Highlightsकोरोना के मरीजों में किडनियों की समस्याएं देखने को मिलीपेशाब को देर तक रोकने से किडनियों पर गहरा असरकिडनियों को स्वस्थ रखने के उपाय समझें

कोरोना वायरस का संक्रमण शरीर के भीतरी अंगों को भी नुकसान पहुंचा रहा है. कई रिसर्च में दावा किया गया है कि कोविड-19 के मरीजों में किडनियों के नुकसान होने की समस्या देखी गई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि कोरोना सीधे रूप से किडनियों को प्रभावित करता है। यह उन्हें डैमेज कर सकता है। इतना ही नहीं, यह वायरस किडनी के मरीजों के उपचार को जटिल बनाने के साथ-साथ उनके जीवित रहने की संभावना को कम कर रहा है।

मार्च में जर्नल सेल में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि कोरोना वायरस एसीई-2 नामक कोशिकाओं पर एक प्रकार के रिसेप्टर से बंधकर शरीर में घुसता है। ये विशेष रिसेप्टर्स न केवल हृदय और फेफड़ों में कोशिकाओं में पाए जाते हैं, बल्कि किडनियों में भी पाए जाते हैं। यही वजह है कि एक्सपर्ट्स कोरोना संकट में किडनियों को स्वस्थ रखने पर जोर दे रहे हैं।

किडनियों को स्वस्थ रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है. अक्सर देखा गया है कि लोग पेशाब करते समय कई गलतियां करते हैं जिससे कई स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा हो सकता है। कई रिसर्च भी इस बात को मानती हैं कि शौच से जुड़े नियमों का सही तरह पालन नहीं करने से यूटीआई, किडनी, ब्लैडर से जुडी कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। हम आपको बता रहे हैं कि इस संकट में आपको किन-किन गलतियों से बचना चाहिए। 

गंदे शौचालय का इस्तेमाल
किसी भी सूरत में आपको गंदे शौचालय का इस्तेमाल करने से बचन चाहिए। इससे यूरीन इंफेक्शन होने का खतरा बना रहता है। अगर फिर भी किसी कारण वश सार्वजनिक टॉयलेट का इस्तेमाल करना ही पड़े तो उसकी सीट पर पानी डालें। शौच के बाद भी टॉयलेट में पानी डालना न भूलें।

देर तक पेशाब रोकना
अक्सर देखा गया है कि बहुत से लोग कई-कई घंटे तक शौच करने नहीं जाते हैं। जब पेशाब पेशाब लगता है, तो वह काम में बिजी होने के कारण पेशाब को काफी देर तक रोकते हैं। लंबे समय तक ऐसा करने से पित्ताशय में कैंसर होने का खतरा हो सकता है। पेशाब को ज्यादा देर तक रोकने से इसका बुरा असर किडनी पर पड़ता है। लगातार ऐसा करते रहने से आपकी किडनी खराब भी हो सकती है।

पेशाब के झाग की अनदेखी
पेशाब करते समय अगर आपको लगता है कि नार्मल से अधिक झाग बन रहा है और ऐसा लगातार हो रहा है, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। पेशाब में झाग आना कई तरह कि परेशानियों का सूचक हो सकता है जैसे किडनी खराब होना या यूटीआई।

पेशाब का रंग पीला होना
कभी अगर आपको लगे कि आपके पेशाब का रंग नॉर्मल नहीं है बल्कि पीला या फिर पेशाब गाढ़ा हो रहा है और ये लगातार हो रहा है तो डॉक्टर से अवश्य सलाह लें। हो सकता है कि ये आपको किसी बीमारी की सूचना दे रहा हो।

पेशाब से बदबू आना 
अगर लगातार आपके पेशाब से बहुत अधिक बदबू आ रहा हो तो भी आपको डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिए और समय रहते इलाज भी करा लेनी चाहिए। ताकि आप किसी बड़ी परेशानी से खुद को बचाए रख सकें।

English summary :
A study published in the journal Cell in March showed that the corona virus penetrates into the body by binding to a type of receptor on cells called ACE-2. These special receptors are not only found in cells in the heart and lungs, but also in the kidneys. This is the reason why experts are insisting on keeping the kidneys healthy in the Corona crisis.


Web Title: Coronavirus and kidney health: 5 mistakes during urine that can cause of kidney damage, uti, kidney stones and others kidneys diseases
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे