौत हुई है, जिनमें सर्वाधिक 1,897 मरीजों की मौत महाराष्ट्र में और 938 मरीजों की मौत गुजरात में हुई है। म

 

Web Title: Covid-10 precautions and prevention tips: Home remedies to get rid coronavirus symptoms like cough, fever, cold and muscle pain easily
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे