Chhath Puja 2018: health benefits of fasting and worshipping surya bhagwan for diabetes, strengthens bones | डायबिटीज से बचने, दिमाग तेज करने, मजबूत हड्डियों के लिए छठ पूजा पर जरूर करें ये एक काम
फोटो- पिक्साबे

उत्तर भारत के बिहार राज्य का प्रसिद्ध त्यौहार छठ पूजा इस बार 13 और 14 नवंबर को मनाया जाएगा। 11 नवंबर से नहाय खाय से इस पर्व का शुभारम्भ हो जाएगा। हिन्दू कैलेंडर के अनुसार यह त्यौहार हर साल कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को ही मनाया जाता है। इस पर्व में सूर्य देवता और छठी मैया की पूजा की जाती है। छठी मैया को षष्ठी देवी भी कहा जाता है। छठ पूजा के पहले दिन को नहाय खाय के नाम से जाना जाता है। दूसरे और तीसरे दिन पूरे दिन निर्जला उपवास किया जाता है। तीसरे दिन की शाम और उससे अगली सुबह पवित्र नदी में खड़े होकर सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है।

पौराणिक वर्णन के अनुसार भगवान राम और माता सीता ने ही पहली बार 'छठी माई' की पूजा की थी। इसी के बाद से छठ पर्व मनाया जाने लगा। कहा जाता है कि लंका पर जीत हासिल करने के बाद जब राम और सीता वापिस अयोध्या लौट रहे थे तब उन्होंने कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को छठी माता की पूजा की थी। इसमें उन्होंने सूर्य देव की पूजा भी की थी। तब से ही यह व्रत लोगों के बीच इतना प्रचलित है। छठ के उपवास से आपको कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। 

1) ब्लड सुगर लेवल में होता है सुधार
छठ का उपवास रखने से ब्लड सुगर लेवल में सुधार होता है। लंबी अवधि के लिए उपवास करने से इंसुलिन स्राव में सुधार होता है जिससे शरीर को रक्त में ग्लूकोज को अवशोषित करने में मदद मिलती है। कई अध्ययनों ने पाया गया है कि उपवास से डायबिटीज के इलाज में मदद मिलती है।  

2) इम्युनिटी सिस्टम बनता है मजबूत
उपवास रखने से आपका इम्युनिटी सिस्टम मजबूत बनता है। यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ कैलिफोर्निया लियोनार्ड डेविस स्कूल ऑफ गेरोनोलॉजी के एक अध्ययन के मुताबिक, तीन दिन  उपवास से रोजाना 200 कैलोरी बर्न होती है, जो सेलुलर लेवल पर इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है।

3) मस्तिष्क कार्यों में होता है सुधार
उपवास रखने से सोचने-समझने की शक्ति में सुधार होता है। एक्सपेरिमेंटल बायोलॉजी एंड मेडिसिन में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, उपवास से मेमोरी लॉस और अल्जाइमर रोग के खिलाफ सुरक्षा में मदद मिलती है। 

4) विटामिन डी सेवन में होता है सुधार 
छठ पूजा के दौरान सूर्य के संपर्क में आने से विटामिन डी उत्पादन उत्तेजित होता है, जो कैंसर, डायबिटीज, मल्टीपल स्क्लेरोसिस और कार्डियोवैस्कुलर विकार जैसी बीमारियों से बचने में मदद मिलती है।

5) हड्डियां बनती हैं मजबूत
कैल्शियम के अवशोषण के लिए विटामिन डी भी महत्वपूर्ण है, जिससे आपको मजबूत हड्डियां और दांत मिलते हैं। सुबह के समय सूर्य की किरणों के पर्याप्त संपर्क में आने से ओस्टियोपोरोसिस जैसी हड्डी की समस्याओं को भी रोका जा सकता है।


Web Title: Chhath Puja 2018: health benefits of fasting and worshipping surya bhagwan for diabetes, strengthens bones
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे