Coronavirus or covid-19 myths and facts : myths about coronavirus viral on social media and their facts | Coronavirus : घबराएं नहीं, कोरोना वायरस से जुड़ीं इन 8 बातों को अच्छी तरह समझें और अपना जीवन बचाएं
Coronavirus : घबराएं नहीं, कोरोना वायरस से जुड़ीं इन 8 बातों को अच्छी तरह समझें और अपना जीवन बचाएं

Coronavirus (COVID-19) : कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे पहले ही महामारी घोषित कर दिया है। सार्वजनिक स्वास्थ्य संकट की इस घड़ी में भारतीय स्वास्थ्य प्रणाली कोरोनो वायरस के खिलाफ पूरी मुस्तैदी से खड़ी है। हालांकि, गलत जानकारी के कारण लोगों में दहशत फैली हुई है।

इस वायरस की उत्पत्ति पर कई चर्चाएं चल रही हैं। इससे बचाव के टीके, शर्तिया इलाज, प्रसार रोकने के लिए मास्क का उपयोग समेत कई बातों पर बहस हो रही है। इंटरनेट, मैसेजिंग ग्रुप्स, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि कोरोना वायरस के बारे में लोगों को जागरूक कर रहे हैं। 

वहीं, इस वायरस के बारे में जितनी सच्चाई है, समाज में उतने मिथक भी हैं। क्या घरेलू उपचार से ठीक सकते हैं? लहसुन, गर्म पानी से गरारा करना, विटामिन सी, स्टेरॉयड आदि सोशल मीडिया पर पांव पसारे हुए हैं। हालांकि कुछ बीमारियों के लिए अहम हैं, लेकिन कोरोनो वायरस के लिए नहीं।

ऐसी भी खबरें हैं कि लोगों ने शरीर परक्लोरीन या अल्कोहल का छिड़काव कर शरीर पर तिल का तेल रगड़ना शुरू कर दिया है, लेकिन ये मददगार नहीं हैं। ब्लीच, 75 प्रतिशत इथेनॉल पेरासिटिक एसिड, क्लोरोफॉर्म सहित कुछ रासायनिक पदार्थ निश्चित तौर पर संक्रमण खत्म कर सकते हैं, लेकिन वे सतह पर वायरस को मार सकते हैं। किसी भी कीटाणुनाशक रसायन का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए, क्योंकि यह बहुत खतरनाक हो सकता है। 

क्या कोरोना वायरस का कोई इलाज है?
फिलहाल कोरोना वायरस का कोई इलाज नहीं है। हालांकि शोध चल रहा है। संभव है कि एक साल बाद इसका टीका उपलब्ध हो। इससे बचाव का सबसे कारगर तरीका उन लोगों से कम से कम 1 मीटर दूर रहना है, जिन्हें सर्दी के लक्षण हैं। उनसे हाथ मिलाने से भी बचना चाहिए। 

हाथ में साबुन लगाकर कम से कम 20 सेकंड उन्हें पानी में धोएं। खांसी होने पर अपने मुंह और नाक को ढक लें और टिशू पेपर का इस्तेमाल करें। उन जगहों या वस्तुओं को कीटाणुरहित करें जिन्हें आप छूते हैं।

क्या इसे जानबूझकर फैलाया गया?
कई वायरस समय के साथ बदलते रहते हैं। कभी-कभी कोई बीमारी का प्रकोप तब बढ़ता है जब सुअर, बल्ली या पक्षियों में मौजूद रहने वाले वायरस मनुष्यों में प्रवेश कर इसे फैलाया। 

क्या मास्क आपकी रक्षा कर सकता है?
एन95 टाइप के कुछ मास्क आपकी रक्षा कर पाएंगे। मुंह या नाक को ढ़कने के लिए यदि आप दुपट्टे या रूमाल को मास्क जैसे इस्तेमाल कर रहे हैं, तो ये बीमारी को नहीं रोक पाएंगे। वास्तव में हर समय नाक और मुंह पर मास्क चढ़ाए रखने से संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ जाती है। 

क्या यह महामारी एक महीने तक जारी रहेगी?
फिलहाल यह नहीं कहा जा सकता है, लेकिन जैसा कि चीन जहां इस वायरस की उत्पत्ति हुई, उसे देखते हुए लगता है कि इस संक्रमण को खत्म करने के लिए हमें कम से कम एक महीने का वक्त लगेगा। अन्य वायरल संक्रमणों की तुलना में कोरोना वायरस के मामले में मृत्यु दर बहुत कम है। घबराने के बदले सामान्य सुरक्षात्मक उपाय करने चाहिए। 

Web Title: Coronavirus or covid-19 myths and facts : myths about coronavirus viral on social media and their facts
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे